8 & 9 September 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 8th & 9th September 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा।

PDF Download : Click here

1. ब्रिटेन की महारानी क्‍वीन एलिजाबेथ II का निधन 8 सितंबर 2022 को किस राष्‍ट्र (Nation) में हुआ?

a. इंग्‍लैंड
b. स्‍कॉटलैंड
c. वेल्‍स
d. नॉदर्न आयरलैंड

Answer: b. स्‍कॉटलैंड

– स्‍कॉटलैंड एक नेशन है और यह यूनाइटेड किंगडम का हिस्‍सा है।

– क्‍वीन एलिजाबेथ II ने 96 साल की उम्र में स्‍कॉटलैंड के बाल्मोरल कासल में अंतिम सांस ली।
– बीमारी की वजह से महारानी बाल्मोरल महल में रह रही थीं।
– आखिरी बार लोगों ने उनकी तस्‍वीर 6 सितंबर 2022 को देखी थी, जब उन्‍होंने लिज ट्रस को नया पीएम एप्‍वाइंट किया था।
– एलिजाबेथ II, सबसे लंबे समय तक (70 साल) ब्रिटेन की क्वीन रहीं।
– अंतिम संस्‍कार में 10 दिन लगेंगे। इस दौरान कई तरह के शोक आयोजन होंगे।

क्‍वीन एलिजाबेथ के बारे में
– पूरा नाम एलिजाबेथ एलेक्जेंड्रा मैरी था।
– हालांकि ऑफिशियल नाम एलिजाबेथ द्वितीय था।
– वह ग्रेट ब्रिटेन और नॉदर्न आयरलैंड के यूनाइटेड किंगडम की महारानी और कॉमनवेल्‍थ की चीफ थी।
– जन्‍म : 21 अप्रैल 1926 को लंदन में हुआ था।
– पति : फिलिप (शादी 20 नवंबर 1947 को हुई)
– क्‍वीन कब बनी : 6 फरवरी, 1952
– वह ब्रिटिश इतिहास में सबसे लंबे समय (70 वर्ष) तक क्‍वीन रहीं।
– निधन : 8 सितंबर 2022 को बाल्‍मोर कैसल, एबरडीनशायर, स्‍कॉटलैंड में।

उत्‍तराधिकारी के तौर पर पीछे थीं, एलिजाबेथ
– द हिन्‍दू न्‍यूजपेपर लिखता है कि ‘Accident of history’ ने एलिजाबेथ II को राजगद्दी दिला दी।
– 1926 में जब उनका जन्‍म हुआ, तब वह राजगद्दी की उत्‍तराधिकारी नहीं थी।
– उस वक्‍त एलिजाबेथ II के दादा जॉर्ज V, ग्रेट ब्रिटेन के किंग थे।
– जॉर्ज V के दो बेटे थे। बड़े बेटे एडवर्ड VIII और छोटे बेटे जॉर्ज VI थे।
– लेकिन एडवर्ड VIII (एलिजाबेथ II के चाचा) ने दो बार तलाकशुदा अमेरिकी वालिस सिम्‍पसन से शादी के लिए उत्‍तराधिकार का त्‍याग कर दिया।
– इसी को ‘Accident of history’ कहा जाता है।
– जब एलिजाबेथ II की उम्र 10 वर्ष थी, तब उनके पिता जॉर्ज VI किंग बन गए।
– इसके बाद उत्‍तराधिकारी की लिस्‍ट में सबसे ऊपर एलिजाबेथ II हो गई।
– इस वजह से वर्ष 1952 में जॉर्ज VI के निधन के बाद एलिजाबेथ II क्‍वीन बनी।

किन देशों की राज्‍यप्रमुख के पद पर थी?
– महारानी एलिजाबेथ न केवल यूनाइटेड किंगडम (यूके) की क्‍वीन थी, बल्कि चौदह अन्य देशों की भी थीं। यह चौदह देश है –
– एंटीगुआ और बारबुडा
– ऑस्ट्रेलिया
– बहामास
– बेलीज
– कनाडा
– ग्रेनाडा
– तुवालु
– जमैका
– न्यूजीलैंड
– सेंट लूसिया
– पापुआ न्यू गिनी
– सोलोमन आइलैंड्स
– सेंट किट्स एंड नेविस
– सेंट विंसेंट एंड द ग्रेनाडाइन्स

नोट – वर्ष 2021 में बारबाडोस ने महारानी को राज्‍य-प्रमुख के पद से हटाकर खुद को गणतंत्र (रिपब्लिक) घोषित किया था। हालांकि वह कॉमनवेल्‍थ का सदस्‍य बना हुआ है।

3 बार भारत आईं एलिजाबेथ-II:रिपब्लिक डे पर शाही मेहमान बनीं
– एलिजाबेथ-II तीन बार भारत आईं।
– 1961, 1983 और 1997 में वो भारत की शाही मेहमान बनी थीं।
– 1961 में भारत के गणतंत्र दिवस की परेड में भी शामिल हुई थीं।
– उनके साथ प्रिंस फिलिप भी थे।

पीएम मोदी ने दुख जताया, कहा- वो एक दिग्गज शासक थीं
– पीएम मोदी ने एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर दुख जताया है।
– उन्होंने कहा- एलिजाबेथ द्वितीय को हमारे समय की एक दिग्गज शासक के रूप में याद किया जाएगा।
– दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और ब्रिटेन के लोगों के साथ हैं।
– उन्होंने बताया- मैं 2015 और 2018 में यूके की यात्राओं के दौरान महारानी से मिला था।
– एक बैठक के दौरान उन्होंने मुझे एक रूमाल दिखाया था, जो महात्मा गांधी ने उनकी शादी में गिफ्ट किया था।

ब्रिटेन की पीएम – लिज ट्रस (6 सितंबर 2022 से कार्यकाल)

यूनाइटेड किंगडम
– ग्रेट ब्रिटेन और नॉदर्न आयरलैंड से मिलकर यूनाइटेड किंगडम बना है।
– ग्रेट ब्रिटेन में तीन नेशन हैं – इंग्‍लैंड, वेल्‍स और स्‍कॉटलैंड (स्रोत – https://www.gov.scot/publications/scotlands-right-choose-putting-scotlands-future-scotlands-hands/pages/3/ )
– इन राष्‍ट्रों की अपनी सरकारें भी हैं और सरकार के प्रमुख को फर्स्‍ट मिनिस्‍टर कहा जाता है।
– हालांकि चार अधिकार यूनाइटेड किंगडम के पास रिजर्व हैं – इमिग्रेशन, कॉस्‍टीच्‍यूशन, फॉरेन पॉलिसी और डिफेंस।
– लंदन, यूनाइटेड किंगडम की राजधानी है। यह इंग्‍लैंड की भी राजधानी है।

—————-
2. ब्रिटेन / यूनाइटेड किंगडम के नए सम्राट (King) कौन हैं?

a. विलियम
b. हैरी
c. चार्ल्‍स III
d. जॉर्ज IX

Answer: c. चार्ल्‍स III

– प्रिंस चार्ल्‍स अब किंग चार्ल्‍स बन गए हैं।
– उनकी उम्र 73 वर्ष है। वह क्वीन एलिजाबेथ के बेटे हैं।
– उन्‍हें किंग चार्ल्‍स तृतीय (III) के रूप में जाना जाएगा।
– नए किंग के रूप में उन्हें क्या कहा जाएगा, यही नए चार्ल्स-III का पहला फैसला है।
– क्‍वीन विक्‍टोरिया के निधन की आधिकारिक घोषणा के तुरंत बाद 8 सितंबर 2022 को प्रिंस चार्ल्‍स को राजगद्दी मिल गई।
– सम्राट के तौर पर उनके नाम की घोषणा हो चुकी है, लेकिन ताजपोशी (कोरोनेशन) के लिए उन्‍हें इंतजार करना पड़ेगा।
– क्योंकि इसकी तैयारियों में वक्त लगेगा।
– इससे पहले क्वीन एलिजाबेथ II को भी करीब 16 महीने इंतजार करना पड़ा था।
– फरवरी 1952 में क्वीन एलिजाबेथ II के पिता का निधन हुआ, लेकिन जून 1953 में उनकी ताजपोशी हुई थी।

चार्ल्‍स III के बारे में
जन्‍म : 14 नवंबर 1948 को बकिंगघम पैलेस (लंदन) में.
पहली शादी : डायना के साथ 1981 में. (तलाक 1996 में)

चार्ल्स की शादी और तलाक
– 24 फरवरी, 1981 को ब्रिटिश शाही परिवार ने एक ऐलान किया। इसमें कहा गया कि उनके 32 साल के चार्ल्स ने सगाई कर ली है।
– लोगों के मन में सवाल था किससे?
– जवाब आया – खुद से 13 साल छोटी, एक 19 साल की लड़की डायना स्पेंसर से।
– 24 जुलाई 1981 को डायना और चार्ल्स पति-पत्नी बन गए।
– 1996 में प्रिंसेस डायना के साथ काफी विवादित तलाक के बाद वह काफी अलग-थलग भी पड़े।

दूसरी शादी : कैमिला पार्कर बाउल्स के साथ 2005 में.
बेटे – प्रिंस विलियम और प्रिंस हैरी

– चार्ल्स पहले ऐसे शाही उत्तराधिकारी हैं जिनकी शिक्षा घर में नहीं हुई है।
– जब वे छोटे थे, तब क्वीन एलिजाबेथ और ड्यूक ने फैसला किया कि चार्ल्स को पढ़ाने के लिए महल में कोई टीचर नहीं आएगा। प्रिंस खुद स्कूल जाएंगे।

नहीं रहना चाहता शाही महल में
– हाल ही में द संडे टाइम्स’ ने शाही परिवार के अंदरूनी सूत्रों के हवाले से कहा है कि वेल्स के प्रिंस किंग बनने पर लंदन के ऐतिहासिक शाही घर को छोड़ देना चाहते हैं।
– दरअसल, उन्हें 775 कमरों के इस महल में रहना आधुनिक जीवन के हिसाब से ठीक नहीं लग रहा है।
– बकिंघम पैलेस सन् 1837 से ही ब्रिटिश राजघराने का आधिकारिक घर है।

————–
3. केंद्र सरकार ने दिल्ली में राजपथ और सेंट्रल विस्टा लॉन का नाम बदलकर क्या रखा?

a. विजयपथ
b. अजयपथ
c. कर्तव्य पथ
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: c. कर्तव्य पथ

– केंद्र सरकार के अंतर्गत न्यू दिल्ली म्युनिसिपल काउंसिल (NMDC) ने 07 सितंबर 2022 को दिल्ली में राजपथ और सेंट्रल विस्टा लॉन का नाम बदलकर ‘कर्तव्य पथ’ रख दिया है।
– इसके अगले दिन 8 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए नाम का उद्घाटन किया।
– राजपथ और सेंट्रल विस्टा लॉन राष्ट्रपति भवन से इंडिया गेट तक फैला हुआ है।
– इंडिया गेट पर नेताजी की प्रतिमा से लेकर राष्ट्रपति भवन तक की पूरी सड़क और क्षेत्र को अब ‘कर्तव्य पथ’ के नाम से जाना जाएगा।

किंग्सवे / राजपथ से ‘कर्तव्य पथ’ तक

किंग्सवे
– राजपथ को ब्रिटिश शासन के दौरान किंग्सवे कहा जाता है।
– दरअसल, दिल्‍ली को राजधानी बनाने का ऐलान 1911 को हुआ था।
– उस वक्‍त ब्रिटिश सरकार ने अपनी राजधानी को कोलकाता (तब कलकत्ता) से दिल्ली स्थानांतरित करने का फैसला किया था।
– इसी दौरान सम्राट जॉर्ज पंचम 1911 के दरबार के दौरान दिल्ली आए थे, जहां उन्होंने औपचारिक रूप से राजधानी को स्थानांतरित करने के निर्णय की घोषणा की थी।
– सम्राट जॉर्ज पंचम के सम्मान में सड़क का नाम किंग्सवे रखा गया।

राजपथ
– भारत की स्वतंत्रता के बाद, सड़क (अंग्रेजी नाम किंग्‍सवे) को हिंदी नाम ‘राजपथ’ दिया गया।
– यह नाम किंग्‍सवे का अनुवाद है क्योंकि हिंदी में ‘राजपथ’ का व्यापक अर्थ राजा का रास्ता है।
– 75 वर्षों से, इसे गणतंत्र दिवस परेड के लिए शोपीस स्ट्रेच के रूप में जाना जाता है जो हर साल 26 जनवरी को आयोजित किया जाता है।
– इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार स्वतंत्रता के बाद सेंट्रल विस्टा एवेन्यू पर कुछ बदलाव किए गए थे।
– इसका परिदृश्य बदल दिया गया, 1980 के दशक में नए पेड़ लगाए गए और एक नई सड़क, रफ़ी अहमद किदवई मार्ग का निर्माण किया गया था।

कर्तव्य पथ
– सेंट्रल विस्टा रिडेवलपमेंट परियोजना के लिए निर्माण कार्य फरवरी 2021 में शुरू हुआ।
– सरकार ने 608 करोड़ रुपये की सेंट्रल विस्टा एवेन्यू परियोजना के बारे में कहा कि प्रस्ताव का उद्देश्य एवेन्यू को एक ऐसा आइकन बनाना है जो “वास्तव में नए भारत के लिए उपयुक्त हो”।

—————-
4. बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना के भारत दौरे के दौरान दोनों देशों के बीच कितने समझौता ज्ञापनों (MoU) पर साइन हुआ?

a. आठ
b. सात
c. छह
d. पांच

Answer: b. सात

– बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने 05-08 सितंबर 2022 को भारत का दौरा किया।
– उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच सात समझौता ज्ञापनों (MoU) पर साइन हुआ।

साइन हुए सात समझौते-
1. भारत और बांग्लादेश द्वारा साझा सीमा नदी कुशियारा से पानी की निकासी पर समझौता
– दोनों देशों के बीच पिछले 25 में पहला नदी समझौता है। दोनों देशों ने वर्ष 1996 में गंगा जल संधि पर हस्ताक्षर किए थे।
2. भारत में बांग्लादेश रेलवे एंप्‍लॉई की ट्रेनिंग का समझौता
3. FOIS (फ्रेट ऑपरेशन इंर्फोमेशन सिस्टम) जैसे आईटी सिस्टम और बांग्लादेश रेलवे के लिए अन्य आईटी एप्लीकेशन में सहयोग पर समझौता
4. भारत में बांग्लादेश न्यायिक अधिकारियों के लिए प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण कार्यक्रम पर समझौता
5. दोनो देशों के बीच वैज्ञानिक और तकनीकी सहयोग पर समझौता
6. अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में सहयोग पर समझौता
7. प्रसारण में सहयोग पर प्रसार भारती और बांग्लादेश टेलीविजन (बीटीवी) के बीच समझौता

उद्घाटन / घोषित / अनावरण परियोजनाओं की सूची

बांग्लादेश के मैत्री थर्मल पावर प्लांट का अनावरण
– मैत्री थर्मल पावर प्लांट की पहली यूनिट का अनावरण किया गया।
– बांग्लादेश के उपजिले रामपाल, खुलना में 1320 (660×2) मेगावाट क्षमता के कोयले से चलने वाले थर्मल पावर प्लांट की स्थापना की जा रही है।
– इसमें 2 बिलियन अमरीकी डॉलर की अनुमानित लागत है।
– इसमें से 1.6 बिलियन अमरीकी डॉलर भारतीय विकास सहायता के रूप में रियायती फाइनेंस योजना के तहत भारत ने दिया है।

रूपशा पुल का उद्घाटन
– यह पुल भारत की लाइन ऑफ क्रेडिट के तहत खुलना और मोंगला पोर्ट के बीच बनाई गई है।
– इस पुल की लंबाई 5.13 किमी है।
– यह 64.7 किमी लंबे खुलना-मोंगला पोर्ट सिंगल ट्रैक ब्रॉड गेज रेल परियोजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

घोषणाएं
सड़क निर्माण उपकरण और मशीनरी की आपूर्ति
– परियोजना में बांग्लादेश सड़क और राजमार्ग विभाग को 25 पैकेजों में सड़क रखरखाव और निर्माण उपकरण और मशीनरी की आपूर्ति शामिल है।

खुलना दर्शन रेलवे लाइन लिंक परियोजना
– यह परियोजना मौजूदा (ब्रॉड गेज का दोहरीकरण) इंफ्रास्ट्रक्चर का अपग्रेडेशन है जो गेदे-दर्शन में वर्तमान सीमा पार रेल लिंक को खुलना से जोड़ती है।
– परियोजना की लागत 312.48 मिलियन अमरीकी डॉलर आंकी गई है।

पार्वतीपुर-कौनिया रेलवे लाइन
– मौजूदा मीटर गेज लाइन को दोहरी गेज लाइन परियोजना में बदलने का अनुमान 120.41 मिलियन अमरीकी डॉलर है।
– यह परियोजना बिरोल (बांग्लादेश)-राधिकापुर (पश्चिम बंगाल) में मौजूदा सीमा पार रेल से जुड़ेगी और द्विपक्षीय रेल संपर्क को बढ़ाएगी।

दोनों देश के बीच और किन मुद्दो पर बात हुई?
– पीएम मोदी ने भारत और बांग्लादेश के बीच कॉम्प्रीहेन्सिव इकोनॉमिक पार्टनरशिप एग्रीमेंट (CEPA) को लेकर आगे बातचीत करने को कहा है।
– बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने कहा कि रोहिंग्या उनके देश पर “एक बड़ा बोझ” है, और सुझाव दिया कि भारत म्यांमार को उन्हें वापस लेने के लिए राजी करने में भूमिका निभा सकता है।

————–
5. बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने 1971 के बांग्लादेश मुक्ति संग्राम में शहीद या घायल हुए भारतीय सैनिकों के प्रत्यक्ष वंशजों के लिए कौन सी छात्रवृत्ति प्रदान की?

a. मुजीब छात्रवृत्ति
b. मुक्तिजोद्धा छात्रवृत्ति
c. बांग्लाछात्र छात्रवृत्ति
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. मुजीब छात्रवृत्ति

– बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने 1971 के बांग्लादेश मुक्ति संग्राम में शहीद या से घायल हुए भारतीय सैनिकों के प्रत्यक्ष वंशजों (direct descendants) के लिए मुजीब छात्रवृत्ति प्रदान की।
– उन्होंने अपनी भारत यात्रा (05-08 सितंबर 2022) के दौरान इस छात्रवृत्ति का वितरण किया।
– उन्होंने शहीद या घायल हुए भारतीय सैनिकों के परिवार के कुल 200 सदस्यों को यह छात्रवृत्ति दी।
– इस छात्रवृत्ति का नाम हसीना के पिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान के नाम पर रखा गया है।

भारत भी देता है बांग्लादेश के छात्रों को छात्रवृत्ति
– भारत मुक्तिजोद्धा योजना के तहत बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम सेनानियों के वंशजों को छात्रवृत्ति देता।

————–
6. भारतीय खिलाड़ी सुरेश रैना ने क्रिकेट के किस प्रारूप से संन्यास लिया?

a. टेस्ट
b. वनडे
c. टी-20
d. उपरोक्त सभी

Answer: d. उपरोक्त सभी

– सुरेश रैना ने 06 सितंबर 2022 को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया।
– रैना ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास 15 अगस्त 2020 को लिया था।
– अब रैना ने सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया है।
– सुरेश रैना ने 18 टेस्ट, 226 वनडे और 78 टी20 खेले।
– वह वर्ष 2011 में विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थे।

—————-
7. सुप्रीम कोर्ट ने सतलुज-यमुना लिंक (SYL) नहर विवाद को लेकर किन राज्यों के मुख्यमंत्रियों को मीटिंग करने को कहा?

a. यूपी-बिहार
b. पंजाब- हरियाणा
c. असम-बिहार
d. मध्य प्रदेश-उत्तर प्रदेश

Answer: b. पंजाब- हरियाणा

– सुप्रीम कोर्ट ने 06 सितंबर 2022 को पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को मुलाकात करने को कहा है।
– सुप्रीम कोर्ट ने दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों को सितंबर 2022 के भीतर सतलुज-यमुना लिंक नहर के निर्माण पर चर्चा करने के लिए मुलाकात करने को कहा है।

सतलुज-यमुना लिंक (SYL) नहर विवाद
– सतलुज-यमुना लिंक हरियाणा और पंजाब के बीच रावी और व्यास नदियों के पानी को साझा करने के लिए 214 किलोमीटर लंबी एक नहर है।
– दोनों राज्यों के बीच में इस नहर को लेकर वर्ष 1955 से विवाद चल रहा है।
– इस नहर को लेकर विवाद पहली बार तब सामने आया जब 1966 में हरियाणा को पंजाब से अलग कर दिया गया था।
– केंद्र सरकार ने तब एक अधिसूचना जारी कर पंजाब को दो नदियों के पानी का एक हिस्सा हरियाणा को उपलब्ध कराने को कहा।
– पंजाब ने तर्क दिया कि यह रिपेरियन सिद्धांत के खिलाफ है, जो कहता है कि एक नदी का पानी केवल उन राज्यों या देशों का है जहां से वह बहती है।

पंजाब
राजधानी- चंडीगढ़
सीएम- भगवंत मान
राज्यपाल- बनवारीलाल पुरोहित

हरियाणा
राजधानी- चंडीगढ़
सीएम- मनोहर लाल खट्टर
राज्यपाल- बंडारू दत्तात्रेय

——————
8. बिरजू साह का निधन 03 सितंबर 2022 को हो गया, वह इनमें से क्या थे?

a. क्रिकेटर
b. मुक्केबाज
c. फुटबॉलर
d. निशानेबाज

Answer: b. मुक्केबाज

– वह 48 वर्ष के थे।
– वह भारतीय मुक्केबाज थे।
– उन्होंने वर्ष 1994 के एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के लिए कांस्य पदक जीते थे।

बिरजू साह
– उनका जन्म वर्ष 1974 में हुआ था।
– वह एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में पदक जीतने वाले पहले भारतीय बॉक्सर थे।
– साह ने वर्ष 1993 की एशियाई जूनियर चैंपियनशिप और 1994 के एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों में लाइट फ्लाईवेट वर्ग में कांस्य पदक जीते।
– बाद में, वह एक वित्तीय संकट से गुजरे और कुछ समय के लिए जमशेदपुर में एक निजी फर्म के साथ एक सुरक्षा गार्ड की नौकरी की।

—————-
9. टीवी शंकरनारायणन का निधन 02 सितंबर 2022 को हो गया, वह इनमें से क्या थे?

a. अभिनेता
b. लेखक
c. गायक
d. क्रिकेटर

Answer: c. गायक

– वह 77 वर्ष के थे।
– वह कर्नाटक के प्रसिद्ध गायक थे।
– शंकरनारायणन का जन्म 1945 में मयिलादुथुराई, तमिलनाडु में हुआ था
– उन्होंने वर्ष 2003 में संगीत अकादमी का संगीत कलानिधि पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
– इसी वर्ष उन्हें पद्म भूषण से भी सम्मानित किया गया।

—————-
10. इंडिगो के नए सीईओ कौन बने?

a. रोनोजॉय दत्ता
b. पीटर एल्बर्स
c. क्रिस लेजर
d. देव रॉय

Answer: b. पीटर एल्बर्स

– पीटर एल्बर्स ने 06 सितंबर 2022 को इंडिगो एयरलाइन के नए सीईओ के तौर पदभार संभाला।
– एल्बर्स ने रोनोजॉय दत्ता की जगह ली है।
– इंडिगो ने मई 2022 में पीटर एल्बर्स को अपना सीईओ नियुक्त किया था।

पीटर एल्बर्स
– वह 52 वर्ष के हैं।
– एल्बर्स ने पहले 2014 से केएलएम रॉयल डच एयरलाइंस के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में काम किया है।
– वह एयर फ्रांस – केएलएम समूह की कार्यकारी समिति के सदस्य भी थे।
– उन्होंने 1992 में केएलएम में शिफोल हब में अपना करियर शुरू किया और समय के साथ, नीदरलैंड और विदेशों में जापान, ग्रीस और इटली में कई प्रबंधकीय पदों पर रहे।