26 June 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 26 June 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. केंद्र सरकार ने नीति आयोग का नया CEO किसे नियुक्त किया?

a. परमेश्वरन अय्यर
b. अमिताभ कांत
c. शशांक बाजपेयी
d. अभिजीत कृष्ण विषेन

Answer: a. परमेश्वरन अय्यर

– केंद्र सरकार ने 24 जून 2022 को परमेश्वरन अय्यर को नीति आयोग का नया सीईओ नियुक्त किया।
– उन्हें अमिताभ कांत की जगह इस पद पर नियुक्त किया गया है।
– वर्तमान सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल 30 जून 2022 को पूरा हो रहा है।
– परमेश्वरन अय्यर, CEO के पद पर दो वर्ष तक अपनी सेवा देंगे।

परमेश्वरन अय्यर
– वह उत्तर प्रदेश कैडर के 1981 बैच के IAS अधिकारी है।
– वर्तमान में वह वर्ल्‍ड बैंक के जल संरक्षण कार्यक्रम ‘2030 जल संसाधन समूह’ के कार्यक्रम प्रबंधक हैं।
– उन्होंने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सचिव के रूप में भी कार्य किया है।
– उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में भी ग्रामीण जल स्वच्छता विशेषज्ञ के रूप में भी काम किया है।

नीति आयोग
– मुख्यालय: नई दिल्ली
– उपाध्यक्ष : सुमन बेरी
– अध्‍यक्ष : प्रधानमंत्री

————–
2. WTO के 12वीं मंत्रिस्‍तरीय कांफ्रेंस में भारत के किस बौद्धिक संपदा अधिकार संबंधित TRIPS प्रस्ताव को स्वीकार किया गया?

a. निर्यात पर कस्टम ड्यूटी
b. चीन के डिजिटल प्रोडक्ट्स पर प्रतिबंध
c. मांस निर्यात पर छूट
d. कोविड-19 वैक्सीन पर पेटेंट की छूट

Answer: d. कोविड-19 वैक्सीन पर पेटेंट की छूट (patent waiver on Covid-19 vaccines)

– WTO की 12वीं मंत्रिस्‍तरीय कांफ्रेंस 12-16 जून 2022 को जेनेवा (स्विट्जरलैंड) में आयोजित हुई।
– बैठक में वैक्सीन पर भारत के बौद्धिक संपदा अधिकारों के व्यापार-संबंधी पहलू (TRIPS – Trade-Related Aspects of Intellectual Property Rights) से संबंधित प्रस्ताव को स्वीकार किया गया।
– भारत का प्रस्‍ताव था कि कोविड-19 वैक्‍सीन के उत्‍पादन पर पेटेंट छूट मिले।
– मतलब कि अगर किसी कंपनी ने वैक्‍सीन पर पेटेंट करवा रखा है, तो बिना अनुमति के इसके उत्‍पादन और निर्यात की छूट दी जाए।
– इससे सस्‍ती दरों पर वैक्‍सीन की पहुंच होगी और गरीब देशों को फायदा होगा।
– WTO ने भारत के इस प्रस्‍ताव को स्‍वीकार कर लिया।
– इसके लिए किसी सहमति की आवश्यकता नहीं होगी और साथ ही निर्यात पर कोई सीमा नहीं होगी।

डायग्नोस्टिक्स) / थेरप्यूटिक्स पर फैसला आना बाकी
– WTO डायग्नोस्टिक्स) / थेरप्यूटिक्स पर फैसला अगले 6 महीने में लिया जाएगा।

TRIPS – Trade-Related Aspects of Intellectual Property Rights
– यह विश्व व्यापार संगठन के सभी सदस्य देशों के बीच एक अंतरराष्ट्रीय कानूनी समझौता होता है।

WTO
मुख्यालय- जेनेवा, स्विट्जरलैंड
महानिदेशक- नगोजी ओकोंजो-इवेला

————–
3. WTO ने 12वीं मंत्रिस्‍तरीय कांफ्रेंस में भारत के दबाव में किस क्षेत्र में मछली पकड़ने के लिए सब्सिडी पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया?

a. हिंद महासागर
b. एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन
c. पूरी दुनिया के समुद्र
d. दक्षिण चीन सागर

Answer: b. एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन (EEZ)

– WTO की 12वीं मंत्रिस्‍तरीय कांफ्रेंस 12-16 जून 2022 को जेनेवा (स्विट्जरलैंड) में आयोजित हुई।
– केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने इस कांफ्रेंस में भारत का प्रतिनिधित्व किया।
– वर्ष 2015 के बाद ऐसा पहली बार हुआ, जब WTO में ठोस फैसले लिए गए। दरअसल, विकसित और विकासशील देशों के बीच मतभेद की वजह से फैसले नहीं हो पाते थे।

– WTO ने भारत के एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन के अंदर मछली पकड़ने के लिए सब्सिडी पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया है।
– दरअसल, विकसित देश चाहते थे कि मछली पकड़ने के उद्योग से जुड़े लोगों पर सब्सिडी खत्‍म हो।
– इस तरह की सब्सिडी ज्‍यादातर विकासशील देश अपने मछुआरों और फिशिंग इंडस्‍ट्री के सर्वाइवल के लिए जरूरी है।
– अगर सब्सिडी बंद हो जाएं, तो मछुआरों को मछली पकड़ना महंगा पड़ेगा। इसका फायदा विकसित देशों की मल्‍टीनेशनल फिशिंग कंपनियों को होगा।
– भारत और कई विकासशील देशों के दबाव में WTO ने सब्‍सिडी खत्‍म करने के प्रस्‍ताव को टाल दिया।
– हालांकि भारत को इसके बदले विकसित देशों के साथ महंगी डील करनी पड़ी।

मछुआरों की सब्सिडी बचाने के लिए भारत ने किस चीज पर सहमति जताई?
– देश के मछुआरों की सब्सिडी बचाने के लिए भारत को डिजिटल प्रोडक्ट्स के बड़े निर्यातक देशों की आयात शुल्क पर 18 महीने की मोरटोरियम ( छूट) पर सहमति जतानी पड़ी।

भारत का एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन (EEZ)
– एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन तट से 200 नॉटिकल माइल्स तक होता है।
– हालांकि इस दायरे में अगर कोई देश आ जाता है, तो यह आधा-आधा बंट जाता है।
– भारत का एक्सक्‍लूसिव इकोनॉमिक जोन लगभग 2 मिलियन वर्ग किलोमीटर है, जोकि काफी बड़ा है।
– भारत की कोस्टलाइन (समुद्री तटरेखा) लगभग 7.5 हज़ार किलोमीटर लंबी है।
– इस कोस्टलाइन में नौ राज्य और दो केन्द्रशासित प्रदेश आते है।

एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन (EEZ) में ब्लू इकोनॉमी
– इकोनॉमिक ग्रोथ, बेहतर जीवन, नौकरी और ओसियन इकोसिस्टम हेल्थ के लिए समुद्री संसाधनों का सतत प्रयोग करना ही ब्लू इकोनॉमी है।
– ब्लू इकोनॉमी के अंतर्गत समुद्रों की सफाई और विकास की बात की जाती है।
– रिन्यूवल एनर्जी, फिर्शीज (मछली पालन), मैरीटाइम ट्रांसपोर्ट(समुद्री ट्रान्सपोर्ट), ट्यूरजम, क्लाइमेट चेंज और वैस्ट मैनेजमेंट भी इसमें शामिल है।
– ब्लू इकोनॉमी सामाजिक समावेश, पर्यावरणीय स्थिरता के साथ महासागर अर्थव्यवस्था के विकास के एकीकरण पर जोर देती है, जोकि नए बिजनेस मॉडल के साथ संयुक्त है।

—————-
4. हरियाणा सरकार ने कितने खिलाड़ियों को जून 2022 में भीम पुरस्कार से पुरस्कृत किया?

a. 52
b. 55
c. 60
d. 65

Answer: a. 52

– हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने 23 जून 2022 को 52 खिलाड़ियों को भीम पुरस्कार से पुरस्कृत किया।
– यह पुरस्कार खिलाड़ियों को स्पोर्ट्स में उनके योगदान के लिए दिया गया है।
– प्रत्येक खिलाड़ी को पांच लाख रुपए, भीम मूर्ति, टाई, ब्लेजर और प्रशस्ति पत्र से पुरस्कृत किया गया।
– इन खिलाड़ियों को 5000 रुपए प्रतिमाह मानदेय के रूप में भी दिया जाएगा।

खेलो इंडिया यूथ गेम्स- 2021 में हरियाणा का दबदबा
– खेलो इंडिया यूथ गेम्स-2021 में हरियाणा ने कुल 137 पदक जीते हैं।

भीम पुरस्कार
– भीम पुरस्कार हरियाणा सरकार द्वारा दिया जाने वाला सर्वोच्च खेल सम्मान है।
– यह पुरस्कार खिलाड़ियों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए दिया जाता है।
– इस पुरस्कार की शुरुआत वर्ष 2001 में हुई।

हरियाणा
राजधानी – चंडीगढ़
सीएम – मनोहर लाल खट्टर
राज्‍यपाल – बंडारू दत्‍तात्रेय

————–
5. देश के सबसे बड़े बैंक फ्रॉड (34,615 करोड़ रुपए) के आरोप में CBI ने किस NBFC और इसके पूर्व अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज किया?

a. Muthoot Finance
b. Bajaj Finvest
c. PFC
d. DHFL

Answer: d. DHFL (दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड)

– इसे भारतीय बैंकिंग इतिहास में सबसे बड़ा घोटाला बताया जा रहा है।
– यह विजय माल्‍या बैंक फ्रॉड (22,500 करोड़), नीरव मोदी व मेहुल चोकसी बैंक घोटाला (14,000 करोड़) और उसके बाद हुए ABG शिपयार्ड घोटाले (22,842 करोड़ रुपए) से भी बड़ा है।

कितना बड़ा बैंक घोटाला
– DHFL ने इस फ्रॉड के जरिए एक-दो नहीं, बल्कि 17 बैंकों को 34,615 करोड़ रुपए का चूना लगाया।
– DHFL पर UBI (यूनियन बैंक ऑफ इंडिया) के नेतृत्व वाले 17 बैंकों के समूह (कंर्सोटियम) से 34,615 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप है।
– यूनियन बैंक की शिकायत पर CBI ने फरवरी 2022 में DHFL और उसके तत्कालीन चेयरमैन और MD कपिल वधावन और प्रमोटर डायरेक्टर धीरज वधावन सहित 13 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज किया है।
– इनपर आरोप है कि जिस काम के लिए लोन लिया, उसे न करके रकम का निजी उपयोग कर लिया।

DHFL (दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड)
– अप्रैल 1984 में स्थापित, DHFL एक नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (NBFC) है।

नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (NBFC)
– नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी अर्थात गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनी।
– यह कंपनी बैंक की भांति काम करती है।
– परंतु इस कंपनी को कानूनी रूप से बैंक का लाइसेंस प्राप्त नहीं होता है।
– यह कंपनी लोन के लेनदेन का काम करती है।

कब का है घोटाला?
– यूनियन बैंक की शिकायत के अनुसार, यह घोटाला वर्ष 2010-2018 तक का है।
– बैंक ने आरोप लगाया है कि DHFL ने वर्ष 2010 से 2018 के बीच बैंकों के समूह से 42,871 करोड़ रुपये लोन के रूप में लिए थे।
– लेकिन मई, 2019 से लोन चुकाने में नाकामयाब रही।
– लोन का 34,615 करोड़ रुपये बाकी है।
– वर्ष 2019 में लोन देने वाले बैंकों ने कंपनी के लोन को NPA (non performing asset) [जिस लोन की वसूली न हो पाए] घोषित कर दिया और वर्ष 2020 में फ्रॉड घोषित कर दिया।

घोटाले का पता कैसे चला?
– वर्ष 2019 में लोन देने वाले बैंकों ने ऑडिट करने वाली संस्था KPMG को DHFL का ऑडिट करने की जिम्मेदारी दी।
– ऑडिट रिपोर्ट में सामने आया कि DHFL प्रमोटर्स के साथ संबंध रखने वाली 66 संस्थाओं को 29,100 करोड़ रुपये दिए गए हैं।
– रिपोर्ट के अनुसार बैंक से लिए गए पैसे को संस्थाओं और व्यक्तियों भूमि और संपत्तियों में निवेश किया था। यह नियम के खिलाफ था। इसी वजह से लोन चुकाने में DHFL डिफॉल्‍ट कर गया।

————–
6. किस देश ने ब्रिक्स शिखर सम्मेलन 2022 की मेजबानी की?

a. भारत
b. रूस
c. चीन
d. ब्राजील

Answer: c. चीन

BRICS : Brazil, Russia, India, China, and South Africa

– चीन 23-24 जून 2022 को आयोजित 14वें ब्रिक्‍स शिखर सम्‍मेलन की मेजबानी की।
– यह शिखर सम्मेलन वर्चुअल मोड में आयोजित हुआ।

पांच देशों के राष्ट्राध्यक्ष शामिल हुए
– भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
– रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन
– दक्षिण अफ्रीका के प्रेसिडेंट सिरिल रामाफोसा
– ब्राजील के प्रेसिडेंट जायर बोल्सोनारो
– चीन के प्रेसिडेंट शी जिनपिंग

ब्रिक्‍स शिखर सम्मेलन 2022 में पांचों देशों ने क्या कहा?

भारत ने वैश्विक अर्थव्यवस्था पर बात की
– पीएम मोदी ने कोरोना महामारी के बाद की वैश्विक अर्थव्यवस्था को मजबूत करने पर अपने विचार रखे।
– मोदी ने कहा कि उनका मानना है कि ब्रिक्स देशों के पास वैश्विक अर्थव्यवस्था के लिए एक समान दृष्टिकोण है।
– इसलिए, ब्रिक्स देश वैश्विक आर्थिक सुधार में उपयोगी योगदान दे सकते हैं।
– उन्होंने न्यू डेवलपमेंट बैंक की बढ़ती सदस्यता और उन परिवर्तनों के बारे में बात की जिसने ब्रिक्स देशों के प्रभाव को बढ़ाया है।

चीन ने विश्व शांति पर बात की
– राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने विश्व शांति पर बात की और कहा कि हमें कॉल्ड वॉर की मानसिकता से दूर रहना चाहिए।
– इसके अलावा दूसरे देशों द्वारा लगाए कई प्रतिबंधों का विरोध करना चाहिए।
– उन्होंने ब्रिक्स देशों से एक-दूसरे का समर्थन करने और चीन द्वारा प्रस्तावित वैश्विक सुरक्षा पहल का संचालन करने को कहा।
– ग्लोबल साइंस और तकनीकी को बेहतर करने पर जोर दिया और क्रॉस-बॉर्डर पेमेंट को लेकर ब्रिक्स देशों के सहयोग को बढ़ाने की बात की।
– इसके अलावा उन्होंने कई क्षेत्रों में यूक्रेन के बारे में भी बात की।

रूस ने संगठित रहने की बात की
– राष्ट्रपति पुतिन ने यूक्रेन विवाद को लेकर पश्चिम देशों द्वारा रूस पर लगाए गए प्रतिबंधों को लेकर बात की।
– उन्होंने ने ब्रिक्स देशों को इन प्रतिबंधों के बीच रूस की सहायता करने की बात की।
– इसके अलावा ब्रिक्स देशों को संगठित रहने की भी बात की।

दक्षिण अफ्रीका ने ब्रिक्स देशों के व्यापार पर बात की
– राष्ट्रपति रामफोसा ने कहा कि संपूर्ण संयुक्त राष्ट्र प्रणाली में निर्णय लेने को लोकतांत्रिक बनाने की आवश्यकता है।
– उन्होंने ने अंतर-ब्रिक्स व्यापार, निवेश और पर्यटन को मजबूत करने की आवश्यकता पर जोर दिया।

ब्राजील ने संयुक्त राष्ट्र के कार्यप्रणाली में सुधार लाने की बात की
– राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो ने कहा कि ब्रिक्स को संयुक्त राष्ट्र में सुधार के प्रयासों में शामिल होना चाहिए।
– ताकि ब्रिक्स देशों का प्रतिनिधित्व सही तरीके से हो सके।
– उन्होंने विशेष रूप से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का भी उल्लेख किया और विश्व बैंक और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष में सुधारों की बात की।
– ब्रिक्स देशों को वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुधार लाने और रोजगार बढ़ाने की बात की।

ब्रिक्स
– मुख्यालय : शंघाई, चीन
– स्थापना : 2009
– यह 5 महत्वपूर्ण इमर्जिंग इकोनॉमी का संगठन है।
– यह समूह दुनिया की 41 प्रतिशत आबादी का प्रतिनिधित्व करता है।
– दुनिया की GDP का 24 प्रतिशत ब्रिक्‍स देशों का है।
– भारत अब तक तीन बार 2012, 2016 और 2022 समिट की अध्यक्षता कर चुका है।

————-
7. फीफा (FIFA) वर्ल्ड रैंकिंग (जून 2022) में भारतीय पुरुष टीम का स्‍थान बताएं?

a. 103
b. 104
c. 108
d. 110

Answer: b. 104

– FIFA ने 23 जून 2022 को मेन्स कैटेगरी की नई वर्ल्ड रैंकिंग को जारी किया।
– भारत की जून 2022 में मेन्स कैटेगरी में 104वीं रैंक रही।
– मेन्स कैटेगरी की मार्च 2022 में 106 रैंक थी।
– अगली फीफा वर्ल्ड रैंकिंग 25 अगस्त 2022 को जारी होगी।

टॉप-10 देश (मेन्स कैटेगरी)
1. ब्राजील
2. बेल्जियम
3. अर्जेंटीना
4. फ्रांस
5. इंग्लैंड
6. स्पेन
7. इटली
8. नीदरलैंड
9. पुर्तगाल
10. डेनमार्क

मेन्स फीफा वर्ल्डकप 2022
– यह वर्ल्डकप कतर में 21 नवंबर से 18 दिसंबर 2022 तक चलेगा।
– इस वर्ल्डकप की मेजबानी कतर करेगा।

भारतीय पुरुष फुटबॉल टीम के कप्‍तान – सुनील छेत्री

—————
8. फीफा (FIFA) वर्ल्ड रैंकिंग (जून 2022) में भारतीय महिला टीम का स्‍थान बताएं?

a. 50
b. 52
c. 56
d. 60

Answer: c. 56

– FIFA ने 17 जून 2022 को वुमेन्स कैटेगरी की नई वर्ल्ड रैंकिंग को जारी किया।
– भारत की जून 2022 में वुमेन्स कैटेगरी में 56 वीं रैंक रही।
– वुमेन्स कैटेगरी की मार्च 2022 में 59 रैंक थी।

टॉप-10 देश (वुमेन्स कैटेगरी)
1. अमेरिका
2. स्वीडन
3. फ्रांस
4. नीदरलैंड
5. जर्मनी
6. कनाडा
7. स्पेन
8. इंग्लैंड
9. ब्राजील
10. नॉर्थ कोरिया

वुमेन्स फीफा वर्ल्डकप 2023
– यह वर्ल्डकप ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 19 जुलाई से 20 अगस्‍त 2023 तक चलेगा।
– इस वर्ल्डकप की मेजबानी ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड करेंगे।

भारतीय महिला फुटबॉल टीम की कप्‍तान – लोइटोंगबाम आशालता देवी

————–
9. स्‍टॉक एक्‍सचेंज BSE के निदेशक मंडल ने नया चेयरमैन किसे नियुक्‍त किया?

a. एस एस मूंदड़ा
b. अखिल मुखर्जी
c. वीके गहलोत
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. एस एस मूंदड़ा

– उनका करीब चार दशक का बैंक‍िंग कॅरियर है।
– वह यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के कार्यकारी निदेशक और RBI के डिप्‍टी गवर्नर रह चुके हैं।

BSE
– पहले यह बॉंबे स्‍टॉक एक्‍सचेंज के नाम से जाना जाता था।
– स्‍थापना : 1875
– स्‍थान : मुंबई

—————-
10. अंतर्राष्ट्रीय नाविक दिवस (Day of the Seafarer) कब मनाया जाता है?

a. 23 जून
b. 24 जून
c. 25 जून
d. 26 जून

Answer: c. 25 जून

वर्ष 2022 की थीम : Your voyage – then and now, share your adventure

– यह दिवस वैश्विक व्यापार और अर्थव्यवस्था में नाविकों द्वारा किए गए महत्वपूर्ण योगदान का सम्मान करने के लिए मनाया जाता है।