7 to 9 April Current Affairs

7th to 9th April 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 7th to 9th April 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. केन्द्र सरकार ने किस देश के हैकर्स द्वारा भारतीय पॉवर प्लांट्स को हैक करने की नाकाम कोशिश की पुष्टि की?

a. चीन
b. फ्रांस
c. रूस
d. अमेरिका

Answer: a. चीन

– मिनिस्टर ऑफ पॉवर आर के सिंह ने 07 अप्रैल 2022 को इसके बारे में खुलासा किया।
– उन्‍होंने कहा कि चीनी हैकर्स ने कम से कम दो बार लद्दाख के पास वाले बिजली वितरण केंद्र को हैक करने की कोशिश।
– हालांकि पावर प्‍लांट्स के कंप्‍यूटर की सिक्‍योरिटी की वजह से हैकर्स असफल रहे।
– हालांकि आरके सिंह ने चीनी हैकर्स का चीनी सरकार से संबंध होने की बात पर कोई पुष्टि नहीं की।

विदेश मंत्रालय के पास नहीं साइबर अटैक्स की जानकारी
– विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि मंत्रालय के पास वर्तमान में चीनी साइबर अटैक्स को लेकर कोई जानकारी नहीं है।
– लेकिन भारत के पास इन अटैक्स को काबू करने के लिए पर्याप्त सुरक्षा तंत्र है।

यूएस की सिक्योरिटी फर्म ने भी हैक होने की पुष्टि की
– यूएस की सिक्योरिटी फर्म रिकॉर्डेड फ्यूचर ने 06 अप्रैल 2022 की रिपोर्ट में कहा कि हाल ही के महीनों में उसने, सात भारतीय स्टेट लॉड डिस्पेच सेन्टर्स (SLDCs) में नेटवर्क घुसपैठ (हैकिंग) पाया है।
– SLDCs जोकि राज्यों के भीतर ग्रिड नियंत्रण और बिजली प्रेषण को संचालन करता है।
– रिपोर्ट के अनुसार यह नेटवर्क घुसपैठ लद्दाख में भारत-चीन सीमा के निकट पायी गई है।

किस ग्रुप ने भारत में हैकिंग की कोशिश की
– चीन के हैकिंग ग्रुप थ्रेट एक्टिविटी ग्रुप -38 (TAG-38) और रेड इको।

क्‍यों होती है हैकिंग?
– रिपोर्ट में कहा गया है कि चीनी हैकर्स द्वारा भारतीय पावर ग्रिड परिसंपत्तियों (assets) से सीमित आर्थिक जासूसी या खुफिया जानकारी जुटाने के ली गई है।
– हैकिंग के जरिए बिजली सप्‍लाई को कभी भी ठप करने की कोशिश भी हो सकती है।

चीन ने इस रिपोर्ट को लेकर क्या कहा?
– रिकॉर्डेड फ्यूचर की रिपोर्ट पर जवाब देते हुए चीन के विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन झाओ लिजिआन ने कहा कि हमने इन रिपोर्ट्स को नोट कर लिया है।
– जैसा कि मैंने कई बार दोहराया, हम सभी प्रकार की हैकिंग गतिविधियों का पुरजोर विरोध करते हैं और उन पर नकेल कसते हैं।
– हम ऐसी गतिविधियों को कभी भी प्रोत्साहित, समर्थन या अनदेखा नहीं करेंगे।

चीन ने यूएस पर लगाया आरोप
– झाओ लिजिआन ने कहा कि साइबरस्पेस में यह विशेषता है कि यह वर्चुअल है और इसमें कई खिलाड़ी हैं, और संबंधित मामलों को नामित करने में पर्याप्त सबूत होने चाहिए।
– ऐसा करने में बहुत सावधानी की आवश्यकता होती है।
– जैसा कि सभी जानते हैं, अमेरिका हैकिंग का साम्राज्य है।
– अमेरिका ने दुनिया में सबसे ज्यादा हैकिंग गतिविधियां शुरू की हैं।
– अगर अमेरिका को वास्तव में साइबर सुरक्षा की परवाह है, तो उसे चीनी कंपनियों और संस्थानों के खिलाफ यू.एस. द्वारा शुरू किए गए हमलों पर अधिक ध्यान देना चाहिए।

भारत पर इससे पहले भी हुए साइबर अटैक्स
– वर्ष 2020 में गलवान घटना के बाद मुंबई में अचानक बिजली बाधित हो गई थी। उस दौरान कई मीडिया रिपोर्ट्स में आशंका जताई गई थी कि चीन ने हैकिंग के जरिए ऐसा किया था।
– ‘रिकॉर्डेड फ्यूचर’ ऑर्गेनाइजेशन ने मार्च 2021 में पाया था कि जून, 2020 को गालवान घटना के बाद भारत सरकार, रक्षा संगठनों और पब्लिक सेक्टर को टारगेट करने वाले मालवेयर की वृद्धि हुई है।
– तब केन्द्र सरकार ने कहा था कि घुसपैठ के कई प्रयास किए गए लेकिन पॉवर सेक्टर को इम्पेक्ट नही कर सके।
– 3 मार्च, 2021 को, महाराष्ट्र के बिजली मंत्री नितिन राउत ने घोषणा की कि एक राज्य साइबर सेल की जांच में महाराष्ट्र राज्य बिजली ट्रांसमिशन कंपनी के ”सर्वर में 14 ट्रोजन हॉर्स” पाए गए थे, जिनमें बिजली वितरण को बाधित करने की क्षमता थी।

—————
2. संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा ने वोटिंग के जरिए रूस को UN के किस परिषद से निलंबित कर दिया?

a. UN सिक्‍योरिटी काउंसिल
b. UN ह्यूमनराइट्स काउंसिल
c. UN ट्रस्‍टशिप काउंसिल
d. यूनेस्‍को

Answer: b. UN ह्यूमनराइट्स काउंसिल (UNHRC)

– यूनाइटेड नेशंस जनरल असेंबली (UNGA) ने 7 अप्रैल 2022 को वोटिंग के जरिए यह फैसला लिया।
– इस दौरान रूस के खिलाफ 93 और पक्ष में 24 वोट पड़े।
– भारत समेत 58 देश वोटिंग से बाहर रहे।
– दरअसल, यूक्रेन के बूचा शहर में रूसी सैनिकों द्वारा नरसंहार की खबरों के बाद रूस के खिलाफ वोटिंग हुई थी।
– मुद्दा रूस को UNHRC से निलंबित करने का था।
– रूस के खिलाफ प्रस्ताव पास हो गया, लेकिन इस वोटिंग पैटर्न और दूसरे देशों के रोल को देखा जाए तो ऐसा समझ में आता है कि रूस का भी समर्थन बढ़ा है।

UNHRC
– यह यूनाइटेड नेशंस सिस्‍टम का एक इंटर-गवर्नमेंटल बॉडी (निकाय) है।
– UN के किस ऑर्गन का हिस्‍सा : UNGA
– जिम्‍मेदारी : दुनिया भर में मानवाधिकारों के प्रचार और संरक्षण को मज़बूत करना।
– स्‍थापना वर्ष : 2006 (इसने मानवाधिकार पर पूर्व संयुक्त राष्ट्र आयोग का स्थान लिया था।)
– मुख्‍यालय : जेनेवा, स्‍वीट्जरलैंड
– सचिवालय का नाम : Office of the United Nations High Commissioner for Human Rights (OHCHR)
– कुल सदस्‍य देश : 47
– अब तक कितने देश UNHRC से निलंबित हुए : 2 देश (2011 में लीबिया और 2022 में रूस)
– रूस पर आरोप : यूक्रेन में रूसी सेना का मानवाधिकार हनन।
– रूस की सदस्‍यता निलंबित करने का प्रस्‍ताव किसने दिया: अमेरिका।

UNHRC सदस्‍यता कैसे मिलती है?
इसके सदस्‍य देश 47 होते हैं। इनका चुनाव संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) द्वारा वोटिंग के जरिए होता है।
– सदस्‍यों का कार्यकाल : तीन वर्ष। लगातार दो कार्यकाल की सेवा के बाद कोई भी सदस्य तत्काल पुन: चुनाव के लिये पात्र नहीं होता है।
– भारत 1 जनवरी 2019 से तीन साल की अवधि के लिये परिषद के लिये चुना गया था।

दुनिया के इन क्षेत्रों से सदस्‍य
– अफ्रीकी देश: 13 सीटें
– एशिया-प्रशांत देश: 13 सीटें
– लैटिन अमेरिकी और कैरेबियन देश: 8 सीटें
– पश्चिमी यूरोपीय और अन्य देश: 7 सीटें
– पूर्वी यूरोपीय देश: 6 सीटें

प्रस्‍ताव के पक्ष (रूस के विरोध में) वोट
– अमेरिका सहित 93 देश

प्रस्‍ताव के विरोध में (रूस के पक्ष में) वोट
– चीन, रूस, अल्जीरिया, बेलारुस, बोलीविया
– बुरुंडी, सेंट्रल अफ्रीकन रिपब्लिक, कॉन्गो
– क्यूबा, नॉर्थ कोरिया, एरीट्रिया, इथियोपिया
– गैबन, इरान, कजाकिस्तान, कीर्गिस्तान, लाओस
– माली, निकारागुआ, सीरिया, ताजिकिस्तान,
– उज्बेकिस्तान, वियतनाम, जिम्बॉब्वे

प्रस्‍ताव पर वोट नहीं देने वाले देश
– भारत, बांग्लादेश,पाकिस्तान, भूटान, ब्राजील, इंडोनेशिया, घाना,इराक, कुवैत, नेपाल, मलेशिया, मालदीव, सूरीनाम, सिंगापुर समेत 58 देश वोटिंग से दूर रहे।

UN में भारत के स्‍थाई प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने क्‍या कहा?
– भारत हमेशा डायलॉग और डिप्‍लोमेसी की बात करता रहा है।
– भारत, बूचा में सिविलियन किलिंग की रिपोर्ट आने के बाद घटना का कंडेम करता है और इंडिपेंडेंट इन्‍वेस्टिगेशन की मांग करता है।
– यह युद.ध फूड और एनर्जी कॉस्‍ट को बढ़ा रहा है, जो डेवलपिंग कंट्री को संकट में डाल रहा है।
– दोनों पक्षों को जल्‍दी रिजोल्‍यूशन करना चाहिए। भारत ह्यूमन राइट्स को लेकर आगे रहा है।

भारत ने रूस का समर्थन क्‍यों नहीं किया?
– रूस के खिलाफ इससे पहले संयुक्‍त राष्‍ट्र में हुई वोटिंग में भारत अनुपस्थित रहा है।
– उस वक्‍त ऐसा करना रूस के पक्ष में ही गया था।
– लेकिन UNHRC से रूस के निलंबन के प्रस्‍ताव पर अनुपस्थित रहने का मतलब रहा कि भारत ने रूस का साथ नहीं दिया।
– रूस ने वोटिंग से पहले दुनिया के देशों को चेतावनी दी थी कि अगर किसी देश ने प्रस्‍ताव के पक्ष में वोट दिया या अनुपस्थित रहा, तो इसे गैरमित्रता वाला संकेत (unfriendly gesture) माना जाएगा।
– वोटिंग से पहले रूसी अधिकारी ने भारतीय डिप्‍लोमेट से इस मामले में संपर्क भी किया था।
– इसके बावजूद भारत ने अनुपस्थित रहने का फैसला किया।
– दरअसल, बूचा में नरसंहार की घटना बेहद भयावह है। ऐसे में भारत ने वोट न करने का फैसला काफी सोच-समझकर लिया।

फाउंडिंग चार्टर के अनुसार United Nations के Six principal organs:
– General Assembly
– Security Council
– Economic and Social Council
– Trusteeship Council
– International Court of Justice
– Secretariat

(Note – यह मेन ऑर्गन है. बाकि अन्‍य जैसे कि WHO, IMF, UNESCO, ILO स्‍पेशिलाइज्‍ड एजेंसी हैं UN की)

—————-
3. लोकसभा ने ‘सामूहिक विनाश के हथियार’ (WMD) के कानून बदलाव के विधेयक को पास किया, इसके तहत किस तरह के हथियार आते हैं?

a. न्‍यूक्लियर
b. जैविक
c. रासायनिक
d. उपरोक्‍त सभी

Answer: d. उपरोक्‍त सभी (Nuclear, Biological, Chemical)

– विधेयक के जरिए भारत वर्ष 2005 के कानून में बदलाव कर रहा है।

—————–
4. लोकसभा ने ‘वेपन्स ऑफ मास डिस्ट्रक्शन’ (WMD) के कानून बदलाव के विधेयक को पास किया, इसके तहत क्‍या प्रावधान है?

a. WMD फंडिंग करने वाले की संपत्ति जब्‍त
b. WMD का निर्यात
c. WMD फंडिंग
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. WMD फंडिंग पर प्रतिबंध

सवाल
– सामूहिक विनाश के हथियार (WMD) क्‍या होते हैं?
– इंडिया अपना कानून क्‍यों चेंज कर रहा है?
– विधेयक में क्‍या प्रावधान?
– किस अंतर्राष्‍ट्रीय संगठन के रेकोमेंडेशन पर कानून में बदलाव?

विधयेक का नाम :
– वेपन्स ऑफ मास डिस्ट्रक्शन एंड दियर डिलीवरी सिस्टम(प्रोहिविशन ऑफ अनलॉफुल एक्टविटीज) एमेंडमेंट बिल, 2022
[The Weapons of Mass Destruction and their Delivery Systems (Prohibition of Unlawful Activities) Amendment Bill, 2022]

किस वर्ष के कानून में बदलाव : 2005

सामूहिक विनाश के हथियार (WMD – Wepons of Mass Destruction) क्‍या होते हैं?
– न्‍यूक्लियर वेपन, बायोलॉजिक (जैविक) वेपन और केमिकल वेपन।

– न्‍यूक्लियर वेपन : परमाणु बम, जिससे सामूहिक विनाश होता है।
– बायलॉजिकल वेपन : वायरस या बैक्‍टीरिया को वेपन की तरह यूज किया जाता है। बड़ी आबादी को मारने और बीमार करने के लिए उपयोग होते हैं।
– केमिकल वेपन – गैस या लिक्विड के फॉर्म में यूज होता है। इससे बड़ी आबादी मर सकती है, या बीमार हो सकती है।

किस अंतर्राष्‍ट्रीय संगठन के रेकोमेंडेशन पर कानून में बदलाव?
– FATF : फाइनेंशियल एक्‍शन टास्‍ट फोर्स।
– FATF का मुख्‍यालय : पेरिस (फ्रांस)
– FATF के सदस्‍य देश : 39

वेपन ऑफ मास डिस्‍ट्रक्‍शन का सबसे बड़ा डर
– खतरा है कि ऐसा संगठन या देश, जिसपर कोई रेस्‍पॉंसिबिलिटी नहीं है, उनके हाथ में ‘वेपन ऑफ मास डिस्‍ट्रक्‍शन’ लग गए, तो वे बड़ी संख्‍या में लोगों को मार सकते हैं।
– इस स्थिति को भांपते हुए UN सिक्‍योरिटी काउंसिल ने FATF को इस मसले पर सदस्‍य देशों में कानून बनवाने की जिम्‍मेदारी दी।
– FATF ने कुछ साल पहले एक इनीशिएटिव स्‍टार्ट किया।
– इसके तहत जो भी मेंबर कंट्री हैं, उनको कहा गया कि जो वेपन ऑफ मास डिस्‍ट्रक्‍शन को रोकेंगे।
– अगर देश को पता लग गया कि कोई आदमी या संगठन WMD प्रोग्राम को फंडिंग कर रहा है, तो उसपर एक्‍शन लेंगे।
– उसके एसेट पैसे, बैंक अकाउंट को फ्रीज कर देंगे। बाद में उसपर मुकदमा और कानूनी कार्रवाई चलती रहेगी।
– ताकि गलत लोगों के हाथ में वेपन ऑफ डिस्‍ट्रक्‍शन हाथ न लगे।
– दरअसल, आज के समय में ब्‍लैक मार्केट में न्‍यूक्लियर वेपन बेचने के भी मामले सामने आए हैं।

FATF ने क्‍या रेकोमेंड किया?
– FATF कह रहा है कि तमाम सदस्‍य देश ऐसा कानून पास करें, जिससे वेपन ऑफ मास डिस्‍ट्रक्‍शन की फंडिंग करने वाले व्‍यक्ति या संगठन पर तुरंत एक्‍शन हो।

भारत के 2005 के कानून में प्रावधान
– भारत ने पहले से मौजूद कानून ‘Weapons of Mass Destruction and their Delevery Systems (Prohibition of Unlawful Activities) Act, 2005’ में बदलाव किया है।
– इसमें WMD के वितरण, निर्माण, परिवहन और हस्तांतरण पर प्रतिबंध का प्रावधान है।
– इसमें नियम है कि अगर कोई व्‍यक्ति न्‍यूक्लियर वेपन की टेक्‍नोलॉजी और मैटेरियल का स्‍मगलिंग करता पाया गया, तो उसे सजा होगी।
– काई भी व्‍यक्ति डायरेक्‍टली या इनडायरेक्‍टली नॉन स्‍टेट एक्‍टर्स को न्‍यूक्लियर इक्‍यूपमेंट या पार्ट अवैध रूप से नहीं बेच सकता है।

नए विधेयक से कानून में क्‍या बदलाव
– इंडिया ने 2005 के एक्‍ट में बदलाव करके इसे और ज्‍यादा स्‍ट्रॉंग कर दिया है।
– अगर कोई व्‍यक्ति या संगठन ऐसे समूह या व्‍यक्ति को फंडिंग कर रहा है, जो ‘वेपन ऑफ मास डिस्‍ट्रक्‍शन’ बना रहा है, तो तुरंत भारत सरकार, उसके असेट को फ्रीज (जब्‍त) कर देगी।

WMD के लिए अंतरराष्ट्रीय नियम
– 1925 के जेनेवा प्रोटोकॉल ने कैमिकल और बायोलॉजिकल वेपन्स पर बैन लगाया हुआ है।
– 1972 के बायोलॉजिकल वेपन्स कंवेन्शन और वेपन्स कंवेन्शन, 1992 ने पूर्णरूप से कैमिकल और बायोलॉजिकल वेपन्स को प्रतिबंधित किया है।
– भारत ने 1972 और 1992 की दोनों ट्रीट्रीज पर साइन किया हुआ।
– न्यूक्लियर वेपन्स के प्रयोग और प्रसार को Nuclear Non-Proliferation Treaty (NPT) and the Comprehensive Test Ban Treaty (CTBT) द्वारा नियंत्रित किया जाता है।

किन देशों के पास है वेपन्स ऑफ मास डिस्ट्रक्शन
– अमेरिका, रूस, फ्रांस, यूके, चीन, भारत, पाकिस्तान, उत्तर कोरिया और इज़राइल।

वेपन्स ऑफ मास डिस्ट्रक्शन कब प्रयोग किए गए?
– प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान
– दित्तीय विश्वयुद्ध के दौरान
– 1980 में ईराक ने ईरान पर कैमिकल वेपन्स का प्रयोग किया था।

—————
5. ‘स्टैंड अप इंडिया’ स्कीम के तहत छह वर्षों (2016-22) में कितने रुपए के लोन दिए जा चुके हैं?

a. 20,165 करोड़ रुपए से अधिक
b. 30,160 करोड़ रुपए से अधिक
c. 40,544 करोड़ रुपए से अधिक
d. 50,348 करोड़ रुपए से अधिक

Answer: b. 30,160 करोड़ रुपए से अधिक

– स्टैंड अप इंडिया के तहत बीते वर्षों (2016-22) के दौरान 1,33,995 से अधिक खातों में 30,160 करोड़ रुपये से अधिक के लोन स्वीकृत की जा चुकी है।
– 05 अप्रैल 2022 को स्टैंड अप इंडिया योजना की छठी वर्षगांठ मनाई गई।
– इसी दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस बात की जानकारी दी।
– इस स्कीम को 05 अप्रैल 2016 को लांच किया गया था।

किसे कितना लोन मिला
– SC/ST : 1,373 करोड़ रुपए
– SC : 3,976 करोड़ रुपए
– Women : 24,809 करोड़ रुपए

स्टैंड-अप इंडिया का उद्देश्य
– महिलाओं एवं अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के समुदायों में उद्यमिता (entrepreneurship) को बढ़ावा देना।
– विनिर्माण, सेवा या व्यापार क्षेत्र और कृषि से संबंधित गतिविधि के क्षेत्र में ग्रीनफील्ड उद्यमों के लिए ऋण प्रदान करना।
– अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों की प्रत्येक बैंक शाखा में कम से कम एक अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति से सम्बंधित उधार लेनेवाले और उधार की इच्छुक कम से कम एक महिला को 10 लाख रुपये से 1 करोड़ रुपये के बीच बैंक ऋण की सुविधा उपलब्ध कराना।

ऋण के लिए पात्र कौन हो सकते हैं?
– महिला, अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के उद्यमी, जिनकी आयु 18 वर्ष से अधिक है।
– योजना के तहत लोन केवल परियोजनाओं के लिए उपलब्ध हैं। इस संदर्भ में, ग्रीनफील्ड का मतलब है; विनिर्माण, सेवा या व्यापार क्षेत्र और कृषि से संबद्ध गतिविधियों में लाभार्थी का पहली बार उद्यम।
– गैर-व्यक्तिगत उद्यमों के मामले में, 51 प्रतिशत शेयरधारिता और नियंत्रण हिस्सेदारी अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के व्यक्ति और/या महिला उद्यमी के पास होनी चाहिए।
– उधार लेनेवाले को किसी बैंक/वित्तीय संस्थान में ऋण न चुका पाने का दोषी नहीं होना चाहिए।

—————-
6. पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन की जागरूकता के लिए किस शुभंकर को लॉन्च किया?

a. प्रकृति
b. प्‍लास्टिक
c. सुरक्षा
d. बचाव

Answer: a. प्रकृति

– केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने 05 अप्रैल 2022 को शुभंकर ‘प्रकृति लॉन्च किया।
– इसके जरिए प्‍लास्टिक वेस्‍ट मैनेजमेंट को लेकर जागरूकता फैलाई जाएगी।
– दरअसल, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2022 तक सिंगल यूज प्लास्टिक (SUP) को समाप्त करने का ऐलान किया हुआ है।
– भारत सालाना लगभग 3.5 मिलियन टन प्लास्टिक कचरा पैदा कर रहा है और प्रति व्यक्ति प्लास्टिक कचरा उत्पादन पिछले पांच सालों में लगभग दोगुना हो गया है।

—————–
7. विश्व स्वास्थ्य दिवस (World Health Day) कब मनाया जाता है?

a. 7 अप्रैल
b. 6 अप्रैल
c. 5 अप्रैल
d. 4 अप्रैल

Answer: a. 7 अप्रैल

– इस दिन को मनाने का उददेश्‍य लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है।
– विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की स्थापना 7 अप्रैल 1948 को हुई थी।
– ऐसे में WHO के स्थापना दिवस के मौके पर विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाने की शुरुआत हुई।
– वर्ष 1950 में पहली बार सभी देशों ने विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया।

वर्ष 2022 की थीम : ‘हमारा ग्रह, हमारा स्वास्थ्य’ (Our Planet, Our Health)

WHO का मुख्यालय- जिनेवा (स्विट्जरलैंड)
स्थापना- 7 अप्रैल 1948
महानिदेशक- टेड्रोस एडनॉम।

—————–
8. चमेली देवी जैन उत्कृष्ट महिला मीडियाकर्मी 2021 पुरस्कार के लिए किसे चुना गया ?

a. आरिफा जौहरी
b. अंजना ओम कश्‍यप
c. सुप्रिया शर्मा
d. प्रियंका दुबे

Answer: a. आरिफा जौहरी

– स्‍क्रॉल डॉट इन की पत्रकार आरिफा जौहरी को 3 अप्रैल 2022 को इस अवॉर्ड के लिए चुना गया।
– वह मुंबई की निवासी हैं।
– ये पुरस्‍कार आरिफा जौहरी को 4 अप्रैल को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में दिया गया।

चमेली देवी जैन पुरस्‍कार
– यह अवॉर्ड स्वतंत्रता सेनानी और समाज सुधारक चमेली देवी जैन के नाम पर है।
– इसे 1982 में शुरू किया गया था।
– यह पुरस्‍कार भारत में उन महिला मीडियाकर्मियों को दिया जाता है, जिन्होंने सामाजिक विकास, राजनीति, समानता, लैंगिक न्याय, स्वास्थ्य, युद्ध एवं संघर्ष और उपभोक्ता मूल्यों जैसे विषयों पर रिपोर्टिंग की है।

—————–
9. विकास और शांति हेतु अंतर्राष्ट्रीय खेल दिवस (International Day of Sport for Development and Peace) कब मनाया जाता है?

a. 7 अप्रैल
b. 6 अप्रैल
c. 5 अप्रैल
d. 4 अप्रैल

Answer: b. 6 अप्रैल

– इस क्षमता के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा ये दिवस घोषित किया गया था।

वर्ष 2022 की थीम- “सभी के लिए एक सतत और शांतिपूर्ण भविष्य की सुरक्षा: खेल का योगदान” (“Securing a Sustainable and Peaceful Future for All: The Contribution of Sport”)

—————–
10. मियामी ओपन टेनिस टूर्नामेंट 2022 का खिताब किस महिला खिलाड़ी ने जीता?

a. नाओमी ओसाका
b. इगा स्‍वित्‍सेक
c. सानिया मिर्जा
d. एनेट कोंटावित

Answer: b. इगा स्‍वित्‍सेक (Iga Swiatek)

– पोलिश टेनिस स्टार इगा स्वित्येक ने फाइनल मैच में जापान की नाओमी ओसाका को हराकर ये जीत हासिल की।
– फाइनल मुकाबला 2 अप्रैल 2022 को हुआ।
– स्वित्येक यह खिताब जीतने वाली दुनिया की सबसे कम उम्र की खिलाड़ी हैं।
– यह स्वित्येक की 17वीं जीत और उनका लगातार तीसरा खिताब था।
– स्वित्येक के लिए, यह उनका चौथा करियर WTA खिताब है और कुल मिलाकर छठा एकल खिताब है।

11. थप्‍पड़ की वजह से ऑस्‍कर बेस्‍ट एक्‍टर अवॉर्ड विजेता विल स्मिथ को कितने वर्ष के लिए फिल्‍म अकादमी ने समारोह से प्रतिबंध लगा दिया?

a. 5 वर्ष
b. 10 वर्ष  
c. 15 वर्ष
d. 25 वर्ष

Answer: b. 10 वर्ष

– विल स्मिथ ने कॉमेडियन क्रिस रॉक को ऑस्कर 2022 के स्टेज पर मुक्का मारा था।
– दरअसल, क्रिस ने स्मिथ की पत्नी जेडा पिंकेट स्मिथ के गंजेपन का मजाक उड़ाया था।
– पिंकेट स्मिथ को एलोपेसिया बीमारी है।
– ऐसे में विल स्मिथ ने बीच शो में स्टेज पर जाकर क्रिस रॉक को मुक्का मार दिया।

– एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज ने यह फैसला किया।
– यह एकेडमी ही ऑस्‍कर अवॉर्ड देती है। 


Free Download Notes PDF of Toady’s Current Affairs : – Click Here