28 & 29 April 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 28th & 29th April 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. केंद्र सरकार ने किस वजह से नए दो पहिया इलेक्ट्रिक वाहनों की लॉन्चिंग पर रोक लगाई और जांच के लिए कमेटी गठित की?

a. ब्रेक फेल होने
b. आग लगने
c. स्‍पीड बेकाबू होने
d. बिजली खर्च ज्‍यादा

Answer: b. आग लगने

– देश भर में अप्रैल 2022 में इलेक्ट्रिक स्‍कूटर में आग लगने की कई घटनाएं सामने आई।
– खासकर ओला इलेक्ट्रिक, ओकिनावा, प्योर ईवी और जितेंद्र ईवी के स्कूटर्स में आग की घटनाएं देखने को मिली हैं।
– इन घटनाओं जांच के लिए केन्द्र सरकार ने एक एक्सपर्ट कमिटी का गठन किया है।
– इसकी जांच रिपोर्ट आने तक फिलहाल ऐसे नए वाहनों के लॉन्च पर रोक लगा दी है।
– इन्हें बनाने वाली कंपनियों से कहा गया है कि आग लगने की घटनाओं की जांच पूरी होने कोई नया वीकल लॉन्च (New Launch) न किया जाए।
– दरअसल, लगातार आग की घटनाओं से सरकार की इलेक्ट्रिक व्‍हीकल (EV) को बढ़ावा देने के प्रयास को पलीता लग सकता है।
– ऐसे में अब सरकार सतर्क हुई है।
– इसके अलावा सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने इलेक्ट्रिक वाहन कंपनियो को कड़े निर्देश दिए है।

दो पहिया इलेक्ट्रिकों वाहनों से कैसी दुर्घटनाएं घटित हुई?
– मार्च 2022 में वेल्लोर (तमिलनाडु) में ओकिनावा स्कूटर में आग लग गई, जिसमें एक व्यक्ति और उसकी 13 वर्षीय बेटी की जान चली गई।
– अप्रैल 2022 की शुरुआत में नासिक में फैक्ट्री से ले जाते समय जितेंद्र ईवी द्वारा बनाए गए 20 से अधिक इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लग गई थी।
– तेलंगाना के निजामाबाद में 20 अप्रैल 2022 को प्योर ईवी के एक इलेक्ट्रिक स्कूटर की बैटरी फटने से एक 80 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई।
– ओला के स्कूटर्स में आग लगने से अब तक कम से कम चार लोगों की मौत हो चुकी है।

कंपनियो ने अपने स्कूटर्स वापस लेने की बात कही
– सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के दिए हुए निर्देशों का पालन करते हुए इन कंपनियो ने अपने स्कूटर्स वापस मंगाने की बात कही है।
– यह कंपनिया अब इन आग लगाने वाले स्कूटर्स की जांच करेंगी।
– इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए गुणवत्ता संबंधी दिशा-निर्देश भी जल्द ही जारी किए जाएंगे।
– इसके अलावा यदि कोई कंपनी अपनी प्रक्रियाओं में लापरवाही बरतती है।
– तो भारी जुर्माना लगाया जाएगा और सभी खराब वाहनों को वापस बुलाने का भी आदेश दिया जाएगा।

किन कंपनियो ने वाहन रिकॉल किए?
– ओला : 1441 स्कूटर्स
– प्योर ईवी : 2000 स्कूटर्स
– ओकिनावा : 3000 स्‍कूटर्स

दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनो की बिक्री
– वर्ष 2021: बिक्री में 132% बढ़त। कुल 2,33,971 वाहनों की बिक्री हुई।
– वर्ष 2020: 1,00,736 यूनिट्स की बिक्री।

आग लगने वाली घटनाओं से बिक्री पर पड़ेगा असर
– आग लगने वाली घटनाओं से उपभोक्ता अब डरे हुए है।
– इससे लोग अब इलेक्ट्रिक वाहनों को खरीदने में संकोच करेंगे।
– इससे इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में असर पड़ सकता है।

आग की वजह क्‍या है?
– इसकी जांच के लिए परिवहन मंत्रालय ने एक्‍सपर्ट कमेटी का गठन किया है।
– हालाकि बताया जा रहा है कि बैटरी में समस्‍या की वजह से ऐसी घटना होने की आशंका है।
– इन स्‍कूटर्स में चीन से आयातित ज्‍यादातर बैटरियां इस्‍तेमाल की गई हैं।
– इलेक्ट्रिक वाहनों को लेकर केंद्र सरकार की कोई स्‍पष्‍ट गाइडलाइन नहीं थी। न ही बैटरी की क्‍वालिटी को लेकर।

—————-
2. SIPRI की ताजा रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2021 में ग्लोबल मिलिट्री खर्च में भारत किस स्‍थान पर रहा?

a. पहला
b. दूसरा
c. तीसरा
d. चौथा

Answer: c. तीसरा

– SIPRI (स्टॉकहोल्म इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टिट्यूट) ने 25 अप्रैल 2022 को दुनियाभर में मिलिट्री खर्च पर रिपोर्ट जारी की।
– रिपोर्ट का नाम – Trends in World Military Expenditure 2021.

दुनिया में मिलिट्री पर बढ़ता खर्च
– वर्ष 2021 में वैश्विक मिलिट्री खर्च दो ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर को पार कर पहली बार 2113 अरब डॉलर तक पहुंच गया।
– वर्ष 2021 में वैश्विक मिलिट्री खर्च 2020 की तुलना में 0.7 प्रतिशत अधिक और 2012 की तुलना में 12 प्रतिशत अधिक रहा।
– टॉप-15 देशों का मिलिट्री खर्च 2021 में 1,717 अरब डॉलर तक पहुंच गया, जो कि वैश्विक मिलिट्री खर्च का 81 प्रतिशत है।

भारत का मिलिटरी खर्च
– वर्ष 2021 में भारत का मिलिट्री खर्च 76.6 बिलियन डॉलर (5.86 लाख करोड़ रुपए) रहा।
– यह खर्च 2020 की तुलना में 0.9 प्रतिशत अधिक रहा और 2012 की तुलना में 33 प्रतिशत ज्‍यादा।
– केंद्र सरकार ने बजट 2022-23 में डिफेंस पर खर्च का अनुमान 5.25 लाख करोड़ रुपए तय किया है।

वर्ष 2021 में मिलिट्री पर खर्च करने वाले टॉप-15 देश
देश- खर्च- GDP से कितना प्रतिशत खर्च
(1) अमेरिका- 801 बिलियन डॉलर- 3.5%
(2) चीन- 293 बिलियन डॉलर- 1.7%
(3) भारत- 76.6 बिलियन डॉलर- 2.7%
(4) यूनाइटेड किंगडम- 68.4 बिलियन डॉलर- 2.2%
(5) रूस- 65.9 बिलियन डॉलर- 4.1%
(6) फ्रांस- 56.6 बिलियन डॉलर- 1.9%
(7) जर्मनी- 56.0 बिलियन डॉलर- 1.2%
(8) सउदी अरब- 55.6 बिलियन डॉलर- 7.7%
(9) जापान- 54.1 बिलियन डॉलर- 1.1%
(10) साउथ कोरिया- 50.2 बिलियन डॉलर- 2.8%
(11) इटली- 32.0 बिलियन डॉलर- 1.5%
(12) ऑस्ट्रेलिया- 31.8 बिलियन डॉलर- 2.0%
(13) कनाडा- 26.4 बिलियन डॉलर- 1.3%
(14) ईरान- 24.6 बिलियन डॉलर- 2.3%
(15) इजरायल- 24.3 बिलियन डॉलर- 5.2%

—————
3. किस भारतीय एक्‍ट्रेस को ‘कान्स फिल्म फेस्टिवल 2022’ प्रतियोगिता की ज्यूरी का सदस्य बनाया गया?

a. कंगना रनौत
b. दीपिका पादुकोण
c. अलिया भट्ट
d. रीमि सेन

Answer: b. दीपिका पादुकोण

– 75वां कान्स फिल्म फेस्टिवल 17-28 मई 2022 तक चलेगा।
– पादुकोण आठ सदस्यीय जूरी का हिस्सा हैं।
– इस जूरी का नेतृत्‍व फ्रेंच एक्टर विनसेंट लिंडन करेंगे।

कान्स फिल्म महोत्सव
– कान्‍स फेस्टिवल, फ्रांस में आयोजित एक वार्षिक फिल्म समारोह है।
– कान्स फ़िल्मोत्सव का प्रारंभ 1939 में हुआ था।
– यह विश्व के सबसे सम्मानजनक फ़िल्म उत्सवों में से एक माना जाता है।
– वर्ष 2003 तक, इसे इंटरनेशनल फिल्‍म फेस्टिवल (फेस्टिवल इंटरनेशनल डू फिल्म) कहा जाता था।
– लेकिन अंग्रेजी में इसे कान्स फिल्म फेस्टिवल के रूप में जाना जाता था।

——————
4. LIC ने कितने प्रतिशत शेयर के IPO शेयर बाजार में 2 से 9 मई को लाने का ऐलान किया?

a. 5%
b. 4%
c. 4.5%
d. 3.5%

Answer: d. 3.5%

– केंद्र सरकार ने फरवरी 2022 में LIC का 5% शेयर बेचने की बात कही थी। लेकिन अप्रैल में इसे कम करके 3.5% कर दिया गया है।

IPO क्‍या होता है?
– IPO का फुल फॉर्म है Initial Public Offering
– दरअसल, एक कंपनी को कुछ शेयर होल्डर आपस में मिलकर चलाते है।
– जब इन कंपनियों को पूंजी (capital) की जरूरत होती है, तब यह खुद को शेयर बाजार में लिस्ट कराती है।
– इसी प्रक्रिया में IPO यानी Initial Public Offer जारी करना पड़ता है।

– शेयर मार्केट में लिस्ट होने के लिए प्राइवेट कंपनी जो IPO लाती है, वह बड़ी संख्या में आम लोगों, निवेशकों और अन्य को कंपनी के शेयर अलॉट करती है।
– मतलब अब उस कंपनी का मालिक सिर्फ उसे चलाने वाला परिवार या शेयर होल्डर नहीं होते, बल्कि वह सब होते हैं जिनको IPO में शेयर अलॉट होता है।
– IPO में जो शेयर अलॉट होते हैं, वह मुख्यता BSE या NSE जैसे स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होते हैं।
– यहां पर लोग इन शेयरों की खरीद बिक्री कर सकते हैं।
– अगर कोई कंपनी IPO लाने का फैसला करती है तो उसे मार्केट रेग्युलेटर SEBI के रूल्स को मानना पड़ता है।

LIC का IPO
– LIC (लाइफ इंश्योरेंस कोर्पोरेशन) ने IPO के लिए प्रति शेयर कीमत 902-949 रुपए फिक्स कर दी है।
– LIC के पॉलिसी होल्डर्स को 60 रुपए का डिसकाउंट मिलेगा।
– जबकि रिटेल इंवेस्टर्स और योग्य LIC कर्मचारियों को 45 रुपए का डिसकाउंट मिलेगा।
– IPO का एंकर इंवेस्टर कोटा 02 मई को खुलेगा।
– IPO 09 मई को बंद होगा।
– यह देश का सबसे बड़ा IPO माना जा रहा है।

सरकार ने कम स्‍टेक क्‍यों बेचने का फैसला किया?
– दरअसल, कोरोना और इसके बाद रूस-यूक्रेन विवाद के कारण शेयर बाजार में अस्थिरता है।
– पेटीएम के शेयरों की दुर्दशा देखकर सरकार फूंक-फूंक कर कदम उठा रही है।
– माना जा रहा है कि इसी वजह से IPO का साइज 5% से घटाकर 3.5% कया गया है।
– LIC का 3.5% स्टेक बेचने से सरकार को 21 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा प्राप्त हो सकते हैं।

LIC की एम्बेडेड वेल्यू और मार्केट वेल्यू कितनी है?
– एम्बेडेड वेल्यू: 5.4 लाख करोड़ रुपए (30 सितंबर, 2021 तक)
– मार्केट वेल्यू: 6 लाख करोड़

एम्बेडेड वेल्यू (embedded value)
– एक बीमा कंपनी में समेकित शेयरधारकों के मूल्य को एम्बेडेड वेल्यू कहते है।

मार्केट वेल्यू
– वह प्राइस जिसपर कोई वस्तु या प्रोडक्ट बेचा जाए, उसे मार्केट वेल्यू कहते है।

कैसे लाया जाता है IPO?
– शेयर मार्केट के नियमों को पूरी तरह से पालन करने के लिए कंपनी को एक मर्चेंट बैंकर नियुक्त करना पड़ता है।
– यह बैंकर सेबी में रजिस्टर्ड होता है।
– यह बैंकर ही IPO से जुड़े सारे अनुपालनों (Compliance) को पूरा करके IPO के लिए आवेदन करता है।
– जब कोई कंपनी IPO लाती है तो उस कंपनी को सेबी (SEBI) के पास आवेदन करते समय उसे कुछ डॉक्यूमेंट्स जमा करने पड़ते हैं।
– इसे Draft Red Herring Prospectus (DRHP) कहते है।
– किसी भी कंपनी के IPO का DRHP उस कंपनी के वित्तीय जानकारी से लेकर कानूनी नियमों तक की जानकारी देता है।
– सेबी इस डॉक्यूमेंट का आकलन करती है।
– अगर सब कुछ ठीक होता है तो कंपनी को IPO लाने की अनुमति दी जाती है।

LIC के चेयरमैन : MR Kumar
हेडक्‍वार्टर : मुंबई
स्‍थापना : 1 सितंबर 1956

——————
5. कश्मीर में कबाब बेचने वाले की तस्वीर के लिए किस भारतीय को ‘पिंक लेडी फूड फोटोग्राफर ऑफ द ईयर 2022’ अवॉर्ड मिला?

a. अमित कुलकर्णी
b. एस के यादव
c. देबदत्त चक्रवर्ती
d. अजय अंनत

Answer: c. देबदत्त चक्रवर्ती

– कैसी तस्‍वीर : धुएं से भरी जगह पर काम करते एक स्ट्रीट फूड विक्रेता तंदूर पर कबाब बना रहा है। तस्‍वीर में सुनहरी रोशनी है।
– इस फोटोग्राफ के लिए देवदत्त चक्रवर्ती की पिंक लेडी फूड फोटोग्राफर ऑफ द ईयर 2022 का पुरस्कार मिला है।
– देवदत्त चक्रवर्ती ने ये तस्वीर कश्मीर के श्रीनगर में ली थी।
– उन्होंने इस तस्वीर को कबाबियाना का नाम दिया है.

पिंक लेडी फूड फोटोग्राफर ऑफ द ईयर
– पिंक लेडी फूड फोटोग्राफर ऑफ द ईयर प्रतियोगिता को वर्ष 2011 में शुरू किया गया था।
– यह अवॉर्ड विश्वभर के बेस्ट फूड फोटोग्राफर और वीडियो के सम्मान में दिया जाता है।
– इस सम्‍मान ब्रिटेन की द फूड अवॉर्ड कंपनी देती है।

—————-
6. एशियाई कुश्‍ती चैंपियनशिप 2022 में भारत ने कुल कितने पदक जीते?

a. 5
b. 17
c. 19
d. 22

Answer: b. 17

– चैंपियनशिप का आयोजन मंगोलिया की राजधानी उलानबटार में अप्रैल 2022 में हुआ।
– इसमें 30 सदस्‍यीय भारतीय दल ने हिस्‍सा लिया।

कितने पदक जीता
गोल्‍ड : 1
सिल्‍वर : 5
ब्रॉंज : 11

– रवि कुमार एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में 3 स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय बने।
– उन्होंने वर्ष 2020 (नई दिल्ली), वर्ष 2021 (अल्माटी, कज़ाकिस्तान) और वर्ष 2022 (उलानबटार, मंगोलिया) में गोल्‍ड जीता।

भारत के पदक विजेता पहलवान

स्वर्ण पदक
– रवि कुमार दहिया – 57 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल

रजत पदक
– बजरंग पूनिया -65 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
– दीपक पूनिया – 86 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
– गौरव बालियान-79 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
– अंशु मलिक – 57 किलो महिला फ्रीस्टाइल
– राधिका – 65 किलो महिला फ्रीस्टाइल

कांस्य पदक
– नवीन -70 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
– विक्की -92 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
– सत्यव्रत कादियान- 97 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
– सुषमा -55 किलो महिला फ्रीस्टाइल
– सरिता मोर – 59 किलो महिला फ्रीस्टाइल
– मनीषा- 62 किलो महिला फ्रीस्टाइल
– अर्जुन-55 किलो पुरुष ग्रीको रोमन
– नीरज – 63 किलो पुरुष ग्रीको रोमन
– सचिन सहरावत-67 किलो पुरुष ग्रीको रोमन
– हरप्रीत सिंह संधू- 82 किलो पुरुष ग्रीको रोम0न
– सुनील -87 किलो पुरुष ग्रीको रोमन

—————-
7. पहली भारतीय कंपनी का नाम बताएं, जिसने बाजार पूंजीकरण (Market Capitalization) 19 लाख करोड़ रुपए के स्‍तर को पार कर लिया?

a. RIL
b. TCS
c. ITC
d. SBI

Answer: a. RIL (रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड)

मार्केट कैप (Market Capitalization)
– Market Capitalization का मतलब किसी कंपनी के स्टॉक के बकाया शेयरों का टोटल डॉलर मार्केट वेल्यू।
– उदाहरण के लिए, एक कंपनी जिसके 10 मिलियन शेयर 100 डॉलर में बिक रहे हैं, उसका मार्केट कैप $1 बिलियन होगा
– Market Capitalization को मुख्यतः मार्केट कैप के रूप में जाना जाता है।

– रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबानी हैं।
– RIL ने 19 लाख करोड़ का मार्केट कैप (Market Capitalization) 27 अप्रैल 2022 को प्राप्त किया।
– इस दिन कंपनी 2,800 एक शेयर पर ट्रेड कर रही थी।
– यह किसी भारतीय कंपनी के लिए पहली बार हुआ, जिसने इतना मार्केट कैप प्राप्त किया है।
– बिजनेस इंसाइडर के विशेषज्ञों के अनुसार इतना मार्केट कैप रूस-यूक्रेन विवाद के कारण बढ़ा है।
– इस दौरान रिलायंस ने यूरोपीय देशों को डीजल निर्यात किया।

मार्केट कैप के मामले में विदेशी कंपनियो को पछाड़ा
– रिलायंस इंडस्ट्रीज अब पेप्सिको, टोयोटा, अलीबाबा जैसी वैश्विक कंपनियों से बड़ी है।

——————
8. किस खेल की पूर्व महिला कप्तान एल्वेरा ब्रिटो का निधन 26 अप्रैल 2022 को हो गया?

a. हॉकी
b. क्रिकेट
c. फुटबॉल
d. टेनिस

Answer: a. हॉकी

– वह उम्र संबंधित समस्‍याओं से जूझ रही थीं।
– वह 81 वर्ष की थी।

एल्वेरा ब्रिटो के बारे में
– उनका जन्म 15 जून 1940 में हुआ था।
– वह बेंगलुरू के पास कूक टाउन में पली-बढ़ी।
– एल्वेरा ने आस्ट्रेलिया, श्रीलंका और जापान के खिलाफ भारत का प्रतिनिधित्व किया था।

अवॉर्ड्स
– वर्ष 1965: अर्जुन अवॉर्ड

नोट: ऐनी लम्सडेन (1961) के बाद एल्वेरा ब्रिटो अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित होने वाली दूसरी महिला हॉकी खिलाड़ी थीं।

—————
9. NASSCOM का अध्‍यक्ष वर्ष 2022-23 के लिए किसे चुना गया?

a. आकाश कपूर
b. रतन टाटा
c. कृष्णन रामानुजम
d. आर माधवन

Answer: c. कृष्णन रामानुजम

– वह TCS (टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज) में एंटरप्राइजेज ग्रोथ ग्रुप के अध्‍यक्ष हैं।
– Nasscom : National Association of Software and Services Companies

—————–
10. डेनिश ओपन 2022 में किस भारतीय तैराक ने 800 मीटर फ्रीस्टाइल (पुरुष) में गोल्ड मेडल जीता?

a. वेदांत माधवन
b. सजन प्रकाश
c. आर्यन पंचाल
d. वैष्णव ठाकुर

Answer: a. वेदांत माधवन

– डेनिश ओपन 2022 का आयोजन कोपेनहेगन (डेनमार्क) में अप्रैल में आयोजित हुआ।
– वेदांत माधवन ने 17 अप्रैल 2022 को 800 मीटर फ्रीस्टाइल (मेल) स्विमिंग में गोल्ड मेडल जीता।
– इसके अलावा इसी इवेंट में उन्होंने 15 अप्रैल 2022 को 1500 मीटर फ्रीस्टाइल में सिल्वर मैडल भी जीता।
– उनकी उम्र 16 वर्ष है।

वेदांत माधवन के बारे में
– वेदांत माधवन का जन्म 21 अगस्त 2005 को मुंबई में हुआ।
– वह प्रसिद्ध एक्टर आर माधवन के बेटे है।
– माधवन ने अक्टूबर 2022 में जून‍ियर नेशनल एक्वाट‍िक चैंप‍ियनश‍िप में महाराष्ट्र के लिए टोटल 7 मेडल जीते थे।