1 & 2 May 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 1 & 2 May 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. उत्‍तर-पश्चिमी और मध्‍य भारत में गर्मी ने 122 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया, इसकी वजह क्‍या है?

a. कमजोर पश्‍चिमी विक्षोभ
b. जलवायु परिवर्तन
c. रूस-यूक्रेन युद्ध
d. a और b

Answer: d. a और b (कमजोर पश्चिमी विक्षोभ और जलवायु परिवर्तन)

क्‍या जानेंगे
– हीट वेव क्‍या होता है।
– इस बार इतनी गर्मी क्‍यों हुई, जिससे 122 साल का रिकॉर्ड टूटा।
– जलवायु परिवर्तन और इससे पश्चिमी विक्षोभ के कमजोर पड़ने से क्‍या प्रभाव पड़ रहे हैं।
– मनुष्‍यों, फसलों पर गर्मी का क्‍या असर होगा। दुनिया में फूड क्राइसिस की आशंका।
– भारत में कहां कितनी गर्मी और कैसे रिकॉर्ड टूटा।

PM ने भी चिंता जताई
– प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में भी गर्मी पर चिंता जताई।
– उन्‍होंने कहा, “देश में तापमान तेजी से बढ़ रहा है, और सामान्य से बहुत पहले बढ़ रहा है।”

गर्मी का रिकॉर्ड टूटा
– उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में अप्रैल महीने में गर्मी ने 122 साल के रिकॉर्ड तोड़ दिए।
– यह रिपोर्ट भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD चेयरमैन एम मोहापात्रा) का है।
– आमतौर पर ठंडा रहने वाला राज्‍य हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड में भी गर्मी ज्‍यादा है।
– IMD (मौसम विभाग) ने कहा है कि मई में भी गर्मी से राहत नहीं मिलेगी।

राज्‍यों में गर्मी की क्‍या हालत
– उत्तर पश्चिम के 9 राज्यों जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में अप्रैल का औसत तापमान 35.9 (न्यूनतम-अधिकतम का औसत) दर्ज हुआ, जो सामान्य से 3.35 डिग्री अधिक था।
– इसी तरह मध्य भारत के 6 राज्यों गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, मप्र, छत्तीसगढ़ और ओडिशा में औसत तापमान 37.780 दर्ज हुआ, जो सामान्य से 1.490 अधिक था। मौसम विभाग 1901 से मौसम संबंधी आंकड़े जमा कर रहा है। उसके बाद पहली बार अप्रैल इतना गर्म रहा।

मार्च से अप्रैल तक कितने हीटवेव
– चार
– चौथा स्पेल अभी चल रहा है।

पहला हीट वेवस्पेल कब आया और चौथा कब
– पहला हीटवेव स्पेल: 11 मार्च से 19 मार्च तक
– दूसरा हीटवेव स्पेल: 27 मार्च से 12 अप्रैल तक
– तीसरा हीटवेव स्पेल: 17 अप्रैल से 20 अप्रैल तक
– चौथा हीटवेव स्पेल: 24 अप्रैल को शुरु हुआ और अभी जारी है
– आने वाले दिनों में यह दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, गंगीय पश्चिम बंगाल, आंतरिक ओडिशा, छत्तीसगढ़, उत्तरी गुजरात और विदर्भ में फैल सकता है।

हीटवेव क्या होती है?
– भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) एक क्षेत्र के लिए एक हीटवेव की घोषणा करता है।
– जब अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री अधिक होने पर हीटवेव घोषित की जाती है।
– आईएमडी के अनुसार, यदि टेंपरेचर सामान्य से 6.4 डिग्री से अधिक है, तो एक गंभीर हीटवेव घोषित की जाती है।
– हीट वेव की घोषणा अलग-अलग इलाकों के अनुसार अलग-अलग होती है।
– यह स्थिति तब बनती है जब अधिकतम तापमान मैदानी इलाकों में कम से कम 40 डिग्री सेल्सियस, तटीय इलाकों में कम से कम 37 डिग्री सेल्सियस और पहाड़ी क्षेत्रों में कम से कम 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है।
– अधिकतम तापमान 47 डिग्री के पार जाने पर भीषण हीटवेव (लू) की घोषणा की जाती है।

हीटवेव कब आती है?
– हीटवेव्स आमतौर पर अप्रैल-जून के गर्मियों के महीनों में आती हैं।
– इनकी तीव्रता और आवृत्ति मई में चरम पर होती है।
– हीटवेव 4 से 10 दिनों के बीच और कभी-कभी अधिक समय तक रह सकती है।
– मई में हीटवेव की अवधि अप्रैल और जून की तुलना में अधिक लंबी होती है, जिसका मुख्य कारण बरसात न होना है।

कैसे बढ़ रहा है हीटवेव का प्रभाव?
– भारत में हीटवेव दिनों की संख्या हर दशक में बढ़ रही है।
– 1981-90 में 413 हीटवेव
– 2001-10 में 575 हीटवेव
– 2011-20 में 600 हीटवेव
– अत्यधिक गर्म दिन देखने वाले दिनों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

क्या जलवायु परिवर्तन जिम्मेदार है?
– हां। जलवायु परिवर्तन से मौसम के चक्र में बदलाव आया है।
– देश के उत्तरी भागों में चिलचिलाती गर्मी का मुख्य कारण वर्षा की कमी है।

वर्ष 2022 में इतनी गर्मी क्‍यों?
– क्‍लाइमेट चेंज और इसकी वजह से पश्चिमी विक्षोभ (वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस) का कमजोर होना।

क्‍या होता है पश्चिमी विक्षोभ
– एक तरह का उष्‍णकटिबंधीय तूफान है, जो भूमध्‍य सागर (मेडिटेरियन सी) के क्षेत्र से शुरू होता है।
– यह भारतीय उपमहाद्वीप में उत्‍तरी क्षेत्रों में आंधी और तूफान की वजह बनता है।
– यह वायुमंडल के ऊपरी सतहों में मेडिटेरियन सी, अटलांटिक महासागर और कैस्पियन सी से नमी लाकर अचानक वर्षा और बर्फ के रूप में उत्‍तर भारत, पाकिस्‍तान और नेपाल में बरसा देता है।
– इसमें उठने वाले तूफान या जेट स्‍ट्रीम के चलते वायुमंडल में, साइक्‍लोजेनेसिस के अनुकूल परिस्थितियां उत्‍पन्‍न होने लगती हैं।
– यह एक्‍सट्रैटॉपिकल डिप्रेशन के गठन में मदद करती है।
– फिर धीरे-धीरे चक्रवात ईरान, अफगानिस्‍तान और पाकिस्‍तान के मध्‍य पूर्व से भारतीय उप-महाद्वीप में प्रवेश करता है।
– दरअसल, वेस्‍टर्न डिस्‍टर्बेंस एक गैर मानसूनी वर्षा का रूप है।
– यह पछुआ पवन से संचालित होता है।
– चूकि यह पश्चिम से आता है, इसलिए इसे पश्चिमी विक्षोभ कहते हैं।
– इसका ज्‍यादा प्रभाव हमारे यहां विंटर (सर्दियों) में होता है। जनवरी – फरवरी के मौसम में।
– यह रबी की फसल में लाभदायक होता है और हिमाचल में स्‍नोफॉल में इसका बड़ा योगदान है।
– लेकिन मार्च-अप्रैल में भी इसका असर होता है और गर्मी की शुरुआत में राहत मिलती है।

पश्‍चिमी विक्षोभ पर IMD ने क्‍या कहा?
– पश्चिमी विक्षोभ से रुक-रुक कर होने वाली हल्की बारिश और गरज के साथ गर्मी पर नियंत्रण रखने में मदद मिलती है।
– लेकिन इस गर्मी में, पश्चिमी विक्षोभ पर्याप्त रूप से मजबूत नहीं रहा है।
– मार्च के बाद से पांच पश्चिमी विक्षोभ दर्ज किए गए हैं, लेकिन इनमें से तीन कमजोर थे। इससे मौसम में महत्वपूर्ण बदलाव नहीं आया।

हीटवेव से कितने लोगों की मौत
– भारत में पिछले 50 वर्षों में हीटवेव ने 17,000 से अधिक लोगों की जान ले ली है।
– न्‍यूजपेपर द हिन्‍दू के अनुसार यह आंकड़ा आईएमडी के वैज्ञानिकों के एक रिसर्च का है।

फसल पर प्रभाव
– किसानों का कहना है कि अप्रत्याशित तापमान बढ़ने से उनकी गेहूं की फसल को प्रभावित किया है।
– गेहूं का बड़ा उत्‍पादक यूक्रेन और रूस है। वहां युद्ध के कारण दुनिया के देशों को गेहूं एक्‍सपोर्ट नहीं हो रहा है।
– ऐसे में उम्‍मीदें भारत से थी, लेकिन यहां हीटवेव से गेहूं की फसल पर बुरा असर हुआ है।
– जलवायु परिवर्तन से दुनिया में फूड क्राइसिस का खतरा है।

बिजली की डिमांड बढ़ी
– गर्मी ने बिजली की मांग में भी वृद्धि की है, जिससे कई राज्यों में बिजली गुल हो गई है और कोयले की कमी हुई है।

स्‍वास्‍थ्‍य पर असर
– “गर्मी के गंभीर स्वास्थ्य परिणाम हो सकते हैं।
– यदि रात में भी तापमान अधिक होता है, तो शरीर को स्वस्थ होने का मौका नहीं मिलता है, जिससे बीमारियों और मेडिकल बिलों की संभावना बढ़ जाती है।

—————-
2. टाटा समूह ने एयर एशिया को किस कंपनी में विलय करने की प्रक्रिया शुरू की?

a. विस्‍तारा
b. एयर इंडिया
c. एलायंस एयर
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: b. एअर इंडिया

– टाटा समूह जनवरी 2022 में अपने अधिग्रहण के बाद से एअर इंडिया के प्रदर्शन में सुधार करने का प्रयास कर रहा है।
– एयर एशिया इंडिया, जिसने जून 2014 में परिचालन शुरू किया, पूरे देश में अनुसूचित यात्री, कार्गो और चार्टर उड़ान सेवाएं प्रदान करती है।
– टाटा समूह ने एयर एशिया के एअर इंडिया में विलय के लिए भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (Competition Commission of India – CCI) ने अनुमति मांगी है।

विस्‍तार भी टाटा ग्रुप की
– विस्तारा एयरलाइंस का स्वामित्व भी टाटा समूह के पास है, हालांकि इसने अब तक विलय होने का विकल्प नहीं चुना है।

—————
3. भारत के मिशन कर्मयोगी कार्यक्रम के लिए $47 मिलियन की सहायता देने की मंजूरी किस अंतर्राष्‍ट्रीय वित्‍तीय संस्‍था ने दी?

a. आईएमएफ
b. एडीबी
c. ब्रिक्‍स बैंक
d. विश्‍व बैंक

Answer: d. विश्‍व बैंक

– मिशन कर्मयोगी – सिविल सेवा क्षमता निर्माण के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम
– देशभर में लगभग 180 लाख सिविल सेवक कार्यरत हैं, जिनमें से लगभग दो-तिहाई राज्य सरकार और स्थानीय प्राधिकरण स्तरों पर कार्यरत हैं।
– मिशन कर्मयोगी की शुरुआत केंद्र सरकार ने 2 सितंबर 2020 को की थी।

मिशन कर्मयोगी का लक्ष्‍य
– भारतीय सिविल सेवकों को और भी अधिक रचनात्मक, सृजनात्मक, विचारशील, इनोवेटिव, अधिक क्रियाशील, प्रगतिशील, ऊर्जावान, सक्षम, पारदर्शी और प्रौद्योगिकी समर्थ बनाते हुए भविष्य के लिये तैयार करना है।

————-
4. जलवायु और ऊर्जा क्षेत्र में किए गए प्रयासों को ट्रैक करने के लिए नीति आयोग ने किस इंडेक्स को लॉन्च किया?

a. स्टेट एनर्जी एंड क्लाइमेट इंडेक्स
b. क्लाइमेट चेंज पर्फोरमेंस इंडेक्स
c. ग्लोबल क्लाइमेट रिस्क इंडेक्स
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. स्टेट एनर्जी एंड क्लाइमेट इंडेक्स

– नीति आयोग ने 11 अप्रैल 2022 को स्टेट एनर्जी एंड क्लाइमेट इंडेक्स- राउंड-1 (SECI) को लॉन्च किया।
– यह पहला इंडेक्स है जिसका उद्देश्य क्लाइमेट और एनर्जी सेक्टर में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा किए गए प्रयासों को ट्रैक करना है।
– यह इंडेक्स वर्ष 2019-20 के डाटा पर आधारित है।

इंडेक्स के उद्देश्य
– एनर्जी एक्सेस,एनर्जी कंजप्शन, एनर्जी एफीसेंसी और पर्यावरण की सुरक्षा में सुधार की दिशा में राज्यों के प्रयासों के आधार पर राज्यों की रैंकिंग तैयार करना।
– राज्य स्तर पर सस्ती, सुलभ, कुशल और क्लीन एनर्जी के एजेंडे को चलाने में मदद करना।
– एनर्जी और क्लाईमेट के विभिन्न डाईमेंशन्स पर राज्यों के बीच हेल्थी कॉम्पटीशन को प्रोत्साहित करना।

यह इंडेक्स किन पैरामीटर्स पर राज्यो को रैंक करता है?
(1) DISCOM’s Performance (डिस्‍कॉम का प्रदर्शन)
(2) Access, Affordability and Reliability of Energy (ऊर्जा की पहुंच, सामर्थ्य और विश्वसनीयता)
(3) Clean Energy Initiatives (स्वच्छ ऊर्जा पहल)
(4) Energy Efficiency (ऊर्जा दक्षता)
(5) Environmental Sustainability (पर्यावरण में स्थिरता)
(6) New Initiatives (नई पहल)

नोट: इन पैरामीटर्स को भी 27 इंडिकेटर्स में बाटा गया है।

————–
5. स्टेट एनर्जी एंड क्लाइमेट इंडेक्स (राउंड-1) में बड़े राज्‍यों में किसे पहला स्‍थान मिला?

a. उत्‍तर प्रदेश
b. मध्‍य प्रदेश
c. गुजरात
d. केरल

Answer: c. गुजरात

कैटेगरी
SECI राउंड-1 स्कोर के आधार पर, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को तीन ग्रुप्स की कैटेगरी में बांटा गया है।
1. फ्रंट रनर
2. अचीवर्स
3. एस्पिरेंट्स

स्टेट एनर्जी एंड क्लाइमेट इंडेक्स- राउंड-1 में रैंक (बड़े राज्य)
1.गुजरात
2. केरल
3. पंजाब

स्टेट एनर्जी एंड क्लाइमेट इंडेक्स- राउंड-1 में रैंक (छोटे राज्य)
1. गोवा
2. त्रिपुरा
3. मणिपुर

स्टेट एनर्जी एंड क्लाइमेट इंडेक्स- राउंड-1 में रैंक (UT)
1.चंडीगढ़
2. दिल्ली
3. दमन और दीव/दादरा और नगर हवेली

नीति आयोग
– मुख्यालय: नई दिल्ली
– उपाध्‍यक्ष : सुमन बेरी
– सीईओ: अमिताभ कांत

————–
6. किस हाइवे सुरंग को IBC बेस्ट इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट पुरस्कार मिला?

a. अटल टनल
b. श्यामा प्रसाद मुखर्जी रोड टनल
c. पीर पंजाल रेलवे टनल
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: c. अटल टनल

– यह टनल हिमाचल प्रदेश के रोहतांग में है। यह हिमाचल प्रदेश को लद्दाख से जोड़ने में मदद करता है।
– इसका निर्माण बॉर्डर रोड्स ऑर्गेनाइजेशन (BRO) ने किया था।
– अटल टनल को 28 अप्रैल, 2022 को नई दिल्ली में इंडियन बिल्डिंग कांग्रेस (IBC) ‘बेस्ट इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट’ का पुरस्कार मिला।

अटल टनल
– अटल टनल का नाम भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा गया है।
– इस टनल का निर्माण वर्ष 2010 में शुरू हुआ था।
– दस मीटर चौड़ा अटल टनल करीब तीन हजार मीटर की ऊंचाई पर है
– न्यू ऑस्ट्रियन टनलिंग मेथड (NATM) का उपयोग करके इस टनल को बनाया गया है।
– इस टनल को 03 अक्टूबर, 2020 को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राष्ट्र को समर्पित किया गया था।

ऊंचाई पर दुनिया का सबसे लंबा टनल
– अटल टनल दुनिया का सबसे लंबा टनल है।
– वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने आधिकारिक तौर पर अटल टनल को दुनिया में 10,000 फीट से ऊपर की सबसे लंबी हाइवे टनल के रूप में प्रमाणित किया है।

————–
7. भारत ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में कितने फिनिश्ड स्टील का निर्यात किया?

a. 14.8 मिलियन टन
b. 13.5 मिलियन टन
c. 12.2 मिलियन टन
d. 10.2 मिलियन टन

Answer: b. 13.5 मिलियन टन

– भारत ने वित्तीय वर्ष 2021-22 में 13.5 मिलियन टन की फिनिश्ड (तैयार) स्टील मिलियन का निर्यात किया।
– इसका मूल्य एक लाख करोड़ रुपए था।
– इसके अलावा भारत ने 46 हजार करोड़ रुपए की स्टील का आयात भी किया है।
– भारत के स्टील सेक्टर ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए 420 बिलियन डॉलर के व्यापारिक निर्यात में अपना योगदान दिया।
– यह सारी जानकरी इस्पात और ग्रामीण विकास राज्य मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते ने 26 अप्रैल 2022 को नई दिल्ली में एक सम्मेलन में दी।

पिछले वित्त वर्ष में कितना निर्यात?
– 2020-21: 10.78 मिलियन टन

स्टील का उत्पादन और खपत
– राज्य मंत्री फग्गन सिंह के अनुसार वित्तीय वर्ष 21-22 में भारत में लगभग 106 मिलियन टन स्टील की खपत हुई और 120 मिलियन टन का उत्पादन है।
– यह खपत 11.5% बढ़ी है।
– भारतीय स्टील सेक्टर साल-दर-साल के आधार पर लगभग 5 प्रतिशत से 6 प्रतिशत की CAGR से बढ़ और फल-फूल रहा है।

स्टील उत्पादन के बढ़ावे के लिए क्या?
– भारत सरकार देश में स्पेशियलिटी स्टील का उत्पादन करने के लिए उत्पादन से संबद्ध प्रोडक्शन लिंक्ड स्कीम (PLI) को लेकर आई है।
– इसके अलावा खराब स्टील के निर्यात पर नियंत्रण भी लगा है।

————–
8. विश्व पशु चिकित्सा दिवस कब मनाया जाता है?

a. अप्रैल के पहले शनिवार
b. अप्रैल के दूसरे शनिवार
c. अप्रैल के तीसरे शनिवार
d. अप्रैल के आख़िरी शनिवार

Answer: d. अप्रैल के आख़िरी शनिवार

– वर्ष 2022 में यह दिवस 30 अप्रैल को मनाया गया।
– इसका उद्देश्‍य पशु स्वास्थ्य और कल्याण और सार्वजनिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देना है।

2022 की थीम
– पशु चिकित्सा के लचीलापन को मज़बूत करना
– Strengthening Veterinary Resilience

—————-
9. फ़िल्म और टीवी अभिनेता सलीम घोष का निधन हो गया, उन्‍होंने किस फिल्‍म से एक्‍टिंग की शुरुआत की थी?

a. स्वर्ग नरक
b. चक्र
c. सारांश
d. भारत एक खोज़

Answer: a. स्वर्ग नरक

– उन्होंने सन् 1978 में फ़िल्म स्वर्ग नरक से अपने अभिनय की शुरुआत की थी।
– श्याम बेनेगल की टीवी सीरीज़ भारत एक खोज़ में राम, कृष्ण और टीपू सुल्तान की भूमिकाएँ निभाईं।

—————-
10. व्हिटली गोल्ड अवॉर्ड (Whitley Gold Award) 2022 के भारतीय विजेता कौन हैं?

a. विवेक दास
b. चारुदत्त मिश्रा
c. आलम आरा
d. विश्‍वजीत सिंह

Answer: b. चारुदत्त मिश्रा

– यह अवॉर्ड उन्हें एशिया के उच्च पर्वतीय पारिस्थितिक तंत्र में बड़ी बिल्ली प्रजातियों (तेंदुए) के संरक्षण करने में उनके योगदान के लिए मिला है।
– उन्‍हें लंदन की रॉयल जियोग्राफिक सोसाइटी ने अप्रैल 2022 में यह पुरस्कार प्रदान किया।
– चारुदत्‍त मिश्र, मैसूर (कर्नाटक) स्थित नेचर कंजर्वेशन फाउंडेशन (Nature Conservation Foundation) के सह-संस्थापक और स्नो लेपर्ड ट्रस्ट (Snow Leopard Trust) के कार्यकारी निदेशक हैं।


1 thought on “1 & 2 May 2022 Current Affairs

Comments are disabled.