15th February 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 15th February 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. संसद टीवी का YouTube अकाउंट हैक, गूगल ने चैनल टर्मिनेट किया.

– हैकर्स ने अकाउंट हैक करके संसद टीवी के यूट्यूब चैनल का नाम बदलकर Ethereum रख दिया।
– यह घटना 15 फरवरी को 01:00 am बजे इस पर एक अनऑथराइज्ड एक्टिविटी (लाइव स्ट्रीमिंग) की गई।
– संसद टीवी के ज्‍वाइंट सेक्रेटरी ने इस बारे में प्रेस स्‍टेटमेंट जारी किया है।
– उनके अनुसार हैकर्स ने चैनल का नाम बदल दिया।
– चलते संसद टीवी के चैनल को यूट्यूब ने बैन कर दिया है।
– इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम (CERT-In) ने इस अलर्ट की जानकारी सरकार को दी।
– यह टीम चैनल को फिर से एक्टिव करने के लिए काम कर रही है।

क्रिएटर के लिए यूट्यूब की पॉलिसी क्या कहती है?
– दरअसल, गूगल ने यूट्यूब कंटेट क्रिएटर और चैलन चलाने वालों के लिए एक पॉलिसी बनाई है।
– यूट्यूब अपनी गाइडलाइन को लेकर काफी सख्ती दिखाता है।
– इसके तहत यह जरूरी है कि आपका चैनल, यूट्यूब पर कमाई करने से जुड़ी पॉलिसी को फॉलो करता हो।
– पॉलिसी में यूट्यूब के कम्यूनिटी दिशा-निर्देश, सर्विस की कंडीशन, कॉपीराइट और गूगल एडसेंस प्रोग्राम की पॉलिसी शामिल हैं।

नोट – इससे पहले जनवरी 2022 में हैकर्स ने प्रधानमंत्री का ऑफिशियल ट्वीटर हैंडल भी हैक कर लिया था। उस दौरान हैकर्स ने क्रिप्‍टो करंसी को लागू करने की बात लिख दी थी। कुछ देर बाद जब पीएमओ को इस ट्वीटर हैंडल का एक्‍सेस मिला, तब यह डिलीट किया गया।

——————-


2. टाटा ग्रुप ने एअर इंडिया का नया MD और CEO किसे नियुक्‍त किया?

एअर इंडिया के नए MD और CEO कौन बनें?

a. इल्कर आयसी
b. सोनल मानसी
c. रॉबर्ट मिस्‍त्री
d. तुशार मेहता

Answer: a. इल्कर आयसी (Ilker Ayci)

– वह तुर्किश एयरलाइंस के चेयरमैन रह चुके हैं।
– वह एक अप्रैल से अपनी जिम्मेदारी को संभालेंगे। वह वर्तमान MD और CEO विक्रम देव दत्‍त (IAS ऑफिसर) की जगह लेंगे।
– टाटा संस ने यह फैसला 14 फरवरी 2022 को लिया। इस बैठक में टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन भी मौजूद थे।

इल्‍कर आयसी के बारे में
– इल्‍कर आयसी का जन्म वर्ष 1971 में इस्तांबुल में हुआ था।
– वह अप्रैल 2015 से जनवरी 2022 तक तुर्किश एयरलाइंस के चेयरमैन रह चुके हैं।

एअर इंडिया
– सरकार ने जनवरी 2022 में इस कंपनी का विनिवेश करते हुए मालिकाना हक, टाटा संस की कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड को सौंपा था।
– इसकी स्‍थापना अप्रैल 1932 में उद्योगपति JRD टाटा ने की थी।

—————–
3. EIU डेमोक्रेसी इंडेक्स 2021 में भारत का स्‍थान बताएं?

a. 15
b. 26
c. 46
d. 53

Answer: c. 46

– इस इंडेक्‍स को इकोनॉमिक इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) ने तैयार किया है। यह लंदन बेस्‍ड संगठन है।
– लोकतंत्र सूचकांक में दुनिया के 167 देशों की रैंकिंग है। इसमें केवल 21 को ही पूर्ण लोकतांत्रिक बताया गया है।

Top 10 Democracy
1. नार्वे (9.75 स्‍कोर)
2. न्‍यूजीलैंड (9.37 स्‍कोर)
3. फिनलैंड (9.27 स्‍कोर)
4. स्‍वीडेन (9.26 स्‍कोर)
5. आइसलैंड (9.18 स्‍कोर)
6. डेनमार्क (9.09 स्‍कोर)
7. आयरलैंड (9.00 स्‍कोर)
8. ताइवान (8.99 स्‍कोर)
9. ऑस्‍ट्रेलिया (8.90 स्‍कोर)
9. स्‍वीट्जरलैंड (6.91 स्‍कोर)
(नोट – ऑस्‍ट्रेलिया और स्‍वीट्जरलैंड को रैंक 9 पर रखा गया है)

भारत का स्‍थान
– 2021 : 46 रैंक (6.91 स्‍कोर)
– 2020 : 53 रैंक (6.61 स्‍कोर)
– 2019 : 51 रैंक (6.9 स्‍कोर)

पड़ोसी देश
– म्‍यांमार : 166 (1.02 स्‍कोर)
– चीन : 148 (2.21 स्‍कोर)
– पाकिस्‍तान : 104 (4.31 स्‍कोर)
– नेपाल : 101 (4.41 स्‍कोर)
– भूटान : 81 (5.71 स्‍कोर)
– बांग्‍लादेश : 75 (5.99 स्‍कोर)
– श्रीलंका : 67 (6.14 स्‍कोर)
– मालदीव : 69 (6.10 स्‍कोर)

रैंकिंग में 5 बातों को बनाया गया आधार
– चुनावी प्रक्रिया
– सरकार की कार्यप्रणाली
– राजनीतिक भागीदारी
– राजनीतिक संस्कृति
– नागरिक स्वतंत्रताएं

लोकतंत्र की चार श्रेणी
– पूर्ण लोकतंत्र
– त्रुटिपूर्ण लोकतंत्र
– हाइब्रीड लोकतंत्र
– सत्तावादी शासन

सबसे खराब स्थिति
रैंक – देश
167 : अफगानिस्‍तान
166 : म्‍यांमार
165 : नार्थ कोरिया
164 : डेमोक्रेटिक कांगो गणराज्य
162 : सेंट्रल अफ्रीकन रिपब्लिक
162 : सीरिया

मुख्‍य बातें
– 167 लोकतांत्रिक देशों में केवल 21 को ही पूर्ण लोकतांत्रिक (democratic) बताया गया है।
– भारत को त्रुटिपूर्ण लोकतंत्र (Flawed democracy) में रखा गया है।
– रिपोर्ट में बताया गया है कि दुनिया की एक तिहाई आबादी सत्तावादी शासन (authoritarian regime) में रह रही है।
– लोकतांत्रिक पूंजीवादी मॉडल को चीन से एक चुनौती का सामना करना पड़ रहा है।
– चीन वर्ष 2030 तक दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्‍यवस्‍था बन सकता है।

—————–
4. कनाडा ने किस वजह से 52 साल में पहली बार आपातकाल लागू किया?

a. सिटीजनशिप प्रोटेस्ट
b. ट्रकर्स प्रोटेस्ट
c. लेबर्स प्रोटेस्ट
d. डॉक्‍टर्स प्रोटेस्‍ट

Answer: b. ट्रकर्स प्रोटेस्ट

– ट्रकर्स के आंदोलन से कनाडा की राजधानी ओटावा ठप हो गया है। देशभर में कई जगहों पर सड़कों को जाम कर दिया है।
– यह प्रदर्शन और घेराव जनवरी से चल रहा है। जनवरी में तो हालात ऐसे हुए थे कि PM जस्टिन ट्रूडो को सीक्रेट प्‍लेस में जाना पड़ा था।

– आखिरकार कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने 14 फरवरी 2022 को देश में इमरजेंसी एक्ट लागू किया।
– यह एक्ट कनाडा में 52 साल बाद लगाया गया है। इससे पहले वर्ष 1970 में क्‍यूबेक फ्रीडम मूवमेंट से निपटने के लिए तत्‍कालीन PM पियरे ट्रूडो ने इमर्जेंसी लागू किया था। वह वर्तमान पीएम जस्टिन ट्रूडो के पिता थे।

क्‍यों प्रोटेस्‍ट कर रहे हैं ट्रक चालक और उसके मालिक
– दरअसल, कनाडा की केंद्रीय सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर वैक्‍सीनेशन को मेंडेट (अनिवार्य) कर दिया है।
– इस मेनडेट (अनिवार्य) के अनुसार सभी कैनेडियन क्रॉस-बॉर्डर ट्रकर्स को वैक्सिनेटेड होना आवश्यक था।
– जबकि दुनिया में बहुत सारे लोग ऐसे हैं, जो वैक्‍सीन नहीं लेना चाहते हैं। (ऐसा ही उदाहरण सर्बियाई टेनिस खिलाड़ी नोवाक जोकोविच के मामले में आया था, जब उन्‍होंने वैक्‍सीन लेने से इनकार कर दिया और उन्‍हें ऑस्‍ट्रेलियन ओपन में शामिल होने से पहले ही ऑस्‍ट्रेलिया से डिपोर्ट कर दिया गया था।)
– ऐसे ही कनाडा में बहुत सारे ट्रेकर्स भी हैं, जो कोविड वैक्‍सीन को अनिवार्य करने के खिलाफ हैं।
– सोशल रेस्ट्रिक्शंस और वैक्सीन मेनडेट्स से परेशान होकर कनाडा के ट्रकर्स ने इसके खिलाफ जनवरी 2022 में प्रोटेस्ट करना शुरू कर दिया।

ट्रकर्स प्रोटेस्‍ट से कनाडा की हालात खराब
– प्रदर्शनकारियों ने 7 फरवरी को कनाडा और यू.एस. के बीच एक प्रमुख ट्रेड कॉरिडोर, Detroit’s Ambassador bridge को जाम कर दिया।
– इन प्रदर्शनकारियों मांग है कि कॉविड वैक्सीन मेनडेट को हटाए।

संसद घेराव की वजह से जस्टिन ट्रूडो को सीक्रेट जगह जाना पड़ा
– जनवरी 2022 में प्रदर्शनकारियों ने कनाडा की संसद (Parliament Hill) को भी घेर लिया था।
– जिसके बाद जस्टिन ट्रूडो और उनके परिवार की सुरक्षा को खतरा बताया गया था।
– सुरक्षा के खतरे के कारण प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो और उनके परिवार को सीक्रेट जगह ले जाया गया था।

ट्रकर्स प्रोटेस्ट को कौन सपोर्ट कर रहा है?
– कनाडा की विपक्ष कंजर्वेटिव पार्टी ने इस प्रोटेस्ट को सपोर्ट किया है।
– इसके अलावा 04 फरवरी 2022 को अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इस प्रोटेस्ट का समर्थन किया है।

क्यों लगाया गया इमरजेंसी एक्ट?
– ट्रकर्स इस प्रोटेस्ट से सप्लाई चैन में दिक्कत आ रही है।
– इस प्रोटेस्ट के कारण कनाडा की अर्थव्यवस्था पर असर पड़ रहा है।
– देश की आंतरिक सुरक्षा को भी खतरा।
– देश के नागरिकों को दिक्कत।

इमर्जेंसी एक्‍ट से सरकार को क्‍या अधिकार मिले?
– यह इमरजेंसी एक्ट फेडरल गवर्नमेंट को इस प्रोटेस्ट को गैरकानूनी करार देने का अधिकार देगा।
– यह एक्ट सरकार को रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस का भारी मात्रा में प्रयोग करने की अनुमति देगा।
– प्रदर्शनकारियों के बैंक खातों को फ्रीज करने का अधिकार।
– हालांकि यह एक्ट कनाडा के नागरिकों के मूल अधिकारों का हनन नहीं करेगा।

पुलिस को इमरजेंसी एक्ट से क्या-क्या अधिकार मिले है?
– प्रोटेस्ट को रोकने के लिए पुलिस अब ट्रक्स और अन्य वाहन जोकि नाकाबंदी के लिए प्रयोग किए जा रहे हैं, उन्हे सीज (जब्त) कर सकेगी।
– रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस (राष्ट्रीय बल) ओटावा में पुलिस व्यवस्था नहीं संभालेगी।
– लेकिन इसके सदस्यों को अब प्रांतीय कानूनों( provincial laws) और स्थानीय उपनियमों (local bylaws) को लागू करने की अनुमति मिली है।
– और किसी भी संघीय आदेश (federal orders) को पूरा करने की अनुमति होगी।
– पुलिस प्रदर्शनकारियों के बारे में बैंकों के साथ सूचनाओं का आदान-प्रदान करेगी।
– प्रदर्शनकारियों के व्यक्तिगत और व्यावसायिक खातों को फ्रीज भी कर सकेगी।
– ताकि प्रोटेस्ट के लिए चल रही क्राउड फंडिंग को रोका जा सके।

सरकार इन्हें देगी वित्तीय सहायता?
– ओटावा में स्टोर्स, रेस्टोरेंट्स और अन्य व्यवसायों जिनको की प्रोटेस्ट के कारण बंद करना पड़ा।
– कनाडा की सरकार ने उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करने की बात कही है।
– और जल्द ही इसकी घोषणा भी की जायेगी।

——————-
5. केंद्र सरकार ने पुलिस के आधुनिकिकरण (Modernization) योजना का विस्‍तार करते हुए पांच वर्षों (2025-26 तक) के लिए कितनी रकम को मंजूरी दी?

a. 27,886 करोड़ रूपए
b. 28,566 करोड़ रूपए
c. 24,354 करोड़ रूपए
d. 26,275 करोड़ रूपए

Answer: d. 26,275 करोड़ रूपए

– केंद्र सरकार ने 13 फरवरी 2022 को मॉडर्नाइजेशन ऑफ पुलिस फोर्स की अम्ब्रेला स्कीम को पांच वर्षों तक जारी करने की स्वीकृति दे दी है।
– इसके तहत सरकार 26,275 करोड़ रूपए खर्च करेगी।
– यह अप्रूवल वर्ष 2021-22 से बढ़ाकर 2025-26 तक के लिए कर दिया गया है।

कहां कितना खर्च?
– 18,839 करोड़ : जम्मू-कश्मीर, पूर्वोत्तर राज्यों, नक्सल व अन्य वामपंथी उग्रवाद व आतंकवाद प्रभावित क्षेत्रों की सुरक्षा के लिए।
– 4,846 करोड़ : राज्यों की पुलिस बलों के मॉडर्नइजेशन के लिए।
– 2,080.50 करोड़ : राज्यो और केंद्रशासित प्रदेश में हाईक्वालिटी फॉरेनसिक सांइस लैबो का निर्माण करने के लिए।
– 8,689 करोड़ : नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में छह LWE योजनाओं के लिए।
– 350 करोड़ : इंडिया रिजर्व बटालियंस या स्पेसलाइज्ड इंडिया रिजर्व बटालियंस के गठन के लिए।
– 50 करोड़ : राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में नारकोटिक्स पर कंट्रोल करने के लिए।

Modernisation of State Police Forces (MPF Scheme)
– यह योजना वर्ष 1969-70 में शुरू की गई थी।
– इसका नोडल मंत्रालय गृह मंत्रालय है।
– दरअसल, ‘पुलिस’ और ‘कानून और व्यवस्था’ भारत के संविधान में आठवीं अनुसूची की सूची II की प्रविष्टि 2 के अनुसार राज्य के क्षेत्र में विषयों की श्रेणी में आते हैं।
– इसके मैनेजमेंट की जिम्‍मेदारी मुख्‍य रूप से राज्‍य सरकार की होती है।
– लेकिन देखा गया है कि फाइनेंशियल बाधाओं की वजह से कई सारे राज्‍य इसके मॉडर्नाइजेशन में पीछे रह गए।
– ऐसे में केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय ने राज्‍यों की मदद के लिए Modernisation of State Police Forces (MPF Scheme) 1969-70 में शुरू की।

योजना का फोकस क्या है?
– इससे सुरक्षित पुलिस स्टेशनों, प्रशिक्षण केंद्रों, पुलिस आवास (आवासीय), पुलिस स्टेशनों को आवश्यक गतिशीलता, आधुनिक हथियार, संचार उपकरण और फोरेंसिक सेट-अप आदि से लैस करके अत्याधुनिक स्तर के पुलिस बुनियादी ढांचे का निर्माण होगा।

——————–
6. अंतर्राष्ट्रीय मिर्गी दिवस (International Epilepsy Day) कब मनाया जाता है?

a. फरवरी के पांचवे सोमवार
b. फरवरी के चौथे सोमवार
c. फरवरी के तीसरे सोमवार
d. फरवरी के दूसरे सोमवार

Answer: d. फरवरी के दूसरे सोमवार

– वर्ष 2022 में, यह दिवस 14 फरवरी को मनाया गया।
– इंटरनेशनल ब्यूरो ऑफ एपिलेप्सी (IBE) और इंटरनेशनल लीग अगेंस्ट एपिलेप्सी (ILAE) की ओर से यह दिवस वर्ष 2015 से मनाना शुरू किया गया था।
– इस दिन को मनाने का उद्देश्‍य बीमारी के बारे में जागरूकता फैलाना है।

मिर्गी क्‍या है
– मिर्गी एक न्यूरोलॉजिकल डिसॉर्डर है, जिससे दिमाग में असामान्य विद्युत तरंगें पैदा होती हैं।
– दिमाग में गड़बड़ी के चलते इंसान को बार-बार दौरे पड़ने लगते हैं।
– दौरा पड़ने पर दिमागी संतुलन बिगड़ जाता है और शरीर लड़खड़ाने लगता है।

IBE के अध्यक्ष- फ्रांसिस्का सोफिया
IBE की स्थापना- 1961

—————–
7. ESPNcricinfo Awards 2021 समारोह में ‘Test Batting Award’ किस भारतीय खिलाड़ी को मिला?

a. ऋषभ पंत
b. केएल राहुल
c. शुभमन गिल
d. वाशिंगटन सुंदर

Answer: a. ऋषभ पंत

– वह भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज हैं।
– उन्‍हें यह अवॉर्ड वर्ष 2021 में ब्रिसबेन में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 89 रन की पारी के लिए दिया गया है।

All Awards
– Captain of Year : केन विलियमसन (न्‍यूजीलैंड के कप्‍तान)
– Test batting award : ऋषभ पंत (भारत)
– Test bowling award : काइल जैमीसन (न्‍यूजीलैंड) [उनकी मदद से न्‍यूजीलैंड ने पहला वर्ल्‍ड टेस्‍ट चैंपियन बना]
– Debutant of the Year : ओली रॉबिन्सन (इंग्‍लैंड)
– ODI batting award : फखर जमान (पाकिस्‍तान)
– ODI bowling award : साकिब महमूद (पाकिस्‍तान)
– T20I batting award : जोस बटलर (इंग्‍लैंड)
– T20I bowling award : शाहीन अफरीदी (पाकिस्‍तान)

—————–
8. इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) के अध्‍यक्ष कौन बने?

a. मोहित अस्‍थाना
b. रमेश भटटाचार्य
c. देवाशीष मित्रा
d. सुरेश मेहरा

Answer: c. देवाशीष मित्रा

– ICAI ने देवाशीष मित्रा को 2022-2023 के कार्यकाल के लिए संस्था का अध्यक्ष चुना है।
– उनकी ये नियुक्ति 12 फरवरी 2022 को की गई है।
– इसके अलावा अनिकेत सुनील तलाटी ICAI के उपाध्यक्ष चुने गए हैं।

ICAI : The Institute of Chartered Accountants of India
– स्‍थापना : 1 July 1949.
– इसका स्‍वामित्‍व (Ownership) कॉर्पोरेट मंत्रालय के पास है।

—————–
9. NCRB की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2020 में सभी तरह की दुर्घटनाओं में कितने लोगों की मौत हुई?

a. 3,74,397
b. 4,44,099
c. 6,25,000
d. 9,87,990

Answer: a. 3,74,397

– NCRB फुल फॉर्म : National Crime Record Bureau.
– रिपोर्ट का नाम : Accidental Deaths and Suicides in India 2020.
– कब जारी हुई रिपोर्ट : वर्ष 2022.

वर्ष : एक्सीडेंट्ल डेथ्स
2016: 4,18,221
2017: 3,96,584
2018: 4,11,824
2019: 4,21,104
2020: 3,74,397

(नोट – कोविड-19 की वजह से सरकार की पाबंदियों की वजह से वर्ष 2020 में दुर्घटना से मौत के आंकड़े कम हुए)

देश के मुख्य राज्यों में एक्सीडेंट्ल डेथ्स
राज्‍य वर्ष 2020
– Maharashtra: 57,806 (15.4%)
– Madhya Pradesh: 40,518 (10.8%)
– Uttar Pradesh: 31,691 (8.5%)
– Karnataka: 24,398 (6.5%)
– Rajasthan: 22,384 (6.0%)
– Gujarat: 20,799 (5.6%)
– Chhattisgarh: 20,057 (5.4%)
– Odisha: 18,888 (5.0%)
– Tamil Nadu: 18,390 (4.9%)
– West Bengal: 4,794 (4.0%)

causes of accidental deaths
– Traffic Accidents: 1,46,354 (39.1%)
– Sudden Deaths: (13.3%)
– Drowning: 9.9%
– Poisoning: 5.9%
– Falls: 5.5%
– Electrocution: 3.6%
– Accidental Fire: 2.4%
– Forces of Nature: 2.0%

——————-
10. NCRB की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2020 में ट्रैफिक दुर्घटनाओं में कितने लोगों की मौत हुई?

a. 46,354
b. 1,46,354
c. 2,46,354
d. 3,46,354

Answer: b. 1,46,354

– दुर्घटनाओं में कुल मौतों का 39.1 प्रतिशत ट्रैफिक दुर्घटना का है।

Traffic Accidents details
– Road Accidents : 1,33,201
– Railway Accidents : 11,968
– Railway Crossing Accidents : 1,185

Road Accident details
– Two Wheeler : 43.6%
– Car : 13.2%
– Truck/Lorry : 12.8%
– Three Wheeler/ Auto Rickshaw : 4.1%
– Pedestrian (पैदल) : 8.9%
– Other NonMotorised Transport : 4.0%
– Other Motorised Transport : 10.3%
– Bus : 3.1%


Free Download Notes PDF of Toady’s Current Affairs : – Click Here