12th February 2022 Current Affairs

Spread the love

यह 12th February 2022 का करेंट अफेयर्स है, जो आपके कांपटीटिव एग्‍जाम्‍स में मदद करेगा। इसका PDF Download Link इस पेज के लास्‍ट में मौजूद है। Current Affairs PDF आप इस पेज के आखिरी हिस्‍से से Free में डाउनलोड करें।

1. क्‍वाड मंत्री स्‍तरीय बैठक किस शहर में फरवरी 2022 में आयोजित की गई?

a. दिल्‍ली
b. न्‍यूयार्क
c. टोक्‍यो
d. मेलबर्न

Answer: d. मेलबर्न (ऑस्‍ट्रेलिया)

– मेलबर्न में अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन, ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री मारिस पायने, भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और जापान के विदेश मंत्री योशिमासा हयाशी ने 11 और 12 फरवरी 2022 को मीटिंग की।
– खास बात है कि यह मीटिंग, रूस और नाटो देशों के बीच तनाव और बीजिंग ओलंपिक के दौरान मजबूत हुए रूस-चीन संबंध के बीच हो रहा है।

क्‍वाड क्‍या है?
– QUAD यानी क्वाड्रीलेट्रल सिक्योरिटी डायलॉग।
– क्वाड्रीलेटरल शब्द चतुर्भुज से लिया गया है और इस तरह यहां इसका मतलब निकला चतुर्पक्षीय सुरक्षा संवाद। जैसे बाइलैट्रल या द्विपक्षीय और ट्राईलैट्रल या त्रिपक्षीय होता है वैसे ही क्वाड्रीलेट्रल मतलब चतुर्पक्षीय अर्थात चारपक्षीय या चतुष्कोणीय।
– मैप में इंडिया, जापान, अमेरिका और ऑ‍स्‍ट्रेलिया का चतुर्भुज बनता है।
– क्वाड मूल रूप से इंडो-पैसिफिक रीजन के लिए काम कर रहा है ताकि समुद्री रास्तों से व्यापार जारी रहे।
– असल में हिंद-प्रशांत क्षेत्र इन चारों देशों के लिए एक व्यापारिक समुद्री मार्ग भी है।
– चीन ने दक्षिण चीन सागर पर भी कब्जे की मुहिम छेड़ रखी है।
– यहां तक कि वो कुछ छद्म या नकली द्वीप बनाकर अपने सैनिक तैनात कर रहा है।
– ये सब अंतर्राष्ट्रीय कानूनों की अनदेखी करके किया जा रहा है ।
– चीन को क्वाड फूटी आंख भी नहीं सुहाता।
– वो शुरू से इसके पीछे पड़ा हुआ है ।
– वो इसे वीजिंग विरोधी गुट कहता रहा है।

मीटिंग में क्‍या चर्चा हुई?
– मंत्रियों के समूह ने भारत में निर्मित होने वाले एक अरब से अधिक कोविड टीकों की डिलीवरी में तेजी लाने का संकल्प लिया।
– इस वर्ष जलवायु परिवर्तन पर एक विशेष बैठक आयोजित किया जाएगा।
– क्‍वाड क्षेत्र में समुद्री सुरक्षा सुनिश्चित की जाएगी।

संयुक्‍त बयान
– सभी मंत्रियों ने कहा – हम सभी देशों से यह सुनिश्चित करने का आह्वान करते हैं कि उनके नियंत्रण वाले क्षेत्र का उपयोग आतंकवादी हमलों को शुरू करने के लिए नहीं किया जाता है और इस तरह के हमलों के अपराधियों को शीघ्रता से दंडित किया जाएगा।
– हम 26/11 के मुंबई और पठानकोट हमलों सहित भारत में आतंकवादी हमलों की अपनी निंदा दोहराते हैं।
– इंडो-पैसेफिक क्षेत्र स्‍वतंत्र और खुला रखने की प्रतिबद्धता की पुष्टि करते हैं।

2022 में टोक्‍यों में होगी क्‍वाड समिट
– “2022 की पहली छमाही” में टोक्यो में क्‍वाड समिट होगी।
– जापान के पीएम किशिदा होस्‍ट होंगे।
– इसमें भारतीय पीएम मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति बिडेन और ऑस्ट्रेलियाई पीएम मॉरिसन शामिल होंगे।

क्‍वाड विदेश मंत्रियों की बैठक पर चीन का रुख
– चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने क्वाड को “चीन को नियंत्रित करने के लिए केवल एक उपकरण” कहा है।
– बयान जारी कर चीन ने कहा – “यह टकराव को भड़काने और अंतरराष्ट्रीय एकजुटता और सहयोग को कमजोर करने के लिए एक जानबूझकर कदम है,”।
– प्रवक्ता झाओ लिजान ने बीजिंग में कहा, क्वाड देशों को “पुरानी शीत युद्ध मानसिकता को त्यागना” चाहिए।

——————
2. राज्‍यसभा में पेश आंकड़े के अनुसार बेरोजगारी की वजह से वर्ष 2020 में कितने लोगों ने आत्‍महत्‍या कर ली?

a. 2,741
b. 2,851
c. 3,548
d. 4,654

Answer: c. 3,548

– अनएंप्‍लॉयमेंट की वजह से सुसाइड का यह आंकड़ा राज्‍यसभा में गृह राज्‍यमंत्री नित्‍यानंद राय ने 9 फरवरी 2022 को बताया।
– वर्ष 2018 से 2020 तक 9,140 लोगों ने बेरोजगारी की वजह से आत्‍म हत्‍या की।
– ये आंकड़े NCRB (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्‍यूरो) के हैं, जिन्‍हें संसद में केंद्रीय गृह राज्‍यमंत्री ने पेश किया।
– रिपोर्ट का नाम: Accidental Deaths & Suicides in India 2020

वर्ष : बेरोजगारी की वजह से सुसाइड
2014 : 2,207
2015 : 2,723
2016 : 2,298
2017 : 2,404
2018 : 2,741
2019 : 2,851
2020 : 3,548
सात साल में कुल : 18,772
2018 से 2020 तक 9,140 लोगों ने आत्महत्या की है।

– साल दर साल सुसाइड के मामले बढ़ रहे हैं।
– 2014 की तुलना में 2020 में बेरोज़गारी की वजह से आत्महत्या के मामलों में 60 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
– छह साल में बेरोज़गारी के कारण आत्महत्या के मामलों में 60 प्रतिशत की वृद्धि ख़तरनाक है।
– साल 2014 से 2017 तक कोई ख़ास बदलाव नज़र नहीं आता लेकिन 2020 में बेरोज़गारी के कारण आत्महत्या के मामलों में अचानक से बड़ा उछाल दिखा है।
– JNU के प्रोफेसर शानदार अहमद कहते हैं कि, ये काफ़ी बड़ा बदलाव है, इसे नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता।
– पिछले कुछ सालों से सिर्फ़ सरकारी ही नहीं, बल्कि प्राइवेट नौकरियां भी सिमट रही हैं।

खाली पद
– कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन मंत्रालय में राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने संसद में जानकारी दी कि 1 मार्च 2020 तक केंद्र सरकार के विभागों में 8,72,243 यानी लगभग लगभग पौने नौ लाख पद रिक्त थे।

——————


3. वर्ष 2020 में कुल 1.53 लाख लोगों ने सुसाइड किया, यह रिपोर्ट किस सरकारी संगठन ने जारी की?

a. ICMR
b. NCRB
c. AICET
d. NCB

Answer: b. NCRB

– NCRB : नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्‍यूरो.
– यह गृह मंत्रालय के अंतर्गत आता है।
– यह संगठन क्राइम से संबंधित डेटा को कलेक्‍ट करने और अनैलिसिस करने का काम करता है।

रिपोर्ट का नाम: Accidental Deaths & Suicides in India 2020

वर्ष : सभी तरह के सुसाइड
2016 : 1,31,008
2017 : 1,29,887
2018 : 1,34,516
2019 : 1,39,123
2020 : 1,53,052
– साल दर साल सुसाइड के मामले बढ़ रहे हैं।
– शहरों में सुसाइड रेट काफी ज्‍यादा है।

सुसाइड क्‍या होता है
– अगर कोई पर्सन खुद को मारना चाहे, तो सुसाइड कहते हैं।
– अगर कोई खुद को मारने की बातें करता है, उसको सुसाइडियल बिहैबियर कहते हैं। डिप्रेशन बड़ी वजह है।

——————
4. आत्‍महत्‍या से जुड़े अन्‍य आंकड़े : Accidental Deaths & Suicides in India 2020

नोट :
– सबकी जिंदगी में कोई न कोई प्रॉब्‍लम होता है। किसी की फाइनेंशियली, किसी की सोशली, किसी के इमोशनली।
– जीवन का नाम वही होता है, जो इन प्रॉब्‍लम्‍स के बैरियर को तोड़ते हुए आगे बढ़ें।
– सबसे बड़ा चैलेंज होता है कि आप खुश रहकर चैलेंज का सामना करें।

पांच राज्‍यों में देश का 49.5% सुसाइड
राज्‍य वर्ष 2020
– Maharashtra: 13.0%
– Tamil Nadu: 11.0%
– Madhya Pradesh: 9.5%
– West Bengal: 8.6%
– Karnataka: 8.0%

अन्‍य राज्‍यों में सुसाइड
राज्‍य वर्ष 2020
– Kerala: 5.6%
– Telangana: 5.3%
– Gujarat: 5.3%
– Chhattisgarh: 5.0%
– Andhra Pradesh: 4.6%
– Uttar Pradesh: 3.1%
– Odisha: 3.6%

जेंडर बेस्‍ड सुसाइड
– पुरुष : 1,08,532 (70.9%)
– महिला : 44,498 (29%)
– ट्रांसजेंडर : 22 (0.014%)

उम्र और सुसाइड (वर्ष 2020)
– 18 वर्ष से कम: 11,396 (वर्ष 2019 में 9,613)
– 18 – 30 वर्ष: 52,702 (वर्ष 2019 में 48,774)
– 30-45 वर्ष : 47,992 (वर्ष 2019 में 44,287)
– 45- 60 वर्ष : 27,814 (वर्ष 2019 में 25,436)
– 60 वर्ष से ज्‍यादा : 13,126 (वर्ष 2019 में 11,013)

Mode of Sucides
– Hanging: 57.8%
– Poison: 25.0%
– Drowning (डूबना): 5.2%
– Self Immolation (खुद को जलाना): 3.0%
– Coming under Running Vehicles/Trains: 1.7%
– Jumping: 1.2%

Causes of Suicides During 2019
– Family Problems: 33.6%
– Illness: 18.0%
– Drug Abuse/ Addiction: 6.0%
– Marriage Related Issues: 5.0%
– Love Affairs: 4.4%
– Bankruptcy or Indebtedness: 3.4%
– Failure in Examination: 2.0%
– Unemployment: 2.3% (वर्ष 2019 में 2.0%)
– Failure of Exam: 1.4%
– Professional/Career Problem: 1.2%
– Poverty: 1.2% (वर्ष 2019 में 0.8%)
– Death of Dear Person: 0.9%
– Property Dispute: 0.9%
– Suspected Relation: 0.5%
– Fall in Social Reputation: 0.4%
– Impotency/ Infertility: 0.2%
– Other Causes: 9.8%
– Causes Not Known: 10.4%

Suicide Victims by Profession During 2019
– Daily wage earner: 24.6%
– House wife: 14.6%
– Self-employed: 11.3%
– Unemployed: 10.2%
– Professionals/Salaried: 9.7%
– Students: 8.2%
– Farming Sector: 7.0%
– Retired Persons: 1.0%
– Other: 13.4%
(स्‍टूडेंट और अन इंप्‍लॉयड : 18.4)

स्‍कूल कैरिकुल में शामिल होना चाहिए
– हाई इनकम कंट्री में स्‍कूल-कॉलेजों में जिंदगी की समस्‍याओं और सुसाइड के बारे में बात होती है, पढ़ाया जाता है।
– लेकिन मिडिल और लो इनकम ग्रुप वाले कंट्री जैसे, इंडिया, ब्राजील, रूस इनमें ऐसा नहीं होता है।
– यही वजह से 79 प्रतिशत सुसाइड मिडिल और लो इनकम ग्रुप वाले कंट्री में होता है।

मेंटल हेल्‍थ को लेकर सरकार की योजना
– बजट 2022-23 में केंद्र सरकार ने ‘राष्ट्रीय टेली मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम’ की घोषणा की।
– इस कार्यक्रम में 23 उत्कृष्टता टेली-मानसिक स्वास्थ्य केंद्रों का एक नेटवर्क शामिल होगा, जिसमें निमहंस नोडल केंद्र होगा और अंतरराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान-बैंगलोर (IIITB) तकनीकि सहायता प्रदान करेगा।
– पुरानी योजना : केंद्र सरकार ने सितंबर 2020 में ‘किरण’ हेल्पलाइन सेवा लांच की थी। इसका ल-फ्री हेल्पलाइन नंबर 1800-599-0019 है। लेकिन यह काम नहीं कर रहा है।
– इसका उद्देश्‍य चिंता, डिप्रेशन, पैनिक अटैक, एडजस्टमेंट डिस्ऑर्डर, पोस्ट ट्रॉमैटिक स्ट्रेस डिस्ऑर्डर, सब्सटेंस एब्यूज, सुसाइडल थॉट्स, महामारी के चलते पैदा हुए मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी आपातकालीन सेवाएं उपलब्ध कराना है।

दुनियाभर में सुसाइड
– WHO की रिपोर्ट (2019 में दुनिया भर में आत्महत्या) के अनुसार वर्ष 2019 में, आत्महत्या से 7,00,000 से अधिक लोग मारे गए। यह संख्‍या सभी उम्र के लोगों की है।
– हर 100 में से एक व्‍यक्ति की मौत सुसाइड से हो रही है।
– वर्ष 2030 तक WHO ने आत्‍महत्‍या के मामले को एक तिहाई तक कम करने का लक्ष्‍य रखा है।

——————
5. न्यूजीलैंड ने जम्मू-कश्मीर में किस क्षेत्र में सहायता प्रदान करने के सहयोग ज्ञापन (MoC) पर साइन किया है?

a. ऑटोमोबाइल
b. फार्मिंग
c. इलेक्ट्रोनिक
d. हेल्थकेयर

Answer: b. फार्मिंग

– जम्मू-कश्मीर सरकार ने 09 फरवरी 2022 को न्यूजीलैंड के साथ सहयोग ज्ञापन (MoC) साइन किया।
– इसके तहत न्यूजीलैंड जम्मू-कश्मीर के भेड़ पालन (sheep farming) सेक्टर में मदद करेगा।
– और फार्मिंग सेक्टर में दोगुनी पैदावार बढ़ाने में भी मदद करेगा।
– न्यूजीलैंड, यूएई के बाद जम्मू-कश्मीर सरकार के साथ काम करने वाला दूसरा विदेशी देश बना।
– इस सहयोग ज्ञापन (MoC) को न्यूजीलैंड G2G के कार्यकारी निदेशक मिशा मानिक्स-ओपी और जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के बीच राजभवन में साइन किया गया है।
– इस सहयोग ज्ञापन (MoC) को वर्चुअली साइन किया गया।

जम्मू-कश्मीर में OYO ग्रुप इनिशिएटिव
– जम्मू-कश्मीर सरकार और रितेश अग्रवाल की कंपनी OYO ग्रुप ने 09 फरवरी 2022 को rural home stay लांच करने का फैसला किया।
– इसको ‘Crown of Incredible India’ प्रोजेक्ट के तहत लांच करने का फैसला लिया गया है।

——————
6. सत्‍ता के तख्‍तापलट के बाद बुर्किना फासो का नया राष्ट्रपति कौन बना?

a. कैप्टन सिदसोर कादर औएद्राओगो
b. पॉल-हेनरी सैनडाइगो दामिबा
c. रोच मार्क क्रिश्चियन काबोरे
d. हेनरी एल्फ्रैड

Answer: b. पॉल-हेनरी सैनडाइगो दामिबा

– यह अफ्रीकी देश है। यह लैंड लॉक्‍ड कंट्री है। इसके पड़ोसी देश नाइजर, नाइजीरिया, माली, घाना, टोगो, बेनिन हैं।

– नए राष्‍ट्रपति ‘पॉल-हेनरी सैनडाइगो दामिबा’ इस देश के सैन्‍य कमांडर हैं।
– 10 फरवरी को इस देश की संवैधानिक परिषद ने सैन्‍य लीडर पॉल-हेनरी सैनडाइगो दामिबा को नया राष्‍ट्रपति घोषित किया।
– वह 16 फरवरी 2022 को राजधानी औगाडौगू में राष्ट्रपति के तौर पर शपथ लेंगे।

जनवरी 2022 में हुआ था तख्‍तापलट
– सेना ने 24 जनवरी 2022 को तख्‍तापलट कर राष्‍ट्रपति ‘रोच मार्क क्रिश्चियन काबोरे’ को गिरफ्तार कर लिया था।
– सेना ने उसी वक्‍त उनसे इस्‍तीफा लेकर जेल भेज दिया गया।
– सेना ने देश की संसद को भी भंग कर दिया था।
– जिसके बाद पूरा देश (बुर्किना फासो) का कंट्रोल आर्मी के हाथ में आ गया।

यूएन ने व्यक्त की चिंता
– यूएन सिक्योरिटी काउंसिल ने 09 फरवरी 2022 को “सरकार के असंवैधानिक परिवर्तन” पर चिंता जताई।
– परंतु सैन्य तख्तापलट पर किसी भी प्रकार की टिप्पणी नहीं की हैं।

किन अफ्रीकी देशों में हो चुका हैं तख्तापलट
– इससे पहले 25 अक्टूबर 2021 को सूडान में भी सेना ने तख्तापलट कर दिया था।
– माली में 24 मई 2021 को सेना द्वारा तख्तापलट कर दिया गया था।
– गिनी में 05 सितंबर 2021 को सेना ने तख्तापलट कर दिया था।

——————-
7. टाटा संस ने दूसरी बार ग्रुप का चेयरमैन किसे नियुक्‍त किया?

a. रतन टाटा
b. एन चंद्रशेखरन
c. अजय पिरामल
d. हरीश मानवानी

Answer: b. एन चंद्रशेखरन

– एन चंद्रशेखरन को टाटा संस का दोबारा चेयरमैन बनाया गया है।
– यह नियुक्ति 5 साल के लिए है।
– 11 फरवरी 2022 को कंपनी की बोर्ड बैठक में इसे मंजूरी दी गई।
– एन चंद्रशेखरन पहली बार वर्ष 2017 में चेयरमैन बने थे। उस वक्‍त सायरस मिस्त्री को जबरन हटा दिया गया था।
– उनका कार्यकाल 20 फरवरी 2022 को समाप्‍त हो रहा था।
– अब पुनर्नियुक्ति (रीएप्‍वांइंट्मेंट) के तहत उनका कार्यकाल वर्ष 2027 तक होगा।
– नटराजन चंद्रशेखरन का जन्म तमिलनाडु में मोहानूर गांव में एक किसान परिवार में हुआ था।
– वह टाटा ग्रुप में पिछले 34 सालों से काम कर रहे थे।

देश का सबसे बड़ा बिजनेस ग्रुप है टाटा
– इसमें 29 लिस्टेड कंपनियां हैं।
– यह नमक से लेकर सॉफ्टवेयर तक के सेक्टर में कार्यरत है।
– इसकी कुल लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 25 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा है।
– इसमें IT कंपनी टाटा कंसल्टेंसी (TCS) 14 लाख करोड़ रुपए के साथ सबसे बड़ी है।

काफी महत्वपूर्ण पद है चेयरमैन
– टाटा संस का चेयरमेन, टाटा ग्रुप की सभी कंपनियों का भी प्रमुख होता है।
– टाटा ग्रुप में सबसे बड़ा शेयरधारक टाटा ट्रस्‍ट का है। इसके चेयरमैन रतन टाटा हैं।
– मीडिया में बताया जा रहा है कि उन्‍होंने एन चंद्रशेखरन को दुबारा चेयरमैन बनाने का प्रस्‍ताव रखा था।

——————-
8. सुप्रीम कोर्ट ने रवि चोपड़ा को किस प्रोजेक्‍ट के लिए उच्‍चाधिकारी समिति का अध्‍यक्ष बनाया था, जिससे उन्‍होंने इस्‍तीफा दे दिया?

a. चारधाम
b. चिनाब ब्रिज
c. चंद्रयान 2
d. कोविड वैक्‍सीन

Answer: a. चारधाम

– रवि चोपड़ा पर्यावरणविद हैं।
– सुप्रीम कोर्ट ने उत्‍तराखंड में चार धाम सड़क चौड़ीकरण परियोजना के निष्‍पादन की देखरेख के लिए हाई पावर्ड कमेटी का गठन किया था।
– रवि चोपड़ा उसके अध्‍यक्ष थे।

——————
9. RBI ने द्विमासिक मौद्रिक नीति (bi-monthly monetary policy) समीक्षा (फरवरी 2022) में रेपो रेट बदलाव नहीं किया, यह रेपो दर कितनी है?

a. 3.35 प्रतिशत
b. 4 प्रतिशत
c. 4.35 प्रतिशत
d. 5.35 प्रतिशत

Answer: b. 4 प्रतिशत

– रेपो दर 4 प्रतिशत, रिवर्स रेपो दर 3.35 प्रतिशत और सीमांत स्थायी सुविधा (एमसीएफ) दर 4.25 प्रतिशत पर बरकरार है।
– पिछले कई मौद्रिक नीति समीक्षा के दौरान यही दर बरकरार है।

रेपो रेट (Repurchase Rate or Repo Rate) क्‍या है?
– आसान भाषा में कहें, तो बैंक हमें कर्ज देते हैं और उस कर्ज पर हमें ब्याज देना पड़ता है।
– ठीक वैसे ही बैंकों को भी अपने रोजमर्रा के कामकाज के लिए भारी-भरकम रकम की जरूरत पड़ जाती है और वे भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) से कर्ज लेते हैं।
– इस लोन पर रिजर्व बैंक जिस दर से उनसे ब्याज वसूल करता है, उसे रेपो रेट कहते हैं।

रेपो रेट से आम आदमी पर क्या पड़ता है प्रभाव
– जब बैंकों को कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध होगा यानी रेपो रेट कम होगा तो वो भी अपने ग्राहकों को सस्ता कर्ज दे सकते हैं।
– और यदि रिजर्व बैंक रेपो रेट बढ़ाएगा तो बैंकों के लिए कर्ज लेना महंगा हो जाएगा और वे अपने ग्राहकों के लिए कर्ज महंगा कर देंगे।

रिवर्स रेपो रेट (Reverse Repo Rate)
– यह, रेपो रेट से उलट होता है।
– बैंकों के पास जब दिन-भर के कामकाज के बाद बड़ी रकम बची रह जाती है, तो उस रकम को रिजर्व बैंक में रख देते हैं।
– इस रकम पर आरबीआई उन्हें ब्याज देता है।
– रिजर्व बैंक इस रकम पर जिस दर से ब्याज देता है, उसे रिवर्स रेपो रेट कहते हैं।

आम आदमी पर क्या पड़ता है प्रभाव
– जब भी बाज़ारों में बहुत ज्यादा नकदी दिखाई देती है, आरबीआई रिवर्स रेपो रेट बढ़ा देता है, ताकि बैंक ज्यादा ब्याज कमाने के लिए अपनी रकम उसके पास जमा करा दें।
– इस तरह बैंकों के कब्जे में बाजार में छोड़ने के लिए कम रकम रह जाएगी।
– ताकि महंगाई पर काबू पाया जा सके।
– बाजार में जरूरत से ज्‍यादा नकदी रहने पर महंगाई बढ़ने का खतरा होता है।

मौद्रिक नीति समिति की संरचना इस प्रकार है:
पदेन अध्‍यक्ष – भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांता दास

——————-
10. इजरायल और किस देश ने राजनयिक संबंधों (diplomatic relations) के 30 साल पूरे होने पर 29 जनवरी को जश्न मनाया?

a. रूस
b. चीन
c. भारत
d. केन्‍या

Answer: c. भारत

– भारत ने 17 सितंबर 1950 को इजराइल को मान्यता दी थी, लेकिन दोनों देशों के बीच पूर्ण राजनयिक संबंध 29 जनवरी 1992 को स्थापित हुए थे।
– 29 जनवरी 2022 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो संदेश में कहा, भारत और इजराइल के आपसी संबंधों को आगे ले जाने का इससे बेहतर समय कुछ नहीं हो सकता।
– वहीं इजराइल के प्रधानमंत्री नफ्टाली बेनेट ने कहा, हम इजराइल और भारत के बीच 30 साल पुराने राजनयिक संबंधों की साझेदारी का सम्मान करते हैं।


Free Download Notes PDF of Toady’s Current Affairs : – Click Here