5 April 2022 Current affairs, 6 April 2022 current affairs',

5 & 6 May 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 5 & 6 May 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. WHO ने कोरोना से भारत में 47.4 लाख लोगों की मौत का अनुमान लगाया, यह आंकड़ा सरकारी डेटा से कितना ज्‍यादा है?

a. लगभग 10 गुना
b. लगभग 8 गुना
c. लगभग 5 गुना
d. लगभग 2 गुना

Answer: a. लगभग 10 गुना

कब के आंकड़ें : जनवरी 2020 से दिसंबर 2021

– विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने 5 मई 2022 को रिपोर्ट जारी की।
– रिपोर्ट के अनुसार दुनिया भर में कोरोना से लगभग 1.5 करोड़ लोगों की मौत का अनुमान है।
– यह तमाम देशों के ऑफिशियल रिलीज डेटा से 3 गुना ज्यादा है।

भारत में मौत का आंकड़ा
– WHO की रिपोर्ट के अनुसार भारत में कोरोना से 47.4 लाख मौतें होने का अनुमान लगाया गया है।
– यह दुनिया भर की मौतों का एक तिहाई है और ऑफिशियल आंकड़ों की तुलना में 10 गुना ज्यादा है।
– हालांकि भारतीय सरकार ने कोविड-19 से 4.8 लाख लोगों की मौत की बात कही थी।
– मतलब सरकारी आंकड़े से लगभग 10 गुना ज्‍यादा मौत का अनुमान WHO ने लगाया है।

WHO की रिपोर्ट में अप्रत्यक्ष मौतों का क्या मतलब
– WHO ने कोविड-19 महामारी के दौरान हुई मौतों में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष, दोनों तरह की मौतों को शामिल किया है।
– यह आंकड़े जनवरी 2020 से दिसंबर 2021 तक के हैं।
– WHO ने दुनियाभर में 1.5 करोड़ मौत का अनुमान लगाया है।
– जबकि दुनियाभर के देशों के ऑफिशियल सरकारी आंकड़े सिर्फ 54 लाख मौतों की जानकारी ही देते हैं।
– WHO की रिपोर्ट में ऐसे मरीजों को भी गिना गया है जिनकी मौत महामारी के दौरान अप्रत्यक्ष रूप से हुई थी।
– यानी, इसमें 95 लाख वो लोग भी शामिल हैं जो दूसरी बीमारियों से पीड़ित थे, लेकिन उन्हें सही वक्त पर इलाज नहीं मिल सका।

चीन और ऑस्‍ट्रेलिया में मौत कम
– WHO की रिपोर्ट के मुताबिक, महामारी के दौरान चीन, ऑस्ट्रेलिया, जापान और नॉर्वे जैसे देशों में अप्रत्यक्ष रूप से मौतें कम हुईं।
– चीन में अब भी जीरो कोविड पॉलिसी अपनाई जा रही है, वहीं ऑस्ट्रेलिया में सख्त टेस्टिंग और आइसोलेशन फॉलो किया जा रहा है।

WHO महानिदेशक ने क्‍या कहा
– WHO के महानिदेशक टेड्रोस एडनॉम घेब्रेयियस ने इस आंकड़े को ‘‘गंभीर’’ बताते हुए कहा कि इससे देशों को भविष्य की स्वास्थ्य आपात स्थितियों से निपटने के लिए अपनी क्षमताओं में अधिक निवेश करने के लिए प्रेरित होना चाहिए।

भारत ने WHO की रिपोर्ट को नकारा
– भारत ने WHO महामारी से संबंधित अधिक मृत्यु दर अनुमानों को पेश करने के लिए गणितीय मॉडल के इस्तेमाल पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि इस्तेमाल किए गए मॉडल और डेटा संग्रह की कार्यप्रणाली संदिग्ध है।
– सरकार ने कहा कि प्रामाणिक आंकड़ों की उपलब्धता के बावजूद कोरोना वायरस महामारी से संबंधित अधिक मृत्यु दर अनुमानों को WHO ने पेश किया गया है।

——————
2. 2nd इंडिया-नॉर्डिक समिट कहां आयोजित हुई?

a. कोपेनहेगन
b. लंदन
c. दिल्ली
d. स्टॉकहोम

Answer: a. कोपेनहेगन (डेनमार्क)

– डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में 2nd इंडिया-नॉर्डिक समिट 04 मई 2022 को आयोजित की गई।
– इस समिट को डेनमार्क की पीएम मेटे फ्रेडरिक्सन ने होस्ट किया।
– समिट में पीएम नरेन्द्र मोदी शामिल हुए।
– उनके अलावा नॉर्डिक देशों के प्रधानमंत्री भी इस समिट में शामिल हुए।
– इस समिट में कई मुद्दों पर बातचीत हुई।
– इसके अलावा वर्ष 2018 में हुई 1st इंडिया-नॉर्डिक समिट के बाद से भारत-नॉर्डिक देशों के संबंध को रिव्यू किया गया।

समिट में शामिल हुए नॉर्डिक देशों के प्रधानमंत्री
– डेनमार्क: मेटे फ्रेडरिक्सन
– नोर्वे: जोनास गहर स्टोर
– आइसलैंड: कैटरीन जैकब्सडॉटिर
– स्वीडन: मैग्डेलीना एंडरसन
– फिनलैंड: सना मारिन

नोट: डेनमार्क, स्वीडन, आइसलैंड, फिनलैंड की पीएम महिलाएं है।

नॉर्डिक कंट्री
– नॉर्थ अटलांटिक और नॉर्दन यूरोप के जियोग्राफिकल और कल्चरल क्षेत्र को नॉर्डिक कन्ट्रीज कहते है।
– नॉर्डिक कन्ट्रीज को नॉर्डिक्स और नॉर्डेन भी कहते है।
– नोर्डिक कन्ट्रीज में डेनमार्क, फिनलैंड, आइसलैंड, नॉर्वे औक स्वीडन शामिल है।
– इसके अलावा फारो द्वीप, ग्रीनलैंड और आलैंड का क्षेत्र शामिल है।

समिट में किन मुद्दों पर बातचीत हुई?
– कोरोना महामारी के बाद आर्थिक सुधार, क्लाइमेट चेंज, सस्टेनेबल डेबलपमेंट, इनोवेशन, डिजिटेलाइजेशन और ग्रीन एंड क्लीन ग्रोथ में बहुपक्षीय सहयोग पर चर्चा हुई।
– समुद्री क्षेत्र में कोऑपरेशन के साथ सस्टेनेबल ओशियन मैनेजमेंट पर फोकस को लेकर बातचीत हुई।
– बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि इंडिया की आर्कटिक पॉलिसी आर्कटिक क्षेत्र में इंडिया-नॉर्डिक के ऑपरेशन को बढ़ाने में कारगर है।

समिट में पीएम मोदी ने नॉर्डिक कंपनियो के साथ बिजनेस करने का रखा प्रस्ताव
– पीएम मोदी ने नॉर्डिक कंपनियों को ब्लू इकॉनोमी सेक्टर में निवेश करने के लिए इन्वाइट किया, खासकर भारत के सागरमाल प्रोजेक्ट के लिए।
– इसके अलावा उन्होंने नॉर्डिक देशों के सबरेन वेल्थ फंड्स को भारत में निवेश करने की अपील की।

भारत का नॉर्डिक देशों के साथ व्यापार कैसा?
– वर्ष 2020-21 में भारत का नॉर्डिक देशों के साथ 5 बिलियन डॉलर का ट्रेड रहा।

सागरमाला प्रोजेक्ट
– सागरमाला प्रोजेक्ट को क्रेंद सरकार द्वारा वर्ष 2015 में शुरू किया गया था।
– इस प्रोजेक्ट के तहत बंदरगाहों का आधुनिकीकरण करना शामिल है।
– इस प्रोजेक्ट के तहत 7500 किमी. लंबी समुद्री तट रेखा के निकट वाले बंदरगाहो के क्षेत्रीय विकास को बढ़ावा देना है।

—————
3. पीएम मोदी की डेनमार्क यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच कितने एग्रीमेंट्स साइन हुए?

a. नौ
b. आठ
c. सात
d. छह

Answer: c. सात

– पीएम मोदी ने डेनमार्क की प्रधानमंत्री मेटे फ्रेडरिक्सन से 03 मई 2022 को डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में द्विपक्षीय वार्ता की।
– इस दौरान सात एग्रीमेंट्स साइन किए गए।
– इसके अलावा दो प्रमुख एग्रीमेंट्स की घोषणा की गई।
– डेनमार्क की क्वीन मार्ग्रेथ II ने पीएम मोदी का स्वागत किया।

साइन/घोषित किए गए एग्रीमेंट्स की सूची
1. डिक्लेयरेशन ऑफ इंटेंट (DoI) ऑन माइग्रेशन एंड मोबिलिटी
2. लेटर ऑफ इंटेंट (LoI) ऑन द इस्टैब्लिशमेंट ऑफ ए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस ऑन ग्रीन शिपिंग
( भारत के पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय और डेनमार्क के मिनिस्ट्री ऑफ इंडस्ट्री, बिजनेस एंड फाइनेंशियल अफेयर्स के बीच)
3. कल्चरल एक्सचेंज प्रोग्राम (CEP)
(भारत और डेनमार्क के मिनिस्ट्री ऑफ कल्चर के बीच वर्ष 2022-2026 तक के लिए)
4. लेटर ऑफ इंटेट
(मिनिस्ट्री ऑफ जल शक्ति और मिनिस्ट्री ऑफ एनवायरनमेंट ऑफ डेनमार्क के बीच)
5. MoU ऑन कोऑपरेशन इन द फील्ड ऑफ स्किल डेवलपमेंट, वोकेशनल एजुकेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप
6. जॉइंट डिक्लेयरेशन ऑफ इंटेंट (JDI) ऑन कोऑपरेशन इन द फील्ड्स ऑफ एनिमल हस्बैंडरी एंड डेयरिंग
7. लेटर ऑफ इंटेट बिटबिन इंवेस्ट इंडिया एंड टैक्निकल यूनिवर्सिटी ऑफ डेनमार्क (स्टार्ट कोलेबोरेशन को आसान बनाने के लिए)

1. डिक्लेरेशन ऑफ इंटेंट (DoI) ऑन माइग्रेशन एंड मोबिलिटी
– सुरक्षित, व्यवस्थित और नियमित प्रवास (माइग्रेशन) को बढ़ावा देना।

2. लेटर ऑफ इंटेंट (LoI) ऑन द इस्टैब्लिशमेंट ऑफ ए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस ऑन ग्रीन शिपिंग
– द्विपक्षीय समुद्री सहयोग को मजबूत करने के लिए।

3. कल्चरल एक्सचेंज प्रोग्राम (CEP)
– कल्चरल कोऑपरेशन को बढ़ावा देना।

4. लेटर ऑफ इंटेंट (LoI) बिटबिन मिनिस्ट्री ऑफ जल शक्ति एंड मिनिस्ट्री ऑफ एनवायरनमेंट ऑफ डेनमार्क
– सेफ एंड सिक्योर वॉटर के क्षेत्र में मौजूदा सहयोग को गहरा और विस्तारित करना।
– जल्द ही एक मिनिस्ट्री ऑफ जल शक्ति और डेनिश इनवॅारमेंट मिनिस्ट्री के बीच MoU साइन किया जायेगा।
– इस MoU के तहत मौजूदा सहयोग को मजबूत करना है।
– इस MoU के तहत वाराणसी में साफ नदी के लिए एक स्मार्ट लैबोरेटरी, एक सेन्टर ऑफ एक्सीलैंस ऑन स्मार्ट वॉटर रिसोर्स मेनेजमेंट और अन्य नई योजानाओं को लॉन्च किया जायेगा।

5. MoU ऑन कोऑपरेशन इन द फील्ड ऑफ स्किल डेवलपमेंट, वोकेशनल एजुकेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप
– स्किल डेवलपमेंट, वोकेशनल एजुकेशन एंड एंटरप्रेन्योरशिप के सहयोग को मजबूत करना।

6. जॉइंट डिक्लेयरेशन ऑफ इंटेंट (JDI) ऑन कोऑपरेशन इन दा फील्ड्स ऑफ एनिमल हस्बैंडरी एंड डेयरिंग
– एनिमल हस्बैंडरी एंड डेयरिंग के क्षेत्र को एक्सपेंड करना।

7. लेटर ऑफ इंटेट बिटबिन इंवेस्ट इंडिया एंड टैक्निकल यूनिवर्सिटी ऑफ डेनमार्क
– स्टार्ट कोलेबोरेशन को आसान बनाने के लिए

दो प्रमुख एग्रीमेंट्स की घोषणाएं
– लॉन्च ऑफ एनर्जी पॉलिसी डायलॉग एट मिनिस्टेएरियल लेवल
– भारत मिशन पार्टनर के रूप में ICARS (इंटरनेशनल सेन्टर फॉर एंटी-माइक्रोबियल रेजिस्टेंस सॉल्यूशन) को जॉइन करेगा

लॉन्च ऑफ एनर्जी पॉलिसी डायलॉग एट मिनिस्टेएरियल लेवल
– क्रॉस-सेक्टर्ल एनर्जी प्लानिंग पर सहयोग को मजबूत करना।
– इसके तहत ग्रीन हाइड्रोजन, इंटिग्रेशन ऑफ रिन्यूएबल एनर्जी, एनर्जी स्टोरेज और डीकार्बोनाइजेशन पर फोकस करना है।

भारत मिशन पार्टनर के रूप में ICARS (इंटरनेशनल सेन्टर फॉर एंटी-माइक्रोबियल रेजिस्टेंस सॉल्यूशन) को जॉइन करेगा
– दोनों देशों ने एनटीमाइक्रोबियल रेजिस्टेंस के क्षेत्र में कोलेबोरेशन को जारी रखने के लिए हामी भरी।
– इसीलिए भारत ने ICARS को जॉइन करने पर सहमति जताई।

डेनमार्क
– राजधानी – कोपेनहेगन
– क्वीन मार्ग्रेथ II
– PM : मेटे फ्रेडरिक्सन
– मुद्रा : यूरो

—————–
4. RBI ने मई 2022 में रेपो रेट को बढ़ाकर कितना कर दिया?

a. 4.8%
b. 4.6%
c. 4.4%
d. 4.1%

Answer: c. 4.4%

– RBI की मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी (मौद्रिक नीति समिति) ने एक समीक्षा आपात बैठक में 04 मई 2022 को यह फैसला किया।

—————–
5. RBI ने मई 2022 में कितने बेसिस प्‍वाइंट की बढ़ोत्‍तरी करके रेपो रेट 4.4% कर दिया?

a. 40
b. 30
c. 20
d. 10

Answer: a. 40

– आमतौर पर मॉनेटरी पॉलिसी रिव्‍यू दो महीने पर होता है।
– पिछली बैठक अप्रैल में हुई थी और अगली जून में होनी थी।
– लेकिन महंगाई इतनी बेकाबू हो गई, कि आरबीआई को बीच में ही दखल देना पड़ा।

– पॉलिसी रेपो रेट को 40 बेसिस प्‍वाइंट बढ़ाकर 4.4% कर दिया।
– इससे पहले रेपो रेट 4 प्रतिशत था।
– RBI ने कैश रिजर्व रेश्यू (CRR) को 50 बेसिस प्‍वाइंट बढ़ाकर 4.5% कर दिया है।
– RBI के गर्वनर शक्तिकांत दास का कहना है कि ऐसा कदम बढ़ती महंगाई को कम करने के लिए किया गया है।

बेसिस प्‍वाइंट क्‍या होता है?
– बेसिस प्‍वाइंट मतलब आधार अंक।
– 1% में 100 बेसिस प्‍वाइंट होते है।

रेपो रेट (Repurchase Rate or Repo Rate) क्‍या है?
– आसान भाषा में कहें, तो बैंक हमें कर्ज देते हैं और उस कर्ज पर हमें ब्याज देना पड़ता है।
– ठीक वैसे ही बैंकों को भी अपने रोजमर्रा के कामकाज के लिए भारी-भरकम रकम की जरूरत पड़ जाती है और वे RBI से कर्ज लेते हैं।
– इस लोन पर रिजर्व बैंक जिस दर से उनसे ब्याज वसूल करता है, उसे रेपो रेट कहते हैं।

रेपो रेट से आम आदमी पर क्या पड़ता है प्रभाव
– जब बैंकों को कम ब्याज दर पर लोन उपलब्ध होगा, यानी रेपो रेट कम होगा तो वो भी अपने ग्राहकों को सस्ता कर्ज दे सकते हैं।
– यदि रिजर्व बैंक रेपो रेट बढ़ाएगा तो बैंकों के लिए कर्ज लेना महंगा हो जाएगा और वे अपने ग्राहकों के लिए कर्ज महंगा कर देंगे।

रेपो रेट का महंगाई बढ़ने या घटने से क्‍या रिश्‍ता?
– देश में महंगाई को कम करने की प्राथमिक जिम्‍मेदारी RBI पर है।
– बाजार में जरूरत से ज्‍यादा नकदी रहने पर महंगाई बढ़ने का खतरा होता है।
– जब भी बाज़ारों में बहुत ज्यादा नकदी दिखाई देती है, आरबीआई रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट को बढ़ा देता है, ताकि बैंक ज्यादा ब्याज कमाने के लिए अपनी रकम उसके पास जमा करा दें।
– इस तरह बैंकों के कब्जे में बाजार में छोड़ने के लिए कम रकम रह जाएगी।
– ताकि महंगाई पर काबू पाया जा सके।

भारत में मंहगाई का गहरा संकट
– दरअसल, रूस-यूक्रेन युद्ध और कई वजहों से दुनिया भर में महंगाई बढ़ी है।
– रूस पर प्रतिबंध लगे हैं। इससे धातुओं, क्रूड ऑयल, गैस की कीमत बढ़ गई है।
– इसका रिश्‍ता आम लोगों की खपत से है।
– देश में मॉनिटरी लिक्विडिटी ज्‍यादा है, इसकी वजह से भी महंगाई है।
– इसे कम करने की कोशिश RBI ने की है।

रेपो रेट बढ़ने से जीडीपी ग्रोथ रेट पर असर
– RBI के गर्वनर शक्तिकांत दास ने कहा कि ज्यादा व्याज दर से ग्रोथ पर असर पड़ सकता है।
– बढ़ती मंहगाई के कारण बचत, निवेश, कांपटीशन और उत्पादन वृद्धि में गहरा असर पड़ता है।

—————–
6. देश का GST राजस्‍व संग्रह (revenue collection) अप्रैल 2022 में कितना रहा?

a. 1.67 लाख करोड़ रुपए
b. 1.42 लाख करोड़ रुपए
c. 1.30 लाख करोड़ रुपए
d. 1.20 लाख करोड़ रुपए

Answer: a. 1.67 लाख करोड़ रुपए

– यह अब (अप्रैल 2022) तक का रिकॉर्ड GST कलेक्‍शन है।
– इसमें सबसे बड़ी वजह महंगाई और आयात का बढ़ना है।

– वित्‍त मंत्रालय ने 01 मई 2022 को बताया कि अप्रैल 2022 का GST कलेक्‍शन 1.67 लाख करोड़ रहा।
– जबकि इससे पहले मार्च 2022 का कलेक्शन 1.42 लाख करोड़ रुपए था।
– मतलब मार्च की तुलना में अप्रैल में GST संग्रह 25,000 करोड़ रुपए अधिक रहा।
– पहली बार GST कलेक्शन ने 1.5 लाख करोड़ रुपये का आंकड़ा पार किया है।

अप्रैल 2022 में CGST, SGST, IGST कितना रहा?
– सेन्ट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स (CGST): 33,159 करोड़ रुपए
– स्टेट गुड्स एंड सर्विस टैक्स (SGST): 41,793 करोड़ रुपए
– इंटिग्रेटेड गुड्स एंड सर्विस टैक्स (IGST): 81,939 करोड़ रुपए

GST कलेक्शन क्यों बढ़ा?
– बढ़ती महंगाई
– आयात में वृद्धि
– दरअसल, जब रोजमर्रा की चीजों की कीमत महंगाई की वजह से बढ़ गई, तो इससे सरकार को टैक्‍स कलेक्‍शन बढ़ गया।
– सरकार ने कड़ाई की, जिससे कर (टैक्स) चोरी कम हुई है।

—————
7. तरुण कपूर को पीएम मोदी का सलाहकार नियुक्त किया गया, इससे पहले वह किस मंत्रालय के सचिव थे?

a. पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय
b. रक्षा मंत्रालय
c. शिक्षा मंत्रालय
d. रेल मंत्रालय

Answer: a. पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय

– पूर्व पेट्रोलियम सचिव तरुण कपूर को पीएम मोदी का सलाहकार नियुक्त कर दिया गया है।
– उनको दो वर्ष के लिए इस पद पर नियुक्त किया गया है।

तरुण कपूर के बारे में
– वह हिमाचल प्रदेश कैडर के 1987-बैच के आईएएस अधिकारी है।
– वह 30 नवंबर, 2021 को पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के सचिव के पद से सेवानिवृत्त (रिटायर) हुए थे।

—————
8. किस राज्‍य ने मुख्‍यमंत्री मितान योजना शुरू की?

a. बिहार
b. राजस्‍थान
c. महाराष्‍ट्र
d. छत्तीसगढ़

Answer: d. छत्तीसगढ़

– मीतान का अर्थ मित्र/दोस्त होता है।
– इस योजना के तहत, छत्तीसगढ़ के निवासी अपने घर पर लगभग 100 सार्वजनिक सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं।
– इसे छत्तीसगढ़ के रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर और राजनांदगांव जैसे शहरों सहित 14 नगर निगमों में पायलट आधार पर लागू किया जाएगा।

छत्‍तीसगढ़
सीएम – भूपेश बघेल
गवर्नर – अनुसुइया उइके

—————
9. जेफ बेजोस की जगह Amazon का CEO कौन चुना गया?

a. एंडी जेसी
b. प्रदीप बंसल
c. जैक डोर्सी
d. एलॉन मस्‍क

Answer: a. एंडी जेसी

– अमेजन के बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर ने उन्‍हें नया CEO चुना।
– वह आधिकारिक तौर पर 5 जुलाई को अमेज़न के सीईओ बन जाएंगे।
– जेफ बेजोस अमेजन के बोर्ड के कार्यकारी अध्यक्ष बनेंगे।

Amazon.com Inc
– स्थापना: 5 जुलाई 1994
– मुख्यालय: सिएटल, वाशिंगटन, यूएसए

——————
10. अंतरराष्ट्रीय अग्निशामक दिवस कब मनाया जाता है?

a. 1 मई
b. 2 मई
c. 3 मई
d. 4 मई

Answer: d. 4 मई

– यह दिवस उन अग्निशामक विशेषज्ञों को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है जिन्होंने ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवाई है।


2 thoughts on “5 & 6 May 2022 Current Affairs

Comments are disabled.