3 & 4 May 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 3 & 4 May 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. PM नरेंद्र मोदी वर्ष 2022 में पहली विदेश यात्रा के दौरान किन देशों में गए?

a. जर्मनी
b. डेनमार्क
c. फ्रांस
d. उपरोक्‍त सभी

Answer: d. उपरोक्‍त सभी (जर्मनी, डेनमार्क और फ्रांस)

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 से 4 मई 2022 तक यात्रा पर हैं।
– 2 मई को पीएम मोदी दिल्‍ली से विशेष विमान के जरिए पहले जर्मनी गए। इसके बाद डेनमार्क और फिर फ्रांस।
– इस दौरान कई एग्रीमेंट हुए और विदेशी नेताओं से कई मुद्दों पर सहमति बनी।

—————–
2. 6th इंडिया-जर्मनी इंटर गर्वनमेंटल कंसल्टेशंस में भारत और जर्मनी के बीच कितने एग्रीमेंट्स साइन हुए?

a. दस
b. नौ
c. आंठ
d. सात

Answer: b. नौ

– पीएम नरेन्द्र मोदी और जर्मनी के फेडरल चांसलर ओलाफ स्कोल्ज़ो के बीच 02 मई 2022 को 6th इंडिया-जर्मनी इंटर गवर्नमेंटल कंसल्टेशन हुआ।
– इस कंसल्टेशन में दोनो देशों के मंत्री, विदेश मंत्री, और अधिकारी भी शामिल हुए।
– इस दौरान भारत और जर्मनी के बीच नौ एग्रीमेंट्स पर साइन हुए।

साइन हुए नौ एग्रीमेंटस की सूची
1. जॉइंट डिक्‍लेरेशन ऑफ इंटेंट (JDI) ऑन ग्रीन एंड सस्टेनेबल डेवलपमेंट पार्टनरशिप
2. JDI ऑन द इंप्लीमेंटेशन ऑफ ट्राइंगलुर डेवलपमेंट कोऑपरेशन प्रोजेक्ट्स इन थर्ड कंट्र्रीज
3. JDI ऑन टू इस्टैब्लिश आ डायरेक्ट इंक्रिप्टेड कनेक्शन बिटवीन MEA एंड जर्मन फोरेन ऑफिस
4. इंडो-जर्मन डेवलपमेंट कोऑपरेशन रिगार्डिंग रिन्‍यूएबल एनर्जी पार्टनरशिप
5. JDI ऑन आ कम्परेहेंसिव माइग्रेशन एंड मोबिलिटी पार्टनरशिप
6. JDI ऑन कंटिन्यूएशन ऑफ कोऑपरेशन इन द फील्ड ऑफ एडवांस्ड ट्रेनिंग ऑफ कोरपोरेट एक्जिक्यूटिव्स एंड जूनियर एक्जिक्यूटिव्स फ्राम इंडिया
7. इंडो-जर्मन ग्रीन हाइड्रोजन टास्क फोर्स
8. JDI ऑन एग्रोइकॉलोजी
9. JDI ऑन फोरेस्ट लैंडस्केप रिस्टोरेशन

1. JDI on Green and Sustainable Development Partnership
– इस एग्रीमेंट के तहत भारत और जर्मनी सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स और क्लाइमेट पर एक-दूसरे का सहयोग करेंगे।
– इस एग्रीमेंट के तहत जर्मनी, भारत को क्लीन एनर्जी को बूस्ट करने के लिए 2030 तक 10 बिलियन यूरो की आर्थिक सहायता प्रदान करेगा।
– यह आर्थिक सहायता भारत-जर्मनी की रिसर्च एंड डेवलपमेंट (R&D) को प्रोमेट करेगी।
– इसके अलावा प्राइवेट निवेश को बढ़वा देगी ताकि जिससे फंडिग में आसानी हो।

सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) के बारे में
– वर्ष 2015 में सभी संयुक्त राष्ट्र सदस्य राज्यों द्वारा सस्टेनेबल डेवलपमेंट के लिए 2030 तक का एजेंडा अपनाया गया था।
– इसका लक्ष्य लोगों को शांति और समृद्धि के पहुंचाना है।
– SDG के 17 सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स हैं जो वैश्विक साझेदारी में सभी देशों द्वारा अनिवार्य है।
– इनमें से कुछ गोल्स नो पॉवर्टी, जीरो हंगर, गुड हेल्थ एंड वैलबिंग, क्वालिटी एजुकेशन, जेंडर इक्वलिटी, क्लीन वॉटर एंट सेनिटेशन, अर्फोडवल एंड क्लीन एनर्जी, डिंसेट वर्क एंड इकोनॉमिक ग्रोथ,इंडस्ट्री, इनोवेशन एंड इंफ्रास्ट्रक्चर हैं।


2. JDI on the implementation of Triangular Development Cooperation projects in Third Countries
– भारत और जर्मनी दोनों के पास दूसरे देशों में डेवलपमेंट कोऑपरेशन करने के लिए अनुभव है।
– इसी अनुभव के साथ दोनों देश मिलकर इस एग्रीमेंट के तहत दूसरे देशों में भिन्न प्रोजेक्ट्स पर काम करेंगे।
– भारत-जर्मनी का यह कोऑपरेशन विकासशील देशों के सस्टेनेबल डेवलपमेंट प्रोजेक्ट्स के लिए एक विकल्प के तौर पर काम करेगा।

3. JDI on to establish a direct encrypted connection between MEA and German Foreign Office
– इस एग्रीमेंट के तहत भारत और जर्मनी के बीच खूफिया जानकारी के लिए एक इंक्रप्टेड कन्केशन बनाया जायेगा।

4. Indo-German Development Cooperation Regarding Renewable Energy Partnership
– इस एग्रीमेंट के तहत इनोवेटिव सोलर एनर्जी और अन्य
नवीकरणीय ऊर्जा पर फोकस करना है।
– इसके लिए जर्मनी ने 2020 से 2025 तक 1 बिलियन यूरो तक के रियायती लोन सहित वित्तीय और तकनीकी सहयोग प्रदान करने का इरादा व्यक्त किया है।

5. JDI on a Comprehensive Migration and Mobility Partnership
– इस एग्रीमेंट के तहत छात्रों, प्रोफेशनल्स और शोधकर्ताओं को दोनों देशों में माइग्रेशन में बाधा कम करना है।
– इसके अलावा अवैध प्रवास की चुनौतियों का समाधान करना है।

6. JDI on continuation of cooperation in the field of advanced training of corporate executives and junior executives from India
– इस एग्रीमेंट के तहत कोरपोरेट मेनेजर्स की ट्रेनिंग के लिए ट्रेनिंग प्रोग्राम को लागू किया जायेगा।
– इसके तहत इंडस्ट्री के एक्जिक्यूटिव्स को ट्रेनिंग दी जायेगी।

7. Indo-German Green Hydrogen Task Force
– इसका लक्ष्य दोनो देशों के ग्रीन हाइड्रोजन इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा देना है।

8. JDI on Agroecology
– ग्रामीण क्षेत्र के लोगों और छोटे किसानों को इनकम, फूड सिक्योरिटी, अच्छी मिट्टी, बायोडायवर्सिटी और पानी की उपलब्धता में लाभ पहुंचना है।

9. JDI on Forest Landscape Restoration
– फोरेस्ट लैंडस्केप रिस्टोरेशन को बढ़ावा देना।

जर्मनी
– राष्ट्रपति: फ्रैंक-वाल्टर स्टीनमीयर
– चांसलर ओलाफ स्कोल्ज़ो
– राजधानी: बर्लिन

—————-
3. जर्मनी ने भारत को क्लीन एनर्जी बूस्‍ट के लिए कितनी रकम देने का एग्रीमेंट किया?

a. 5 बिलियन यूरो
b. 7 बिलियन यूरो
c. 8 बिलियन यूरो
d. 10 बिलियन यूरो

Answer: d. 10 बिलियन यूरो

– यह डील जॉइंट डिक्लेयरेशन ऑफ इंटेट (JDI) ऑन ग्रीन एंड सस्टेनेबल डेवलपमेंट पार्टनरशिप के तहत हुई है।
– इस एग्रीमेंट के तहत जर्मनी, भारत को क्लीन एनर्जी को बूस्ट करने के लिए 2030 तक 10 बिलियन यूरो की आर्थिक सहायता प्रदान करेगा।
– यह आर्थिक सहायता भारत-जर्मनी की रिसर्च एंड डेवलपमेंट (R&D) को प्रोमेट करेगी।
– इसके अलावा प्राइवेट निवेश को बढ़वा देगी ताकि जिससे फंडिग में आसानी हो।

—————-
4. अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA ने पहला चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर (CTO) पद पर किस भारतीय मूल के व्‍यक्ति को नियुक्‍त किया?

a. पराग मेहता
b. जेम्स हेरेन
c. नंद मूलचंदानी
d. अकुंश गौतम

Answer: c. नंद मूलचंदानी

– इस बात की जानकारी CIA (सेन्ट्रल इंटेलीजेंस एजेंसी)
ने 29 अप्रैल 2022 को एक बयान जारी करते हुई दी।
– CIA के डायेरक्टर विलियम जे बर्न्स ने उन्हें इस पद पर नियुक्त किया है।

नंद मूलचंदानी
– वह भूरतीय मूल के हैं।
– वह सिलिकॉन वैली के साथ-साथ अमेरिकी रक्षा मंत्रालय में काम कर चुके हैं।
– IT एक्‍सपर्ट के रूप में 25 वर्ष का अनुभव है।
– उन्होंने पढ़ाई दिल्ली के स्कूल से की थी।
– साल 1987 में दिल्‍ली के ब्लूबेल्स स्कूल इंटरनेशनल से 12वीं की पढ़ाई की।
– इसके बाद ग्रेजुएशन करने अमेरिका चले गए।
– स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से मैनेजमेंट में मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री हासिल की है।
– नंद मूलचंदानी कई सफल स्टार्टअप बना चुके हैं। वे ओब्लिक्स, डिटरमिना, ओपन डीएनएस और स्केल एक्सट्रीम के सह संस्थापक और सीईओ भी रह चुके हैं।
– अब वह अमेरिकी नागरिक हैं।

CIA
– डायेरक्टर : विलियम जे बर्न्स
– सीआईए को अमेरिकी की फ़स्ट लाइन ऑफ डिफेंस भी कहा जाता है।
– स्‍थापना : 1947
– अमेरिका के वर्जीनिया में सीआईए का मुख्यालय है।

CIA एजेंसी काम कैसे करती है?
– यह अलग अलग देशों की खुफिया जानकारी इकट्ठा करती है जिसे राष्ट्रपति, राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद और दूसरी संस्थाओं के साथ साझा किया जाता है।
– दुनिया पर अमेरिका के वर्चस्‍व में बड़ी भूमिका CIA की है।
– बजट : साल 2020 में राष्ट्रीय खुफिया कार्यक्रम के लिए कुल 62.7 अरब डॉलर (4.8 लाख करोड़ रुपए) का बजट पास किया गया था। ये रकम अमेरिका की 16 अलग अलग गुप्तचर संस्थाएं मिलकर खर्च करती हैं। इनमें से एक है सीआईए।
– दुनिया में 100 से ज्यादा ऐसे देश हैं जिनकी जीडीपी अमेरिका के राष्ट्रीय खुफिया कार्यक्रम के बजट से कम है।
– अमेरिका कभी ये नहीं बताता है कि उसने किस गुप्तचर संस्था को किस काम के लिए कितने पैसे दिए।
– साल 2013 में अमेरिकी अख़बार वाशिंगटन पोस्ट ने एडवर्ड स्नोडेन के हवाले से अमेरिका के खुफिया बजट को लेकर कई दावे किए थे।
– इसके मुताबिक सीआईए तकरीबन पांच अरब डॉलर यानी 30 हजार करोड़ से ज्यादा रकम मानवीय जासूसी पर खर्च करती है।
– इसमें से करीब 440 करोड़ रुपये तो केवल दुनिया भर में फैले अपने जासूसों को फर्जी पहचान देने में खर्च किए जाते हैं।

—————-
5. दुनिया का सबसे लंबा कांच का ब्रिज (Glass-bottomed bridge) किस देश में बना?

a. भारत
b. जापान
c. वियतनाम
d. अमेरिका

Answer: c. वियतनाम

– इस ब्रिज को आम लोगों के लिए 29 अप्रैल 2022 को खोला गया।
– यह ब्रिज वियतनाम के नॉर्थवेस्ट सन ला में स्थित है।
– इसका नाम बाख लॉन्ग ब्रिज (Bach Long bridge) है।
– यह दो पहाड़ो को जोड़ता है।
– जमीन से लगभग 500 फीट है।
– लंबाई लगभग 2000 फीट है।
– इस ब्रिज का तल कांच का है।
– यह वियतनाम का तीसरा कांच वाला ब्रिज है।

चीन के ब्रिज को पछाड़ा
– बाख लॉन्ग ब्रिज चीन के ग्वांगडोंग में 526 मीटर लंबे ब्रिज को पछाड़कर दुनिया का सबसे लंबा ब्रिज बन गया है।

Vietnam
– कैपिटल : हनोई
– करंसी : वियतनामी डोंग
– प्रेसिडेंट : गुयेन जुआन
– प्राइम मिनिस्‍टर : फुम मिन्ह चिन्हो

—————-
6. किस देश में तैनात 1,160 भारतीय शांति सैनिकों (peacekeepers) को UN मेडल्‍स सम्‍मान मिला?

a. सूडान
b. साउथ सूडान
c. साइप्रस
d. लेबनान

Answer: b. साउथ सूडान

– संयुक्‍त राष्‍ट्र ने 1,160 भारतीय पीसकीपर्स (सैनिक, पुलिस, सिविलियन) को अप्रैल 2022 में यूएन मेडल अवॉर्ड दिए।
– इस बात की जानकारी यूनाईटेड नेशंस मिशन इन साउथ सूडान (UNMISS) ने 28 अप्रैल 2022 को अपने आधिकारिक वेबसाइट पर दी।

क्यों मिले मेडल्स?
– ये पीसकीपर्स यूनाईटेड नेशंस मिशन के तहत साउथ सूडान (UNMISS ) में अपनी सेवाएं दे रहे है।
– इन पीसकीपर्स को यह मेडल्स साउथ सूडान में उनकी असाधारण सेवा के लिए दिए गये है।

यूएन पीसकीपिंग मिशन
– यूएन पीसकीपिंग मिशन को 1948 में शुरू किया गया था।
– इस मिशन का उद्देश्‍य संघर्षशील देशों में शांति (पीस) स्थापित करना है।
– पिछले 70 वर्षों में, 1 मिलियन से अधिक पुरुषों और महिलाओं ने यूएन के इस मिशन के तहत 70 से अधिक यूएन पीसकीपिंग मिशंस में सेवा की है।
– 125 देशों के 100,000 से अधिक सैन्य, पुलिस और नागरिक कर्मी वर्तमान में 14 पीस मिशंस में कार्यरत हैं।

यूएन पीसकीपिंग मिशन में कितने भारतीय?
– भारत यूएन पीसकीपिंग मिशन में सैन्य योगदान देने वाले सबसे बड़े देशों में से एक है।
– वर्तमान में, 2,385 भारतीय सैन्यकर्मियों के साथ भारत, रवांडा के बाद दूसरे नंबर पर हैं।
– इसके अलावा 30 पुलिस कर्मियों को UNMISS के साथ तैनात किया गया है।

वर्तमान में यूएन पीसकीपिंग मिशंस
– MINURSO, Western Sahara
– MINUSCA, Central African Republic
– MINUSMA, Mali
– MONUSCO, D.R. of the Congo
– UNDOF, Golan
– UNFICYP, Cyprus
– UNIFIL, Lebanon
– UNISFA, Abyei
– UNMIK, Kosovo
– UNMISS, South Sudan
– UNMOGIP, India and Pakistan
– UNTSO, Middle East

साउथ सूडान
राष्ट्रपति : साल्वा कीर मयार्डितो
करंसी : साउथ सूडानीज पाउंड
राजधानी : जुबा

– पहले सूडान और साउथ सूडान एक ही देश थे। लेकिन वर्ष 2011 में यह दो देशों में बंट गया। एक हिस्‍सा बना साउथ सूडान और। जबकि नॉर्थ सूडान ने ‘सूडान’ वाला नाम अपना लिया।
– साउथ सूडान में इस समय गृहयुद्ध चल रहा है। इसलिए यूनाइटेड नेशंस ने यहां शांति सैनिक तैनात किए हुए हैं।

—————-
7. इंटरनेशनल डार्क स्काई वीक 2022 कब तक रहा?

a. 19-27 अप्रैल
b. 20-28 अप्रैल
c. 21-29 अप्रैल
d. 22-30 अप्रैल

Answer:  d. 22-30 अप्रैल

– एस्ट्रोनोमर्स ने इंटरनेशनल डार्क स्काई वीक 2022 को 22-30 अप्रैल तक रखा।
– इस वीक में दुनिया भर में सैकड़ों कार्यक्रम आयोजित किए गए।
– जहां प्रतिभागी एस्ट्रोफोटोग्राफी सीखने के लिए एक साथ आए।
– इस दौरान प्रतिभागी बिना लाइट प्रदूषण के रात के आसमान को देखा।
– इसके अलावा देखा कि निगेटिविटी इकोसिस्टम को कैसे प्रभावित करती है।

इंटरनेशनल डार्क स्काई वीक
– इंटरनेशनल डार्क स्काई वीक, इंटरनेशनल डार्क-स्काई एसोसिएशन (IDA) द्वारा आयोजित एक वार्षिक कार्यक्रम है।
– यह कार्यक्रम अंधेरे में आसमान की खूबसूरती को दिखाने का प्रयास करता है।

इंटरनेशनल डार्क स्काई वीक का लक्ष्य
– इस आयोजन का उद्देश्य लाइट प्रदूषण के नकारात्मक प्रभाव के बारे में जागरूकता बढ़ाना और रात के आकाश को सेलीब्रेट करना है।

लाइट प्रदूषण के प्रभाव
– IDA के अनुसार आर्टिफिशियल लाइटिंग को रात में ज्यादा प्रयोग करने से वन्यजीवों को बाधित कर सकता है।
– मानव स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है।
– धन और ऊर्जा की बर्बादी कर सकता है।
– जलवायु परिवर्तन में योगदान कर सकता है।
– लाइट प्रदूषण जनसंख्या वृद्धि की दुगुनी दर से बढ़ रहा है।
– विश्व की 83 प्रतिशत जनसंख्या लाइट-प्रदूषित वाले आकाश के अंडर रहती है।

—————-
8. एशिया बैडमिंटन चैंपियनशिप में भारतीय खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कौन सा पदक जीता?

a. स्‍वर्ण पदक
b. रजत पदक
c. कांस्‍य पदक
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: c. कांस्‍य पदक (bronze medal)

– यह आयोजन 26 अप्रैल से एक मई 2022 तक मनीला (फिलीपींस) में हुआ।
– टूर्नामेंट में सिंधु का यह दूसरा पदक है- उन्होंने 2014 के गिमचियन संस्करण में कांस्य पदक जीता था।
– उन्होंने वर्ष 2016 रियो डी जनेरियो में रजत और वर्ष 2020 टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था।

—————-
9. मातृ दिवस (Mother’s Day) कब मनाया जाता है?

a. मई का पहला रविवार
b. मई का दूसरा रविवार
c. मई का तीसरा रविवार
d. मई का चौथा रविवार

Answer: b. मई का दूसरा रविवार

– वर्ष 2022 में यह दिवस 8 मई को आयोजित होगा।
– दुनिया भर में मातृत्व के प्रति प्रशंसा और प्यार दिखाने के लिए मातृ दिवस मनाया जाता है।

—————-
10. विश्‍व हास्‍य दिवस कब मनाया जाता है?

a. मई का पहला रविवार
b. मई का दूसरा रविवार
c. मई का तीसरा रविवार
d. मई का चौथा रविवार

Answer: a. मई का पहला रविवार

– वर्ष 2022 में यह दिवस एक मई को आयोजित हुआ।

————–
11. विश्व टूना दिवस कब मनाया जाता है?

a. 1 मई
b. 2 मई
c. 3 मई
d. 4 मई

Answer: b. 2 मई

– यूनाइटेड नेशंस ने यह दिवस घोषित किया हुआ है।
– ताकि टूना नामक मछली के बारे में जागरूकता बढ़ाई जा सके।
– टूना मनुष्यों के लिए भोजन का एक महत्वपूर्ण स्रोत है क्योंकि टूना मछली में ओमेगा 3, विटामिन बी 12, प्रोटीन और अन्य खनिज़ों जैसे कई समृद्ध गुण होते हैं।


1 thought on “3 & 4 May 2022 Current Affairs

Comments are disabled.