14 to 16 July 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 14th to 16th July 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. भारत में मंकीपॉक्स का पहला केस किस राज्य में पाया गया?

a. उत्तर प्रदेश
b. पंजाब
c. केरल
d. बिहार

Answer: c. केरल

– केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने 14 जुलाई 2022 को इसकी जानकारी सार्वजनिक की।
– संक्रमित मरीज यूएई से केरल पहुंचा था।
– मंकीपॉक्स का पहला केस केरल के कोल्लम जिले में पाया गया है।

मंकीपॉक्स क्‍या है?
– मंकीपॉक्स एक दुर्लभ जूनोटिक (जानवरों से मनुष्यों में फैलने वाली) वायरल बीमारी है।
– यह बीमारी स्मालपॉक्स (चेचक) के समान वायरस वाली फैमिली में आती है।

मंकीपॉक्स नाम क्यों पड़ा?
– मंकीपॉक्स पहली बार 1958 में जानवरों में खोजा गया था।
– उसे वक्‍त रिसर्च के लिए रखे गए बंदरों में इस बीमारी के दो प्रकोप हुए थे।
– इसीलिए इस बीमारी का नाम मंकीपॉक्स पड़ गया।

इंसानों में पहली बार यह बीमारी कब आई?
– वर्ष 1970 में।
– उस वक्‍त पहली बार इंसानों में मंकीपॉक्स अफ्रीकी देश ‘डेमोक्रैटिक रिपब्लिक ऑफ द कांगो (DRC)’ में पाया गया था।
– तब से मंकीपॉक्स के मामले वेस्टर्न और सेन्ट्रल अफ्रीका में पाए जा रहे है।
– DRC में तो मंकीपॉक्स को स्थानिक महामारी माना जाता है।

मंकीपॉक्स कैसे फैलता है?
– इसका ट्रांसमिशन जानवरों से मनुष्यों में होता है।
– यह संक्रमित जानवरों के रक्त, तरल पदार्थ, या त्वचा या घावों के सीधे संपर्क के माध्यम से हो सकता है।
– संक्रमित जानवर का अधपका मांस या एनिमल प्रोडक्ट को खाने से मंकीपॉक्स हो सकता है।

किन जानवरों से हो सकता है मंकीपॉक्स?
– अफ्रीका में कई जानवरों की प्रजातियों में मंकीपॉक्स के साक्ष्य पाए गए हैं।
– इनमें गिलहरी, गैम्बियन शिकार चूहे, डॉर्मिस और बंदरों की विभिन्न प्रजातियां शामिल हैं।

मंकीपॉक्स के लक्षण
– मंकीपॉक्स और स्मालपॉक्स (चेचक) में लक्षण काफी हद तक समान होते है।
– बस एक अंतर है कि मंकीपॉक्स में लिम्फ नोड्स (शरीर में गांठ जिसमें लिम्फ बहता है) फूल जाते है।
– इसके अलावा बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियो में दर्द, पीठ में दर्द और थकान भी मुख्य लक्षण है।
– चेहरे पर दाने और फुंसी हो जाती और फिर पूरे शरीर पर फैल जाते है।

मंकीपॉक्स का इलाज
– मंकीपॉक्स के लिए वर्तमान में कोई विशिष्ट उपचार नहीं है।
– हालांकि, कई रिसर्च से पता चला है कि चेचक के खिलाफ इस्तेमाल की जाने वाली वैक्सीनिया वैक्सीन मंकीपॉक्स की रोकथाम में 85% असरदार रही है।
– जबकि मूल चेचक का टीका (वैक्सीनिया) अब बड़े पैमाने पर बीमारी के खत्म हो जाने के बाद से उपलब्ध नहीं है।
– वर्ष 2019 में मंकीपॉक्स की रोकथाम के लिए वैक्सीन के एक नए वर्जन को मंजूरी दी गई थी।

दुनिया में मंकीपॉक्स के मामले सबसे पहले कहां पाए गए?
– अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका और यूरोप में सबसे पहले मंकीपॉक्स के मामले पाए गए।
– मई 2022 के शुरुआत में इसका संक्रमण ब्रिटेन में पाया गया।
– यह संक्रमण अफ्रीकी देश नाइजीरिया से आए व्यक्ति के जरिए ब्रिटेन पहुंचा।
– इसके कुछ हफ्ते बाद मंकीपॉक्स का संक्रमण कई यूरोपीय देशों और उत्तरी अमेरिकी देशों में सामने आया।

भारत ने तैयारी शुरू की
– भारत सरकार ने इंटरनेशनल एंट्री प्‍वाइंट्स (एयरपोर्ट और पोर्ट) पर मंकीपॉक्स को लेकर निगरानी बढा दी है।
– नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) को ऐसे मामलों के सैंपल की जांच के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

मंकीपॉक्स बीमारी का संक्रमण किस तरह के यौन संबंध रखने वाले पुरुषों में सबसे ज्यादा मिला?
– मंकीपॉक्स पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने के दौरान WHO की असिस्टेंट डायरेक्टर जनरल डॉक्टर सोस फॉल ने “हम पुरुषों के साथ यौन संबंध रखने वाले पुरुषों में इंफेक्‍शन देख रहे हैं।”
– खासतौर पर यूनाइटेड किंगडम और कुछ अन्‍य देशों में इसके बहुत सारे मामले देखे गए हैं।
– WHO के अनुसार मंकीपॉक्स किसी भी प्रकार के क्लोज कॉन्टैक्ट से फैल सकता है।
– इसमें किसी संक्रामक व्यक्ति के साथ चुंबन, स्पर्श, ओरल और एनल सेक्स शामिल है।
– WHO ने मंकीपॉक्स से संक्रमित लोगों को ठीक होने के बाद 12 सप्ताह तक कंडोम का उपयोग करने की सलाह दी है।
– कई सारे यौन संबंध रखने वाले लोगों को चेतावनी है कि अगर वह मंकीपॉक्स से बचना चाहते है, तो उन्हें अपने सेक्शूअल पार्टनर की संख्या कम करनी होगी।
– समलैंगिक सेक्स करने वाले लोगों में मंकीपॉक्स का खतरा सबसे ज्यादा है।

मंकीपॉक्स के पिछले वर्षों के मामले
– 2003 में, मंकीपॉक्स के पहले मानव मामले अफ्रीका के बाहर रिपोर्ट किए गए थे।
– जब अमेरिका में 47 केसों की पुष्टि हुई थी।
– वर्ष 2017 में नाइजीरिया में मंकीपॉक्स के 170 से अधिक संदिग्ध मामले पाए गये थे।
– वर्ष 2018 में ब्रिटेन में भी मंकीपॉक्स के तीन केसेज पाए गए थे।
– वर्ष 2019 में इजरायल और सिंगापुर में भी मंकीपॉक्स का एक केस पाया गया था।
– वर्ष 2021 में अमेरिका में भी मंकीपॉक्स के दो केस पाए गए थे।

——–
2. पीएम मोदी ने नए संसद भवन की छत पर 9500 किलोग्राम के अशोक स्तंभ का अनावरण किया, यह राष्‍ट्रीय चिह्न किस धातु से बना है?

a. स्वर्ण
b. लोहा
c. कांस्य
d. टिन

Answer: c. कांस्य

– पीएम मोदी ने इसका अनावरण 11 जुलाई 2022 को किया। यह अशोक स्तंभ कांस्य धातु से बना है।
– वजन 9500 किलोग्राम है। ऊंचाई 6.5 मीटर है।
– इसे नए संसद भवन के केंद्रीय कक्ष के ऊपर पर स्‍थापित किया गया है।
– हालांकि इसके शेरों की मुंह आकृति आक्रामक होने को लेकर विवाद हुआ।

अशोक स्तंभ की ऐतिहासिकता
– दरअसल, करीब सवा दो हजार साल पहले भारत में मौर्य वंश के सम्राट अशोक का शासन था।
– कलिंग युद्ध में हुए नरसंहार ने उन्हें पूरी तरह से बदल दिया। वह हिंसा को छोड़कर अहिंसा के रास्‍ते पर चल पड़े।
– उन्होंने बौद्ध धर्म अपना लिया।
– यहीं से अशोक स्तंभ बनने की शुरुआत होती है।
– सम्राट अशोक बौद्ध धर्म का प्रचार किया। उन्होंने 84,000 स्तूपों का निर्माण करवाया था।
– जिनमें सारनाथ का अशोक स्तंभ भी शामिल है।
– यही अशोक स्तंभ आजादी के बाद भारत के राष्ट्रीय प्रतीक के रूप में अपनाया गया है।
– भारत के राष्ट्रीय प्रतीक को 26 जनवरी 1950 को अपनाया गया था, उसी दिन देश का संविधान लागू हुआ था।

———-
3. इसरो ने सेटेलाइट की रक्षा करने वाले सिस्टम IS4OM की स्‍थापना कहां की?

a. नई दिल्ली
b. बेंगलुरु
c. मुंबई
d. पटना

Answer: b. बेंगलुरु

– IS4OM का पूरा नाम : इसरो सिस्टम फॉर सेफ एंड सस्टेनेबल ऑपरेशन.
– इसे बेंगलुरु में इसरो नियंत्रण केंद्र पर स्‍थापित किया गया है।
– इसका उद्घाटन केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने 11 जुलाई 2022 को किया।

क्‍यों जरूरी है IS4OM
– इस प्लेटफॉर्म से इसरो अपने उपग्रहों की रक्षा स्वयं करेगा।
– अंतरिक्ष में इस वक्त 3 हजार से ज्यादा उपग्रह अंतरिक्ष में परिक्रमा कर रहे हैं, इनमें से 53 उपग्रह भारतीय हैं
– इनके अलावा औसतन 27 हजार किमी प्रति घंटे रफ्तार से हजारों निष्क्रिय उपग्रहों, रॉकेटों व अन्य उपकरणों का मलबा भी वहां टुकड़ों में तैर रहा है।
– इन मलबे की गति इतनी ज्यादा तेज होती हैं कि किसी भी सैटेलाइट को तबाह कर सकते हैं।
– अंतरिक्ष का यह मलबा हर स्पेस कनेक्टेड देश के लिए खतरा बना हुआ है।
– इसरो का यह IS4OM इसी बात को सुनिश्चित करेगा कि भविष्य में इन मलबों से किसी मिशन को कोई खतरा न हो।
– IS4OM में मल्टी ऑब्जेक्ट ट्रैकिंग रडार, रडार ऑब्जर्वेशन नेटवर्क, कंट्रोल सेंटर और ऑप्टिकल ऑब्जर्वेशन नेटवर्क मौजूद हैं।
– इसका लक्ष्य होगा किसी भी एस्टेरॉयड या कॉमेट का पता लगाकर या तो उससे बचा जाए या फिर उसे खत्म किया जाए।
– ये सेंटर सबसे पहले इन्हें डिटेक्ट कर ट्रैक करेगा, करेक्टराइस कर उसके रिस्क को परखेगा और फिर उस मलबे को खत्म करेगा।

स्पेस डेबरिस (अंतरिक्ष का कचरा) क्या होता है?
– स्पेस में सैटेलाइट्स, स्पेसक्राफ्ट्स और रॉकेट काफी लंबे समय तक रहते है, जब इनका समय पूरा होता है तो इनको अंतरिक्ष में छोड़ दिया जाता है या फिर नष्ट किया जाता है।
– अंतरिक्ष में इन्ही सैटेलाइट्स, स्पेसक्राफ्ट्स और रॉकेट के बचे हुए हिस्से या टुकड़ों को स्पेस डेबरिस कहा जाता है।

स्पेस डेबरिस से क्या खतरा?
– ऑरबिट में सेटेलाइट को खतरा।
– स्पेस डेबरी, सेटेलाइट से टकरा को हिट या डेमैज कर सकता है।
– प्रदूषण के कारण स्पेस डेबरिस संभावित रूप से ऑरबिट के अनुपयोगी क्षेत्रों का निर्माण कर सकते हैं।

अंतरिक्ष में कितना कचरा
– अप्रैल 2022 में नासा ऑरबिटल डेबरिस क्वार्टरली न्यूज जारी की।
– इसके अनुसार अंतरिक्ष में कुल 17,011 टुकड़े कचरे के रूप में तैर रहे हैं।
– इसका आकार 10 सेटीमीटर से बड़ा है।
– इन टुकड़ो में से भारत के 114 ऑबजेक्ट्स हैं।
– इसके अलावा स्पेस में भारत के 103 स्पेसक्राफ्ट है।

अप्रैल में महाराष्‍ट्र में गिरा अंतरिक्ष कचरा
– महाराष्‍ट्र के चंद्रपुर में 2 अप्रैल की शाम को अंतरिक्ष कचरा गिरा।
– यह चीन के रॉकेट ‘लॉंग मार्च’ का टुकड़ा था।

इसरो
चेयरमैन : एस सोमनाथ
स्‍थापना : 1963

————–
4. ‘वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022’ में 94वें वर्ष की किस भारतीय वृद्ध महिला एथलीट ने गोल्ड मेडल जीता?

a. मान कौर
b. अजीत सिंह
c. भगवानी देवी
d. रामबाई

Answer: c. भगवानी देवी

– भगवानी देवी ने वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 में 100 मीटर रेस में गोल्ड मेडल जीता।
– उन्होंने 100 मीटर की रेस को 24.74 सेकण्ड्स में पूरा किया।
– उन्होंने गोल्ड के अलावा दो ब्रॉन्ज मेडल भी जीते।
– पहला ब्रॉन्ज उन्होंने शॉटपुट में जीता और दूसरा डिस्कस थ्रो में जीता।
– भगवानी देवी हरियाणा की रहने वाली हैं।
– वर्ल्ड मास्टर्स एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 टेम्पेरे, फिनलैंड में 29 जून-10 जुलाई 2022 के बीच आयोजित हुई।

—————
5. किस राज्‍य में भारत के सबसे ज्‍यादा उम्र के बाघों में से एक “राजा” का निधन हो गया?

a. उत्तर प्रदेश
b. पश्चिम बंगाल
c. कर्नाटक
d. केरल

Answer: b. पश्चिम बंगाल

– इस बाघ की उम्र 25 वर्ष 10 महीने थी।
– नाम “राजा” था। उसका निधन पश्चिम बंगाल के अलीपुरद्वार जिले के जलदापारा जंगल में 10 जुलाई 2022 को हो गया।
– ‘राजा’ का निधन वृद्धावस्था से संबंधित समस्याओं के कारण हुआ।
– बाघ की औसत आयु 15 वर्ष होती है, हालांकि चिडि़याघर या रेस्‍क्‍यू सेंटर में उम्र 25 तक हो सकती है।

मगरमच्छ ने किया था ‘राजा’ पर खतरनाक हमला
– ‘राजा’ को 2008 से साउथ खैरबारी टाइगर रेस्क्यू सेंटर, पश्चिम बंगाल लाया गया था।
– सुंदरबन में एक नाले में तैरते समय ‘राजा’ पर मगरमच्छ ने हमले कर दिया था, जिसमें उसकी एक टांग कट गई थी।
– इसके बाद ‘राजा’ को कृत्रिम टांग लगाई गई थी।
– इसका वजन 140 किलोग्राम और लंबाई 2.6 मीटर था।

————
6. देवघर (झारखंड) में स्थित ‘देवघर एयरपोर्ट’ का उद्घाटन जुलाई 2022 में किसने किया?

a. नरेंद्र मोदी
b. अमित शाह
c. राजनाथ सिंह
d. ज्योतिरादित्य सिंधिया

Answer: a. नरेंद्र मोदी

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 जुलाई 2022 देवघर, झारखंड में एयरपोर्ट का उद्घाटन किया।
– यह एयरपोर्ट 657 एकड़ में बना है।
– इस एयरपोर्ट की लागत 401 करोड़ है।
– एयरपोर्ट पर 2,500 मीटर लंबा रनवे है।
– पीएम मोदी ने 25 मई 2018 में इस एयरपोर्ट की आधारशिला रखी थी।
– एयरपोर्ट को झारखंड राज्य सरकार और केन्द्र सरकार द्वारा निर्मित किया गया है।

झारखंड
सीएम : हेमंत सोरेन
राजधानी : रांची
उप-राजधानी: दुमका
राज्‍यपाल : रमेश बेस

———–
7. ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स 2022 में लैंगिक समानता के मामले में भारत कितनी रैंक रही?

a. 130
b. 135
c. 145
d. 160

Answer: b. 135

– इस रिपोर्ट को वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम (WEF) ने जारी किया।
– यह रिपोर्ट बताती है कि देशों में अलग-अलग क्षेत्रों में पुरुषों और स्त्रियों के बीच समानता की स्थिति कैसी है।
– वर्ष 2022 के इंडेक्स में 146 देशों की स्थिति का आंकलन है।
– इस इंडेक्स में भारत की लैंगिक समानता के मामले में 135 वीं रैंक रही।
– भारत की रैंक में पांच अंको का सुधार हुआ, पिछले वर्ष 2021 (156 देशों की रैंकिंग) के इंडेक्स में भारत की 140 वीं रैंक थी।

ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स 2022 में टॉप-10 देश
1. आइसलैंड
2. फिनलैंड
3. नॉर्वे
4. न्यूजीलैंड
5. स्वीडन
6. रवांडा
7. निकारागुआ
8. नामीबिया
9. आयरलैंड
10. जर्मनी

पड़ोसी देशों का हाल-
– बांग्लादेश : 71
– नेपाल : 96
– श्रीलंका : 110
– भूटान : 126
– पाकिस्तान : 145
– अफगानिस्तान : 146

कैसे तय होता है ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स?
– इस इंडेक्स को 4 सब-इंडेक्स के आधार पर बनाया जाता है।
1. राजनीतिक सशक्तिकरण ( Political Empowerment)
2. शैक्षणिक स्थिति (Educational Attainment)
3. आर्थिक भागीदारी और अवसर (Economic Participation and Opportunity)
4. स्वास्थ्य एवं जीवित रहने की स्थिति ( Health and Survival)
– इनमें महिला-पुरुषों की प्रगति और अंतर पर स्टडी की जाती है।

सब-इंडेक्स में भारत का स्थिति

राजनीतिक सशक्तिकरण
– इसमें संसद में महिलाओं का प्रतिशत, मंत्री पदों पर महिलाओं का प्रतिशत आदि जैसे मीट्रिक शामिल होते हैं।
– इसमें 146 देशों में भारत का स्थान 48 वां है।
– सभी चार सब-इंडेक्‍स में से राजनीतिक सशक्तिकरण में भारत बेहतर स्थिति में।

आर्थिक भागीदारी और अवसर
– इस सब-इंडेक्स में लेबर फोर्स में महिलाओं की भागीदारी, कार्य में समान वेतन और इनकम शामिल होता है।
– इसमें भारत 146 देशों में से 143वें स्थान पर है।
– पिछले वर्ष 2021 में, 156 देशों में से भारत 151 वें स्थान पर था।
– भारत का स्कोर ग्लोबल एवरेज से काफी कम है और इसमें भारत से केवल ईरान, पाकिस्तान और अफगानिस्तान ही पीछे हैं।

शैक्षणिक स्थिति
– इस सब-इंडेक्स में लिटरेसी रेट और प्राइमरी, सेकेंडरी और हायर एजुकेशन में इनरोलमेंट रेट जैसे मीट्रिक शामिल होते हैं।
– यहां 107वें स्थान पर है। हालांकि पिछली रिपोर्ट से इसका स्कोर थोड़ा खराब हुआ है।
– वर्ष 2021 में भारत 156 में से 114 वें स्थान पर था।

स्वास्थ्य एवं जीवित रहने की स्थिति
– इस सब-इंडेक्स में जन्म के समय लिंगानुपात (प्रतिशत में) और स्वस्थ जीवन प्रत्याशा (वर्षों में) शामिल होते हैं।
– इसमें भारत सभी देशों में अंतिम,146 वें स्थान पर है।
– इस इंडेक्स में भारत का स्कोर नहीं सुधरा है, पिछले वर्ष 2021 भारत 156 देशों में से 155 वें स्थान पर था।

कुछ मुख्य बातें
– 146 देशों के इंडेक्स में केवल 11 देश भारत से नीचे हैं। इनमें अफगानिस्तान, पाकिस्तान, कांगो, ईरान और चाड सबसे खराब-पांच देश हैं।
– इस रिपोर्ट के अनुसार भारत के जेंडर गैप स्कोर ने पिछले 16 वर्षों में अपना सातवां उच्चतम स्तर दर्ज किया है।
– लेकिन यह विभिन्न मापदंडों पर सबसे खराब प्रदर्शन करने वालों में से एक है।
– लगभग 66.2 मिलियन की महिला आबादी के साथ, भारत की उपलब्धि का स्तर क्षेत्रीय रैंकिंग पर भारी पड़ता है।

————
8. I2U2 की पहली लीडर्स समिट की मेजबानी किस देश ने की?

a. भारत
b. यूएई
c. इजरायल
d. अमेरिका

Answer: d. अमेरिका

I2U2 (इंडिया, इजरायल, यूएई, यूएस)

– यह समिट 14 जुलाई 2022 को वर्चुअल मोड में आयोजित हुई।
– इस समिट की मेजबानी अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने की।

समिट में किसने हिस्सा लिया?
– भारत : पीएम मोदी
– इजरायल : पीएम यायर लैपिड
– यूएई : राष्ट्रपति मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान
– अमेरिका : जो बाइडेन

समिट की मुख्य हाइलाइट्स
– इजरायल, बहरीन और यूएई के बीच शांति बनाए रखने वाले इब्राहीम एकॉर्ड्स का समर्थन किया गया।
– इसके अलावा इजराइल के साथ अन्य शांति और सामान्यीकरण व्यवस्था के लिए समर्थन किया गया।
– मिडिल ईस्ट और साउथ एशिया में आर्थिक सहयोग बढ़ाना।
– मिडिल ईस्ट देशों में इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर करना, लॉ कार्बन को बढ़ावा देना और पब्लिक हेल्थ सिस्टम को बेहतर करना।
– निवेश को बढ़ावा देना।
– जल, ऊर्जा, ट्रांसपोर्टेशन, स्पेस, हेल्थ और फूड सिक्योरिटी को बेहतर करना।

I2U2
– इस ग्रुप को अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बनाया है।
– इस समूह में I2 इंडिया और इजराइल के लिए, जबकि U2 अमेरिका और UAE के लिए इस्तेमाल किया गया है।

क्या I2U2 वेस्टर्न एशिया का Quad है, केसे बना यह संगठन?
– इस संगठन की बुनियाद अक्टूबर 2021 में पड़ी।
– उस वक्‍त भारत-इजराइल-अमेरिका-UAE के बीच समुद्री सुरक्षा, बुनियादी ढांचे, डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर और परिवहन जैसे अहम मुद्दों पर चर्चा हुई थी।
– उस दौरान इस ग्रुप को ‘इंटरनेशनल फोरम फॉर इकोनॉमिक कोऑपरेशन’ नाम दिया गया था।
– लेकिन जून 2022 में इस ग्रुप का नाम I2U2 कर दिया गया है।
– इसे वेस्टर्न एशिया का क्‍वाड भी कहा जा रहा है।
– इस ग्रुप को मुख्य तौर से चीन को आर्थिक और राजनीतिक रूप से काउंटर करने के लिए बनाया गया है।

अमेरिका द्वारा लॉन्च किए गए अंतरराष्ट्रीय समूह/पहल
– अमेरिका ने जनवरी 2021 से क्वाड (भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया)
– AUKUS (ऑस्ट्रेलिया, यूके और यूएस)
– I2U2 (इंडिया,इजरायल, यूएई, यूएस)
– अफगानिस्तान, पाकिस्तान और उज्बेकिस्तान के साथ एक चतुर्भुज वार्ता सहित कई बहुपक्षीय पहलों को लॉन्च और अपग्रेड किया है।

————
9. I2U2 समिट में किस देश ने भारत में फूड पार्कों को विकसित करने के लिए दो बिलियन डॉलर के निवेश की घोषणा की?

a. यूएई
b. इजरायल
c. अमेरिका
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. यूएई

– यूएई ने समिट में चार देशों के समूह I2U2 के प्रयासों के तहत भारत भर में फूड पार्कों की एक श्रृंखला विकसित करने के लिए दो बिलियन यूएस डॉलर के निवेश की घोषणा की।
– इस निवेश का लक्ष्य साउथ एशिया और मिडिल ईस्ट में खाद्य असुरक्षा से निपटने में मदद करना है।
– इसके लिए भारत उपयुक्त भूमि उपलब्ध कराएगा।
– इसके अलावा किसानों के फूड पार्कों में एकीकरण की सुविधा प्रदान करेगा।
– फूड पार्कों के इस प्रोजेक्ट में मदद करने के लिए अमेरिका और इजरायल के प्राइवेट सेक्टरों को आमंत्रित किया जायेगा।

गुजरात के नवीकरणीय ऊर्जा परियोजना में भी मदद करेगा I2U2
– I2U2 समूह गुजरात में एक हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा परियोजना को भी आगे बढ़ाएगा।

————-
10. श्रीलंका के कार्यवाहक राष्ट्रपति कौन बने?

a. रानिल विक्रमसिंघे
b. निमल लांजा
c. सनथ निशांत
d. चमल राजपक्षे

Answer: a. रानिल विक्रमसिंघे

– श्रीलंका में चल रहे बवाल के बीच देश के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे देश छोड़कर भाग गए। 13 जुलाई 2022 को मालदीव गए और उसके बाद सिगापुर।
– उन्होंने देश छोड़ने से पहले, प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे को देश का कार्यवाहक राष्ट्रपति नियुक्त किया।
– इसके बाद में 15 जुलाई को रानिल विक्रम सिंघे ने इस पद के लिए शपथ ली।
– विक्रमसिंघे तब तक पद पर रहेंगे जब तक कि किसी नेता का चुनाव नहीं हो जाता है।

—————-
11. अंडर 20 एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप 2022 में भारत ने कितने गोल्ड मेडल जीते?

a. छह
b. पांच
c. चार
d. तीन

Answer: c. चार

– यह चैंपियनशिप 02 से 10 जुलाई 2022 के बीच मनामा, बहरीन में आयोजित हुई।
– इस चैंपियनशिप में भारत ने चार गोल्ड, नौ सिल्वर और नौ ब्रॉन्ज मेडल जीते।

गोल्ड
– सुजीत (65 किग्रा)
– अंतिम (53 किग्रा)
– प्रियंका (65 किग्रा)
– ऐनअरजू (68 किग्रा)

सिल्वर
– स्वीटी (50 किग्रा)
– रीना (55 किग्रा)
– बिपाशा (72 किग्रा)
– प्रिया (76 किग्रा)
– मुलायम यादव (70 किग्रा)
– आशीष (97 किग्रा)
– मोहित कुमार (61 किग्रा)
– जयदीप (74 किग्रा)
– महेंद्रन गायकवाड़ (125 किग्रा)

ब्रॉन्ज
– सीतो (57 किग्रा),
– तनु (59 किग्रा),
– सारिका (62 किग्रा),
– अमन (57 किग्रा),
– दीपक (79 किग्रा),
– संयुक्त कुमार (86 किग्रा),
– आकाश (92 किग्रा),
– रोहित दहिया (82 किग्रा),
– अंकित गुलिया (67 किग्रा)

——————-
12. अंडर 15 एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप 2022 में भारत ने कितने गोल्ड मेडल जीते?

a. 13
b. 12
c. 11
d. 10

Answer: b. 12

– यह चैंपियनशिप भी 02 से 10 जुलाई 2022 के बीच मनामा, बहरीन में आयोजित हुई।
– इस चैंपियनशिप में भारत ने 12 गोल्ड, सात सिल्वर और पांच ब्रॉन्ज मेडल जीते।

गोल्ड
– ईश्वर (44 किग्रा)
– अंकुश (57 किग्रा)
– तनिष्क प्रवीण कदम (62 किग्रा)
– विवेक (75 किग्रा)
– सचिन कुमार (68 किग्रा)
– अभय (75 किग्रा)
– तनिशा (33 किग्रा)
– दीपांशी (39 किग्रा)
– एकता कुमारी (46 किग्रा)
– रजनीता (50 किग्रा)
– नेहा (54 किग्रा)
– काजल (66 किग्रा)

सिल्वर
– रोनक नागर (58 किग्रा)
– मोनिका (42 किग्रा)
– श्रावणी महादेव लवहते (36 किग्रा)
– वरुण कुमार (62 किग्रा)
– प्रणय राजू चौधरी (52 किग्रा)
– सलीम (52 किग्रा)
– बादल चौधरी (85 किग्रा)

ब्रॉन्ज
– निशांत रूहिल (68 किग्रा)
– वरुण सोनकर (38 किग्रा)
– आदित्य कुमार गौरव (48 किग्रा)
– तुषार पाटिल (57 किग्रा)
– हरदीप (85 किग्रा)

————–
13. क्रिकेट में लगातार 13 टी20 मैच जीतने वाले पहले कप्तान कौन बने?

a. विराट कोहली
b. रोहित शर्मा
c. बेन स्टोक्स
d. निकोलस पूरन

Answer: b. रोहित शर्मा

– भारत के कप्तान रोहित शर्मा यह रिकॉर्ड इंग्लैंड के खिलाफ हासिल किया।
– रोहित शर्मा की अगुवाई में टीम इंडिया ने 07 जुलाई 2022 को साउथेम्प्टन में इंग्लैंड के खिलाफ 50 रन से जीत हासिल की।
– इस जीत से वह टी20 इंटरनेशनल में लगातार 13 जीत हासिल करने वाले दुनिया के पहले कप्तान बन गए।
– अफगानिस्तान के पूर्व कप्तान असगर अफगान इस सूची में दूसरे स्थान पर हैं। उन्होंने अपनी कप्‍तानी में लगातार 12 टी20 मैच जीते थे।

कब और किसके खिलाफ 13 मैच जीते-
07 नवंबर 2019: बांग्लादेश के खिलाफ 8 विकेट से जीत
10 नवंबर 2019: बांग्लादेश के खिलाफ 30 रन से जीत
02 फरवरी 2020: न्यूजीलैंड के खिलाफ 7 रन से जीत
17 नवंबर 2021: न्यूजीलैंड के खिलाफ 5 विकेट से जीत
19 नवंबर 2021: न्यूजीलैंड के खिलाफ 7 विकेट से जीत
21 नवंबर 2021: न्यूजीलैंड के खिलाफ 73 रन से जीत
16 फरवरी 2022: वेस्टइंडीज के खिलाफ 6 विकेट से जीत
18 फरवरी 2022: वेस्टइंडीज के खिलाफ 8 रन से जीत
20 फरवरी 2022: वेस्टइंडीज के खिलाफ 17 रन से जीत
24 फरवरी 2022: श्रीलंका के खिलाफ 62 रन से जीत
26 फरवरी 2022: श्रीलंका के खिलाफ 7 विकेट से जीत
27 फरवरी 2022: श्रीलंका के खिलाफ 6 विकेट से जीत
07 जुलाई 2022: इंग्लैंड के खिलाफ 50 रन से जीत

———-
14. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने Project 17A के तहत बने युद्धपोत ‘दूनागिरी’ का जलावतरण (पानी में लॉंच) किस नदी में किया?

a. गंगा
b. हुगली
c. गोदावरी
d. राप्ति

Answer: b. हुगली

– रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 15 जुलाई, 2022 को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में युद्धपोत ‘दूनागिरी’ को लॉन्च किया।
– इस युद्धपोत को कोलकाता की हुगली नदी में लॉन्च किया गया।

दूनागिरी
– इसका पूरा नाम Y-3023 (दूनागिरी) है।
– इसे इंडियन नेवी के Project 17A (P17A) के तहत बनाया गया है।
– यह P17A फ्रिगेट्स का चौथा जहाज है।
– इंडियन नेवी के Project 17A को नीलगिरी श्रेणी (क्लास) भी कहा जाता है।
– इस युद्धपोत का नाम उत्तराखंड राज्य में एक पर्वत श्रृंखला दूनागिरी के नाम पर रखा गया है।
– इस युद्धपोत का निर्माण कोलकाता स्थित गार्डन रिच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स (GRSE) शिपयार्ड ने किया है।
– इसका डिजाइन ‘डाइरेक्टरेट ऑफ नेवल डिजाइन’ (DND) ने किया है।

पुराने दूनागिरी का नया अवतार ‘दूनागिरी’
– जिस दूनागिरी युद्धपोत को लॉन्च किया है, ये नौसेना के ही पुराने दूनागिरी ASW फ्रीगेट का नया अवतार है।
– पुराना फ्रीगेट, 33 वर्ष की सेवाएं देने के बाद वर्ष 2010 में सेवामुक्त हो गया था।
– इसी के नाम पर नए फ्रीगेट का नाम रखा गया है।
– यह नाम इसलिए रखा गया क्योंकि यह भारतीय नौसेना की परंपरा है कि रिटायर (डि-कमीशन) युद्धपोत के नाम पर ही नए युद्धपोत का नाम रखा जाता है।

Project 17A का तीसरा युद्धपोत मई 2022 में हुआ था लॉन्च
– Project 17A का तीसरा युद्धपोत ‘उदयगिरि’ मई 2022 लॉन्च किया गया था।
– इसके अलावा P17A प्रोजेक्ट के पहले दो जहाजों को 2019 और 2020 में लॉन्च किया गया था।

Project 17A के तहत कितने युद्धपोत और बनने हैं?
– इस प्रोजेक्ट के तहत नौसेना के लिए कुल सात नीलगिरी क्लास युद्धपोत बनाए जाने हैं।
– इनमें से चार मुंबई (Mumbai) के मझगांव डॉकयार्ड में तैयार किए जा रहे हैं।
– बाकी तीन कोलकता स्थित गार्डन रिच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स (GRSE) शिपयार्ड में।

————–
15. विश्‍व प्‍लास्टिक सर्जरी दिवस (world plastic surgery day) कब मनाया जाता है?

a. 15 जुलाई
b. 16 जुलाई
c. 17 जुलाई
d. 18 जुलाई

Answer: a. 15 जुलाई

– एसोसिएशन ऑफ प्‍लास्टिक सर्जन इन इंडिया (APSI) ने इस दिवस को मनाने की घोषणा की थी।
– प्‍लास्टिक सर्जरी के महत्‍व के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए ये दिवस मनाया जाता है।
– 15 जुलाई 2021 में पहली बार इस दिवस को मनाया गया है।


 

6 thoughts on “14 to 16 July 2022 Current Affairs

Comments are disabled.