28 to 30 June 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 28 to 30 June 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. कॉमनवेल्‍थ के दो नए सदस्‍य कौन बनें, जिससे इस संगठन के सदस्‍य देशों की संख्‍या 56 हो गई?

a. टोगो और गैबॉन
b. मिस्र ओर यूएई
c. जापान और टोगो
d. गैबॉन और यूएई

Answer: a. टोगो और गैबॉन

– कॉमनवेल्‍थ सरकार के प्रमुखों की बैठक में जून 2022 में यह फैसला हुआ।
– ये दोनों अफ्रीकी देश हैं।
– कभी भी दोनों अफ्रीकी राष्ट्र ब्रिटिश उपनिवेश नहीं थे।

कॉमनवेल्थ संघ के महासचिव: पेट्रीसिया स्कॉटलैंड
गैबॉन के राष्ट्रपति: अली बोंगो
टोगो के राष्ट्रपति: फॉरे ग्नसिंगबे

कॉमनवेल्थ के बारे में
– कॉमनवेल्‍थ की स्‍थापना 1931 में हुई थी, लेकिन इसकी शुरुआत काफी पहले ही हो गई थी।

—————-
2. रिलायंस जियो के नए चेयरमैन कौन बने?

a. ईशा अंबानी
b. अनंत अंबानी
c. आकाश अंबानी
d. नीना कोठारी

Answer: c. आकाश अंबानी

– मुकेश अंबानी ने रिलायंस जियो के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया है और कंपनी की बागडोर बड़े बेटे आकाश अंबानी को सौंप दी है।
– आकाश को 27 जून 2022 को रिलायंस जियो का नया चेयरमैन बनाया गया।
– मुकेश अंबानी ने 27 जून, 2022 को रिलायंस जियो के डायरेक्टर पद से इस्तीफा दिया।
– रिलायंस जियो के नए चेयरमैन आकाश अंबानी पहले कंपनी में नॉन-एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर रह चुके हैं।

————–
3. किस देश ने ब्रिक्स (BRICS) का सदस्य बनने के लिए आवेदन किया?

a. नेपाल
b. ईरान
c. यूक्रेन
d. अमेरिका

Answer: b. ईरान

– BRICS : Brazil, Russia, India, China, and South Africa

– ईरान ने ब्रिक्स (BRICS) का सदस्य बनने के लिए आवेदन किया है।
– इस बात की जानकारी ईरान के एक अधिकारी ने 27 जून 2022 को दी।

ईरान क्यों ब्रिक्स को जॉइन करना चाहता है?
– ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के अनुसार ब्रिक्स देशों के समूह में ईरान की सदस्यता से दोनों पक्षों को फायदा मिलेगा।

अर्जेंटीना ने भी सदस्यता के लिए किया आवेदन
– रूस के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा का कहना है कि ब्रिक्स में शामिल होने के लिए अर्जेंटीना ने भी आवेदन किया था।
– लेकिन अर्जेंटीना के ऑफिशियल्स से इसकी पुष्टि नहीं हो सकी।

ब्रिक्स
– मुख्यालय : शंघाई, चीन
– स्थापना : 2009
– यह 5 महत्वपूर्ण इमर्जिंग इकोनॉमी का संगठन है।

ईरान
राजधानी- तेहरान
राष्ट्रपति- इब्राहिम रईसी

—————
4. रणजी ट्रॉफी 2021-2022 किस टीम ने जीती?

a. सौराष्ट्र
b. उत्तर प्रदेश
c. मध्य प्रदेश
d. मुंबई

Answer: c. मध्य प्रदेश

– मध्य प्रदेश ने 26 जून 2022 को रणजी ट्रॉफी 2021-22 का खिताब अपने नाम कर लिया है।
– फाइनल मैच बेंगलुरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में आयोजित हुआ।
– मध्य प्रदेश ने फाइनल में मुंबई को छह विकेट से हराकर ट्रॉफी जीती।
– मुंबई ने एमपी को 108 रनों का टारगेट दिया था, जिसे एमपी ने आसानी से प्राप्त कर लिया।
– एमपी ने 41 बार के चैंपियन मुंबई को मात देकर ट्रॉफी जीती।
– एमपी ने पहली बार रणजी ट्रॉफी का खिताब जीता है।

रणजी ट्रॉफी 2021- 2022
– रणजी ट्रॉफी एक घरेलू प्रथम श्रेणी क्रिकेट चैंपियनशिप है।
– यह भारत में क्षेत्रीय और राज्य क्रिकेट संघों का प्रतिनिधित्व करने वाली टीमों के बीच खेली जाती है।
– 2021-22 रणजी ट्रॉफी रणजी ट्रॉफी का 87वां सीजन था।

रणजी ट्रॉफी के पिछले पांच विजेता:
– वर्ष 2021-22 : मध्यप्रदेश
– वर्ष 2019-20 : सौराष्ट्र
– वर्ष 2018-19 : विदर्भ
– वर्ष 2017-18 : विदर्भ
– वर्ष 2016-17: गुजरात

—————
5. किस देश में आयोजित G-7 लीडर्स समिट में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिस्‍सा लिया?

a. फ्रांस
b. जर्मनी
c. जापान
d. यूएसए

Answer: b. जर्मनी

– जर्मनी में G7 की 48वीं लीडर्स समिट 26 से 28 जून 2022 को आयोजित हुई।
– G7 में अमेरिका, जर्मनी, फ्रांस, इटली, यूनाइटेड किंगडम, कनाडा, जापान और यूरोपीय यूनियन सदस्‍य हैं।
– इसमें भारतीय प्रधानमंत्री को विशेष अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया गया।

– तीन दिवसीय बैठक का सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा यूक्रेन में रूस का संघर्ष था। इसके अलावा चीन के बढ़ते खतरों पर भी चर्चा हुई।
– इस समूह ने अपनी आर्थिक नीतियों और मानवाधिकारों के उल्लंघन के संबंध में बीजिंग को चुनौती देने के लिए एक रणनीति स्पष्ट की।

—————-
6. अमेरिका और किस समूह ने रूस से सोना (Gold) के आयात पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की?

a. G20
b. G5
c. G7
d. क्‍वाड

Answer: c. G7

– यह बैन रूस द्वारा यूक्रेन पर आक्रमण करने के कारण लगाया जा रहा है।
– इसके अलावा रूस को आर्थिक रूप से कमजोर बनाने के लिए।

रूस पर इस बैन से क्या प्रभाव होगा?
– गोल्ड, ऊर्जा (तेल) के बाद रूस की दूसरी सबसे बड़ी निर्यात वस्तु है।
– वर्ष 2021 में रूसी अर्थव्यवस्था में गोल्ड का निर्यात 15.5 बिलियन डॉलर (12.20 लाख करोड़ रुपए) का था।
– गोल्ड आयात पर प्रतिबंध लगाने से रूस के लिए ग्लोबल मार्केट में जगह बनाना मुश्किल हो जायेगा।

भारत को क्या फायदा होगा?
– इस प्रतिबंध से भारत को फायदा हो सकता है।
– भारत रूस से सस्ते दामों में गोल्ड खरीद सकेगा।
– यह देखने का मौका होगा कि क्या कच्चे तेल की तरह गोल्ड भी रूबल में उपलब्ध हो सकता है।
– अगर ऐसा होता है तो भारत को डिस्काउंट रेट पर गोल्ड मिल सकता है।

—————-
7. G-7 ने चीन के BRI को काउंटर करने के लिए कौनसी स्कीम रीलॉन्च की?

a. PGII
b. BRI
c. UIII
d. RRI

Answer: a. PGII (पार्टनरशिप फॉर ग्लोबल इंफ्रास्ट्रक्चर एंड इंवेस्टमेंट) [Partnership for Global Infrastructure and Investment]

– अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और अन्य G-7 नेताओं ने समिट के दौरान 26 जून 2022 को PGII स्कीम को रीलॉन्च किया।
– इससे पहले इस स्कीम की घोषणा वर्ष 2021 की G-7 समिट में हुई थी।
– इस स्कीम का लक्ष्य G-7 देशों से 2027 तक 600 बिलियन डॉलर की फंडिंग जुटाना है।
– ताकि जिससे भारत जैसे विकासशील देशों में इंफ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं को वितरित किया जा सके।
– यह कोई चैरिटी या वित्तीय सहायता नहीं है इस स्कीम के अंतर्गत निवेश किया जायेगा।

PGII से चीन के BRI को काउंटर करने की रणनीति
– बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (BRI), चीन की एक ग्लोबल इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट स्ट्रेटेजी है जोकि वित्तीय सहायता प्रदान करती है।
– अमेरिका और G-7 देश चीन की इसी स्कीम को काउंटर करने के लिए PGII को लॉन्च किया है।
– G-7 देश BRI को इसलिए काउंटर करना चाहते है क्योंकि इस स्कीम से चीन ने कई देशों को कर्ज में डूबा दिया है।

BRI (बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव)
– BRI को वर्ष 2013 में राष्ट्रपति शी जिनपिंग द्वारा शुरू किया गया था।
– BRI उभरते देशों को बंदरगाहों, सड़कों और पुलों जैसे बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करता है।
– इस इनिशिएटिव का लक्ष्य लगभग 70 देशों में निवेश करना है।
– रेलवे, बंदरगाह, राजमार्ग और अन्य बुनियादी ढांचे जैसी BRI परियोजनाओं में सहयोग के लिए 100 से अधिक देशों ने चीन के साथ समझौतों पर हस्ताक्षर किए है।

BRI के मार्ग
न्यू सिल्क रोड इकोनॉमिक बेल्ट : म्यांमार से भारत के लिंक सहित यूरेशिया में पहुंचना।
मेरीटाइम सिल्क रोड : यह दक्षिण चीन सागर से शुरू होकर भारत-चीन, दक्षिण-पूर्व एशिया की ओर जाता है और फिर हिंद महासागर के आसपास अफ्रीका और यूरोप तक पहुंचता है।

BRI के जरिये कर्ज के जाल में फंसाना
– चीन इंफ्रास्ट्रक्चर परियोजनाओं के लिए देशों को ऋण प्रदान करके और देशों को अपने कर्ज के जाल में धकेल रहा है।
– उदाहरण के तौर पर पाकिस्तान चीनी कर्ज के जाल में फंस चुका है।
– पाकिस्तान ने चीन से 50 अरब डॉलर ले लिए हैं, जो 30 साल की अवधि में बढ़कर 80 अरब डॉलर हो जाएगा।
– इसी तरह कंबोडिया और श्रीलंका जैसे देश चीन के कर्ज के जाल में फंस गए हैं।

PGII के तहत भारत में कितना निवेश?
– PGII के तहत DFC (अमेरिका की डेवलपमेंट फाइनेंस एजेंसी) भारत के ओमनीवोर एग्रीटेक एंड क्लाइमेट सस्टेनेबिलिटी फंड में निवेश करेगी।
– यह निवेश लगभग 30 मिलियन डॉलर तक का होगा।

——————
8. वरिंदर सिंह का निधन 27 जून 2022 को हो गया, वह किस खेल से जुड़े हुए थे?

a. क्रिकेट
b. फुटबॉल
c. चेस
d. हॉकी

Answer: d. हॉकी

– उनका निधन जालंधर में हुआ।
– वह 75 वर्ष के थे।

करियर
– वह 1975 में कुआलालंपुर में पुरुष हॉकी विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे।
– वह 1972 म्यूनिख ओलंपिक में कांस्य पदक विजेता टीम और एम्स्टर्डम में 1973 विश्व कप में रजत पदक के भी हिस्सा थे।
– उन्होंने 1974 और 1978 के एशियाई खेलों में रजत पदक भी हासिल किया।
– उन्होंने 1975 के मॉन्ट्रियल ओलंपिक में भी भाग लिया।

अवॉर्ड
– वर्ष 2007: ध्यानचंद लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड

—————
9. पालोनजी मिस्त्री का निधन 27 जून 2022 को हो गया, वह इनमें से क्‍या थे?

a. क्रिकेटर
b. एक्टर
c. उद्योगपति
d. वैज्ञानिक

Answer: c. उद्योगपति

– उनका निधन मुंबई में हुआ।

पालोनजी मिस्त्री
– वह 93 वर्ष के थे।
– उनका जन्म 1929 में हुआ था।
– वह कंस्ट्रक्शन कंपनी शापोरजी पलोनजी ग्रुप के चेयरमैन थे।
– उन्होंने ने एक आयरिश महिला से शादी की थी और इसके बाद वह आयरलैंड के नागरिक हो गए थे।
– उन्हें वर्ष 2016 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

साइरस मिस्त्री हैं पालोनजी के बेटे
– साइरस मिस्त्री पालोनजी के छोटे बेटे हैं।
– साइरस मिस्त्री वर्ष 2012 से 2016 तक टाटा संस के चेयरमैन थे।
– लेकिन इसके बाद वर्ष 2016 उन्हें चेयरमैन के पद से हटा दिया गया था।

शापोरजी पलोनजी ग्रुप है टाटा में सबसे बड़ा शेयरहोल्डर
– पालोनजी मिस्त्री की कंपनी शापोरजी पलोनजी ग्रुप टाटा ग्रुप में सबसे बड़ी शेयर होल्डर है।
– कंपनी के पास टाटा ग्रुप की 18.37% हिस्सेदारी है।

—————
10. अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट ने गर्भपात को लेकर कौनसा फैसला दिया, जिससे वहां की जनता ने भारी प्रदर्शन शुरू कर दिया?

a. गर्भपात का संवैधानिक अधिकार खत्म
b. गर्भपात का संवैधानिक अधिकार
c. हथ‍ियार रखने पर प्रतिबंध
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: a. गर्भपात का संवैधानिक अधिकार खत्म

– अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट ने 24 जून 2022 को 1973 के फैसले ‘रो बनाम वेड’ (‘Roe v. Wade’) को पलट कर गर्भपात का संवैधानिक अधिकार खत्म कर दिया।
– ‘रो बनाम वेड’ फैसले में महिलाओं को गर्भपात करने का अधिकार मिला था।
– इस फैसले के बाद अबॉर्शन का हक कानूनी रहेगा या नहीं इसे लेकर राज्य अपने अलग नियम बना सकते हैं।
– इस फैसले के बाद देश दो धड़े में बंट गया है। जहां एक हिस्सा इसका पुरजोर मुखालिफत कर रहा है, वहीं दूसरा धड़ा इसे ऐतिहासिक बताते हुए इसका स्वागत कर रहा है।

‘रो बनाम वेड'(‘Roe v. Wade’)
– रो या नोर्मा मैककोर्वे (जेन रो) ने टेक्सास के गर्भपात पर रोक लगाने वाले कानून पर मुकदमा दायर किया था।
– उन्होंने ने वर्ष 1970 में यह मुकदमा दायर किया था, तब वह 22 वर्ष की थी और पांच माह की गर्भवती थी।
– उस समय टेक्सास के जिला अटॉर्नी हेनरी वेड थे।
– वर्ष 1973 में जेन रो केस जीती और गर्भपात का संवैधानिक अधिकार मिला।

13 राज्यों ने गर्भपात का संवैधानिक अधिकार को खत्म करना शुरू किया
– द हिंदू के अनुसार अमेरिका के 13 राज्यों ने गर्भपात को खत्म करने के लिए कई प्रकार बैन लगाना शुरू कर दिए है।
– इसके अलावा गर्भपात को लेकर कई कड़े नियम भी बना दिए है।

लोगों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन शुरू किया
– सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद से ही अमेरिका के लोग सड़क पर उतर आए है और भारी प्रदर्शन कर रहे है।
– महिलाओं ने कहा है कि यह उनके मूल अधिकार का हनन है।

जो बाइडेन ने भी निंदा की
– अमेरिका के राष्ट्रपति ने भी निंदा जताते हुए कहा है कि सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला निंदनीय है।

भारत में गर्भपात को लेकर क्या नियम?
मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेगनेंसी (MTP) एक्ट,1971
– भारत का MTP एक्ट गर्भावस्था के 20 सप्ताह तक गर्भपात की अनुमति देता है।
– वर्ष 2021 में MTP एक्ट में एक संशोधन के माध्यम से, गर्भपात की सीमा को बढ़ाकर 24 सप्ताह कर दिया गया था।
– यह केवल विशेष श्रेणी की गर्भवती महिलाओं के लिए है जैसे कि बलात्कार या अनाचार से बची महिला।
– लेकिन गर्भपात के लिए इसमें में भी दो पंजीकृत डॉक्टरों का अप्रूवल होना जरूरी है।
– भ्रूण की अक्षमता (disability) के मामले में, गर्भपात के लिए कोई समय सीमा नहीं है।
– लेकिन इसमें भी राज्य के सरकारी डॉक्टरों के एक मेडिकल बोर्ड की अनुमति लेनी पड़ती है।

—————
11. 17th सिंगापुर नेशनल स्विमिंग चैंपियनशिप 2022 में भारत ने कितने गोल्ड मेडल जीते?

a. 10
b. 11
c. 12
d. 13

Answer: a. 10

– 17th सिंगापुर नेशनल स्विमिंग चैंपियनशिप 2022 सिंगापुर के OCBC एक्वेटिक सेन्टर में आयोजित हुई।
– यह चैंपियनशिप 23-26 जून 2022 तक चली।
– इस चैंपियनशिप में भारत ने 10 गोल्ड मेडल जीते।

गोल्ड
खिलाड़ी- कैटेगरी
1. श्रीहरि नटराज- मेन 100 एलसी मीटर बैकस्ट्रोक
2. मिहिर अंब्रे- मेन 50 एलसी मीटर बटरफ्लाई
3. अनीश सुनीलकुमार गौड़ा- मेन 800 एलसी मीटर फ्रीस्टाईल
4. अनीश सुनीलकुमार गौड़ा- मेन 200 एलसी मीटर फ्रीस्टाईल
5. श्रीहरि नटराज- मेन 50 एलसी मीटर बैकस्ट्रोक
6. मिहिर अंब्रे- मेन 100 एलसी मीटर बटरफ्लाई
7. अनीश सुनीलकुमार गौड़ा- मेन 400 एलसी मीटर फ्रीस्टाईल
8. शिवा श्रीधर- मेन 100 एलसी मीटर बैकस्ट्रोक
9. मिहिर अंब्रे- मेन 50 एलसी मीटर फ्रीस्टाईल
10. अनीश सुनीलकुमार गौड़ा- मेन 1500 एलसी मीटर

सिल्वर
खिलाड़ी- कैटेगरी
1. माना पटेल- वुमेन 100 एलसी मीटर बैकस्ट्रोक
2. सुवना सी भास्कर- वुमेन 50 एलसी मीटर बैकस्ट्रोक
3. अनीश सुनीलकुमार गौड़ा- मेन 400 एलसी मीटर आईएम
4. डॉल्फिन एक्वेटिक्स (टीम)- मेन 400 एलसी मीटर फ्रीस्टाईल रिले
5. डॉल्फिन एक्वेटिक्स (टीम)- मेन 800 एलसी मीटर फ्रीस्टाईल रिले
6. डॉल्फिन एक्वेटिक्स (टीम)- मेन 400 एलसी मीट मेडले रिले

नोट: डॉल्फिन एक्वेटिक्स भारत की एक स्विमिंग टीम है।

ब्रॉन्ज
1. शिवा श्रीधर- मेन 100 एलसी मीटर बैकस्ट्रोक
2. माना पटेल- वुमेन 200 एलसी मीटर बैकस्ट्रोक
3. शिवा श्रीधर- मेन 200 एलसी मीटर आईएम

—————
12. डाक विभाग के कर्मचारियों की ऑनलाइन ट्रेनिंग के लिए किस ई-लर्निंग पोर्टल को लॉन्च किया गया?

a. डाक सेवक
b. डाक कर्मयोगी
c. डाक स्वयं
d. डाक वन

Answer: b. डाक कर्मयोगी

– केंद्र सरकार ने 28 जून 2022 को डाक विभाग के ई-लर्निंग पोर्टल ‘डाक कर्मयोगी’ को लॉन्च किया।
– इस पोर्टल को संचार, रेल, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव और संचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान ने लॉन्च किया।

डाक कर्मयोगी
– ‘डाक कर्मयोगी’ पोर्टल लगभग 4 लाख ग्रामीण डाक सेवकों और विभागीय कर्मचारियों की दक्षताओं में वृद्धि करेगा।
– इस पोर्टल से कर्मचारियों को ऑनलाइन ट्रेनिंग दी जायेगी।

—————
13. रक्षा मंत्रालय ने इंडियन कोस्ट गार्ड के लिए कौन सा पेमेंट सिस्टम लॉन्च किया?

a. PAYG
b. PAYM
c. PADMA
d. इनमें से कोई नहीं

Answer: c. PADMA (Pay Roll Automation for Disbursement of Monthly Allowances)

– रक्षा मंत्रालय के रक्षा लेखा महानियंत्रक (CGDA) रजनीश कुमार ने 28 जून 2022 को
PADMA का उद्घाटन किया।

PADMA
– PADMA एक ऑटोमैटेड पेमेंट सिस्टम (मॉड्यूल) है।
– यह लगभग 15,000 भारतीय तटरक्षक बल के कर्मियों को वेतन और भत्तों का वितरण करेगा।
– इस मॉड्यूल को रक्षा लेखा विभाग के संरक्षण में विकसित किया गया है।
– इसका संचालन वेतन लेखा कार्यालय तटरक्षक, नोएडा करेगा।

—————
14. केन्द्र सरकार ने जानवरों के लिए देश की पहली कोविड-19 वैक्सीन लॉन्च की, इसका नाम बताएं?

a. Nuvaxovid
b. Ancovax
c. Sinopharm
d. Covovax

Answer: b. Ancovax (एंकोवैक्स)

– कृषि मंत्रालय ने जून 2022 में जानवरों के लिए देश की पहली कोविड-19 वैक्सीन ‘Ancovax’ लॉन्च की।
– यह वैक्सीन कुत्ते, शेर, तेंदुए, चूहे और खरगोश जैसे जानवरों के लिए है।
– वैक्सीन के अलावा कृषि मंत्रालय ने कुत्तों में कोविड-19 की जांच के लिए CAN-CoV-2 ELISA Kit को भी लॉन्च किया।

Ancovax
– इस वैक्सीन को इंडियन काउंसिल ऑफ एग्रीकल्चर रिसर्च-नेशनल रिसर्च सेन्टर ऑन इक्वाइन्स (ICAR-NRCE) ने विकसित किया है।
– इस वैक्सीन में एक निष्क्रिय SARS-CoV-2 (डेल्टा) एंटीजन (अलहाइड्रोजेल सहायक औषधि के साथ) है।
– यह वैक्सीन डेल्टा और ओमिक्रोन वेरिएंट को निष्क्रिय करने में सक्षम है।
– Ancovax एकमात्र वैक्सीन है जो जानवरों में COVID-19 वायरस को बेअसर करने में सक्षम है।

जानवरों के लिए वैक्सीन क्यों जरूरी?
– जानवरों के लिए कोविड-19 वैक्सीन की जरूरत तब पड़ी जब वर्ष 2020 में डेनमार्क ने एक अध्ययन में पाया कि वायरस मनुष्यों से मिंक (एक प्रकार का जानवर) में ट्रांसफर हुआ था।
– इसके बाद वायरस मिंक से मनुष्यों में ट्रांसफर हो गया था।
– वर्ष 2021 में भारत में भी चेन्नई के एक चिड़ियाघर में दो शेरों की मौत कोविड-19 से हो गई थी।
– इसी अलावा इसी चिड़ियाघर में 10 शेर कोविड-19 से संक्रमित हुए थे।
– इस तरह के आंकड़ों को ध्यान में रखकर जानवरों के लिए यह वैक्सीन विकसित की गई है।

जानवरों के लिए दुनिया में और कौन सी वैक्सीन हैं?
– Ancovax से पहले, रूस ने मार्च 2021 में जानवरों के लिए दुनिया की पहली कोविड -19 वैक्सीन Carnivac-Cov को विकसित किया।